Hindi News ›   Business ›   India is the fifth country in the world to receive the highest foreign investment according to a UN report

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट: भारत सबसे ज्यादा विदेशी निवेश पाने वाला दुनिया का पांचवा देश

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, संयुक्त राष्ट्र Published by: Kuldeep Singh Updated Tue, 22 Jun 2021 07:58 AM IST

सार

  • महामारी की वजह से वैश्विक स्तर पर डिजीटल बुनियादी ढांचे एवं सेवाओं की मांग में तेजी आई
  • सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आईसीटी उद्योग में अधिग्रहण और निर्माण क्षेत्र में मजबूत निवेश से भारत को बल मिला।
  • आईसीटी उद्योग के लिए ग्रीनफील्ड एफडीआई और परियोजना घोषणाओं का मूल्य 22% से ज्यादा बढ़कर 81 अरब डॉलर हुआ।
FDI
FDI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

महामारी के बीच भारत 2020 में सबसे ज्यादा एफडीआई पाने वाला दुनिया का पांचवा देश बन गया। संयुक्त राष्ट्र की सोमवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल देश में 64 अरब डॉलर का एफडीआई आया। जून 2019 के 51 अरब डॉलर से 27 फीसदी ज्यादा है।

विज्ञापन


संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में दावा, तकनीकी उद्योग में अधिग्रहण से बड़ा एफडीआई प्रवाह
व्यापार एवं विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (अंकटाड) की रिपोर्ट में कहा गया है कि सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आईसीटी उद्योग में अधिग्रहण और निर्माण क्षेत्र में मजबूत निवेश से भारत को बल मिला। हालांकि आर्थिक गतिविधियों पर हम महामारी की दूसरी लहर का प्रकोप काफी गहरा था। 


रिपोर्ट के मुताबिक महामारी की वजह से वैश्विक स्तर पर डिजीटल बुनियादी ढांचे एवं सेवाओं की मांग में तेजी आई। इससे आईसीटी उद्योग के लिए ग्रीनफील्ड एफडीआई और परियोजना घोषणाओं का मूल्य 22% से ज्यादा बढ़कर 81 अरब डॉलर हो गया।

इनमें आईटीसी इंफ्रास्ट्रक्चर में अमेजन का 2.8 अरब डॉलर का निवेश भी शामिल है। हालांकि ग्रीन फील्ड परियोजनाओं के मोर्चे पर भारत का विदेशी निवेश 19% घटकर 24 अरब डॉलर रहा बावजूद इसके पीएलआई योजना निर्यात संवर्धन योजना तरजीही निवेश क्षेत्र बनाने से विदेशी कारोबारियों का भरोसा बढ़ा। सरकार के नीतिगत सुधार काफी कारगर रहे।

बड़े सौदों ने बढ़ाया निवेश 
भारत में एफडीआई बढ़ाने में बड़े सौदों की अहम भूमिका रही है। फेसबुक ने जियो प्लेटफार्म में 5.7 अरब डॉलर का निवेश किया। कनाडा की ब्रूकफील्ड इंफ्रास्ट्रक्चर, सिंगापुर की जीआईसी ने 3.7 अरब डॉलर में टावर इंफ्रास्ट्रक्चर ट्रस्ट का अधिग्रहण किया। युनिलीवर इंडिया का 4.6 अरब डॉलर में ग्लैस्कोस्मिथक्लाइन इंडिया में विलय हुआ है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00