ईडी की कार्रवाइ: फर्जी डिग्री मामले में शिलांग के यूनिवर्सिटी व प्रवर्तक की 13 करोड़ की संपत्ति अटैच

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अभिषेक दीक्षित Updated Fri, 03 Dec 2021 09:03 PM IST

सार

ईडी ने मेघालय पुलिस की सीआईडी द्वारा दाखिल एफआईआर व आरोपपत्र के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू की है। आरोप है कि झा ने हजारों छात्रों के साथ फर्जी डिग्रियां देकर धोखाधड़ी की।
प्रवर्तन निदेशालय
प्रवर्तन निदेशालय - फोटो : social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

फर्जी डिग्री मामले से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग जांच में प्रवर्तन निदेशालय ने शिलांग के सीएमजी विश्वविद्यालय, उसके प्रवर्तक कुलपति चंद्र मोहन झा व उनके परिवार की 13 करोड़ से अधिक की संपत्ति अटैच कर ली है। ईडी अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि चंद्र मोहन झा सीएमजी फाउंडेशन के ट्रस्टी भी हैं। ईडी ने बैंक खातों, एफडी, म्यूचुअल फंड, बीमा पॉलिसी और अचल संपत्तियां जब्त करने का अनंतिम आदेश जारी किया था जिसके तहत यह कार्रवाई की गई।
विज्ञापन


ईडी ने मेघालय पुलिस की सीआईडी द्वारा दाखिल एफआईआर व आरोपपत्र के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू की है। आरोप है कि झा ने हजारों छात्रों के साथ फर्जी डिग्रियां देकर धोखाधड़ी की। उसकी छोटी सी फैकल्टी के बावजूद सीएमजे विश्वविद्यालय  ने 20,570 डिग्रियां गैरकानूनी ढंग से बांटीं। यही नहीं इन डिग्रियों पर जो दस्तखत थे उन पर भी संदेह है। 


जांच में पाया गया कि इन फर्जी डिग्रियां बेच कर मिली रकम आरोपी के बैंक खातों में आई जिसे विभिन्न बैंक खातों में स्थानांतरित किया गया। इस पैसे का इस्तेमाल परिवार के सदस्यों के नाम पर म्यूचुअल फंड, एफडी, बीमा पॉलिसी और अचल संपत्ति खरीदने में किया गया। ईडी अब तक इस मामले में कुल 41.20 करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच कर चुका है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00