बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पंजाब: पठानकोट में गड्ढे में डूबने से बच्चे की मौत, लुधियाना में बुजुर्ग ने नहर में छलांग लगा दी जान

संवाद न्यूज एजेंसी, पठानकोट/लुधियाना/रोपड़ (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Wed, 14 Jul 2021 11:04 PM IST

सार

पंजाब के पठानकोट में खेलते वक्त पैर फिसलने से 10 साल के बच्चे की गड्ढे में डूबने से मौत हो गई। उधर, लुधियाना में 60 साल के बुजुर्ग ने नहर में छलांग लगाकर जान दे दी। बताया जा रहा है कि बुजुर्ग दूसरी शादी के बाद भी औलाद न होने से परेशान था।
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

पठानकोट के नरोट जैमल सिंह में अपनी मौसी के घर छुट्टियां बिताने आए 10 वर्षीय बालक की पानी से भरे गड्ढे में डूबने से मौत हो गई। मंगलवार देर शाम मौसी के घर से कुछ ही दूरी पर खेलने गए साहिल का पैर फिसल गया और वह गहरे गड्ढे में गिर गया। कुछ लोगों ने उसे निकाला और नरोट जैमल सिंह अस्पताल लेकर गये, वहां से उसे रेफर कर दिया गया।
विज्ञापन


पठानकोट सिविल अस्पताल में पहुंचकर साहिल की मौत हो गई। साहिल के पिता रछपाल सिंह निवासी गांव सुंदरचक्क ने बताया कि कुछ दिन पहले उसका बेटा साहिल नरोट जैमल सिंह में अपनी मौसी के घर गया था। 


मंगलवार शाम के करीब छह बजे वह गांव के बाहर ही कुछ दूरी पर खेलने चला गया। इसी दौरान बरसाती पानी से भरे गहरे गड्ढे में उसका पैर फिसल गया और वह गड्ढे में गिर गया, जिसे गांव के कुछ लोगों ने बाहर निकाला और उसके लड़के को तुरंत नरोट अस्पताल में भर्ती करवाया, परंतु नरोट अस्पताल में डॉक्टर न होने के कारण मौजूदा स्टाफ ने उन्हें पठानकोट रेफर कर दिया। वहां डॉक्टरों ने बेटे को मृत घोषित किया। 

इसके बाद गांववासियों ने स्वास्थ्य विभाग और पंजाब सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया। लोगों ने कहा कि सीमावर्ती कस्बे नरोट जैमल सिंह में सेहत सुविधाएं उपलब्ध न होने से साहिल की मौत हुई है। अगर समय रहते साहिल को उपचार मिल जाता तो उसकी जान बच सकती थी। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X