फ्लिपकार्ट ‘समर्थ’: देश के हर कोने से जुड़ रहे हैं लाखों सक्षम हाथ, आत्मनिर्भर बन रहे हैं छोटे उद्यमी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलावाधी Updated Mon, 20 Sep 2021 12:12 PM IST

सार

ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट लाखों एमएसएमई विक्रेताओं और कारीगरों को सहयोग प्रदान कर रही है। 7.5 लाख से अधिक लघु उद्योग फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़े हैं। इसके माध्यम से वे आसानी से अपने उत्पाद लोगों तक पहुंचा रहे हैं।
फ्लिपकार्ट समर्थ
फ्लिपकार्ट समर्थ - फोटो : flipkart
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

देश के हर कोने में अनेकों ऐसे छोटे उद्यमी हैं जो अपनी कला में तो बेहद कुशल हैं, लेकिन उनकी पहुंच काफी सीमित है। सही इंफ्रास्ट्रक्चर के अभाव में इनका कौशल देश के बड़े हिस्से में नहीं पहुंच पाता। इससे इनके उद्यम में वृद्धि नहीं हो पाती, साथ ही इनका जीवन यापन भी काफी मुश्किल से होता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए देश की अग्रणी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ने ‘समर्थ’ नामक एक खास पहल शुरू की है।
विज्ञापन


फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़े 7.5 लाख से ज्यादा लघु उद्योग
फ्लिपकार्ट जो कि लाखों एमएसएमई विक्रेताओं और कारीगरों को बाजारों के नजदीक लाने में अग्रणी रहे हैं, भारत की उन्नति और प्रगति में इन कारीगरों को भरपूर सहयोग प्रदान कर रहे हैं। फ्लिपकार्ट ने अपनी खास पहल ‘समर्थ’ की शुरुआत जुलाई 2019 में की, जिसका प्रमुख उद्देश्य देश के छोटे उद्यमियों, बुनकरों, व हस्तकलाकारों को और उनके व्यापार को ई-कॉमर्स से जोड़ना है। ई-कॉमर्स से जुड़कर उनके व्यापार को राष्ट्रीय स्तर का एक्सपोजर प्रदान किया जाता है, जिससे उनके उत्पाद लोकल न होकर ग्लोबल हो जाते हैं। ऑनलाइन माध्यम से उद्यमी देशभर में अपने उत्पाद पहुंचा सकते हैं। इसके लिए फ्लिपकार्ट ढेरों एनजीओ व सरकारी संस्थानों के साथ कार्य कर रहा है। बता दें कि अबतक 7.5 लाख से ज्यादा लघु उद्योग फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़ चुके हैं।

महिलाओं को आर्थिक रूप से सक्षम बनाता है फ्लिपकार्ट समर्थ
इसी क्रम में कुल्लू की रहने वाली ऋतु, रामकली, और कौशल्या ने भी फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़ कर अपने कौशल को देश भर में पहुंचाया। कुल्लू की रहने वाली ये महिला बुनकर वहां के पारंपरिक परिधान बनाती हैं। पहले ये परिधान कुल्लू की ही लोकल मार्केट में पहुंचाए जाते थे। लेकिन फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़ने के बाद इन महिला बुनकरों के उत्पाद पूरे देश में उपलब्ध कराए जा रहे हैं। हिमांचल सरकार की खास योजना एनएलयूएम (National Urban Livelihood Mission) के साथ मिलकर फ्लिपकार्ट समर्थ इन महिलाओं को आर्थिक रूप से सक्षम बना रहा है। साथ ही इनके उत्पादों की गुणवत्ता को बेहतर करने के लिए इन्हें आवश्यक ट्रेनिंग व प्रशिक्षण भी प्रदान करता है। हमसे बात करते हुए ऋतु, रामकली और कौशल्या ने कहा कि पहले हमें अपने उत्पाद को बेचने में काफी समस्या होती थी, अब फ्लिपकार्ट से जुड़ने के बाद हमारे उत्पाद आसानी से लोगों तक पहुंच जाते हैं।

फ्लिपकार्ट की मदद से देशभर में अपने उत्पाद पहुंचा रहे उद्योग 
पिछले कुछ वर्षों में ई-कॉमर्स ने लघु उद्योगों के आगे बढ़ने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है, खासतौर पर कोरोना महामारी के बाद से ई-कॉमर्स की भूमिका काफी बढ़ गई है। ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म की सहायता से आज लघु उद्योग भी देशभर में अपने उत्पाद पहुंचा पा रहे हैं। इसके अतिरिक्त ई-कॉमर्स, छोटे उद्यमियों को ट्रेनिंग, टेक्नोलॉजी व आर्थिक सहायताएं भी प्रदान कर रहे हैं। इसी क्रम में फ्लिपकार्ट भी लघु उद्यमों को ऊपर उठाने के लिए नित्य नवीन प्रयोग कर रहा है।

 

उत्पन्न हो रहे हैं रोजगार के ढेरों अवसर
हिमांचल सरकार के हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी, श्री संजय कुमार का कहना है कि NULM के द्वारा हमारा लक्ष्य सामाजिक व रोजगार समस्या का समाधान ढूंढना है। इसी क्रम में हमने फ्लिपकार्ट समर्थ से जुड़कर अपनी पहल को मजबूत किया। फिल्पकार्ट के साथ हमने यहां के बुनकरों को ग्लोबल मार्केट प्रदान कराया। साथ ही इनकी उत्पादन प्रक्रिया को हमने और भी बेहतर बनाया। इसके अतिरिक्त उन्हें सरकार द्वारा आवश्यक आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाती है। बता दें कि अबतक फ्लिपकार्ट समर्थ द्वारा 25 राज्यों में लाखों स्वउद्यमी लाभ प्राप्त कर रहे हैं। साथ ही देश के पारंपरिक उत्पाद भी कोने-कोने तक पहुंच रहे हैं। जिससे रोजगार के ढेरों अवसर उत्पन्न हो रहे हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00