भारत बांड ETF से जुटाए गए 10,000 करोड़ रुपये, मिला तीन गुना से ज्यादा सब्सक्रिप्शन

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: ‌डिंपल अलवधी Updated Sat, 18 Jul 2020 03:15 PM IST
ईटीएफ
ईटीएफ
विज्ञापन
ख़बर सुनें
भारत बांड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) के दूसरे चरण को तीन गुना से अधिक अभिदान मिला है और इसने करीब 10,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। भारत बांड ईटीएफ 14 जुलाई को खुला था और यह शुक्रवार को बंद हुआ। 
विज्ञापन


निर्गम का मूल आकार 3,000 करोड़ रुपये का था। इसमें 11,000 करोड़ रुपये का ग्रीन-शू विकल्प भी था। इस तरह निर्गम का कुल आकार 14,000 करोड़ रुपये है। 

निवेश एवं लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांत पांडेय ने ट्वीट कर कहा कि, 'भारत बांड ईटीएफ के दूसरे चरण को काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली। इसे तीन गुना से अधिक अभिदान मिला। इसमें करीब 10,000 रुपये जुटे हैं।' उन्होंने कहा कि अभी इसका अंतिम आंकड़ा आना है। 


तीन साल और 10 साल है निश्चित परिपक्वता
इसे सोमवार को जारी किया जाएगा। भारत बांड ईटीएफ की निश्चित परिपक्वता तीन साल और 10 साल हैं। दिसंबर, 2019 में इसके पहले चरण में 12,400 करोड़ रुपये जुटाए गए थे। अभी ईटीएफ सिर्फ ट्रिपल ए रेटिंग वाले सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के बांड में निवेश करता है।

इस स्कीम के जरिए छोटी और लंबी दोनों अवधियों के निवेशकों को ध्यान में रखा गया है। लंबी अवधि का नजरिया रखने वाले निवेशक दस साल के लिए इस स्कीम में निवेश कर सकते हैं। दस साल के तहत ईटीएफ की मैच्योरिटी 2031 में खत्म होगी। वहीं छोटी अवधि वालों के लिए ईटीएफ की मैच्योरिटी 2025 यानी कि पांच साल में खत्म हो जाएगी।

इस स्कीम का 25 फीसदी हिस्सा रिटेल निवेशकों के लिए आरक्षित किया हुआ है और बाकी बचा 75 फीसदी हिस्सा रिटायरमेंट फंड्स, क्यूआईबी और गैर संस्थागत निवेशकों के लिए उपलब्ध है। बता दें कि ये देश का पहला कॉरपोरेट डेट ईटीएफ है। इसकी शुरुआत निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग और डिजाइन और प्रबंधन एडलवेइस एसेट मैनेजमेंट कंपनी ने किया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00