लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   NIA raids former Sarpanch house in Abohar of Punjab

Punjab: अबोहर में पूर्व सरपंच दलीप बिश्नोई और तरनतारन में वकील के घर पर NIA का छापा

संवाद न्यूज एजेंसी, अबोहर/तरनतारन (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Wed, 30 Nov 2022 01:22 AM IST
सार

एडवोकेट बलदेव सिंह गिल ने बताया कि एनआईए के छापे गैर-कानूनी हैं। उन्होंने कहा कि बिना वजह वकीलों को निशाना बनाया जा रहा है। छापो के खिलाफ वकीलों ने हड़ताल करके एनआईए के खिलाफ रोष जाहिर किया। 

एनआईए।
एनआईए। - फोटो : एएनआई
विज्ञापन

विस्तार

पंजाब के अबोहर जिले के गांव बिशनपुरा निवासी पूर्व सरपंच दलीप बिश्नोई के घर पर एनआई की टीम ने दबिश दी लेकिन दलीप बिश्नोई इससे पूर्व ही घर से फरार हो गया। इसके बाद करीब चार घंटे तक टीम ने उसके घर पर जांच पड़ताल की और दो दिन में उसे दिल्ली आफिस में पेश होने का नोटिस दिया है।



एनआईए टीम के करीब आधा दर्जन अधिकारी बड़ी संख्या में कमांडो फोर्स के साथ मंगलवार सुबह गांव बिशनपुरा पहुंचे लेकिन किसी प्रकार से टीम के आने की भनक लगते ही दलीप बिश्नोई घर से निकल गया। सूत्रों ने बताया कि कमांडो फोर्स ने घर के चारों ओर घेराबंदी कर ली और करीब चार घंटे तक पूरे घर की सघन तलाशी ली। 


टीम ने उसके घर से क्या बरामद किया, इसकी सूचना नहीं मिल पाई लेकिन पता चला है कि जाते समय टीम ने उसके घर पर नोटिस चिपकाया है जिसमें दलीप बिश्नोई को दो दिनों में दिल्ली में पेश होने को कहा गया है। ज्ञात हो कि गैंगस्टरों के बारे में जांच पड़ताल करने वाली एनआईए की टीम का पूर्व सरपंच दलीप बिश्नोई के घर पर रेड करने के बारे में कई प्रकार की चर्चाएं हो रही हैं। दलीप बिश्नोई ट्रक यूनियन का पूर्व प्रधान भी रहा है। इससे पूर्व लारेंस बिश्नोई के घर पर भी एनआईए की टीम ने छापा मारा था।

एडवोकेट के घर छापा
उधर, तरनतारन में बार एसोसिएशन के सदस्य एडवोकेट हीरा सिंह संधू के गांव मरहाणा स्थित आवास पर सुबह छह बजे राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम ने छापा मारा। एडवोकेट हीरा सिंह संधू अपने बड़े भाई गुरदयाल सिंह संधू के साथ गांव मरहाणा में रहते हैं। मंगलवार सुबह एडवोकेट संधू अपने भाई के साथ घर में जब मौजूद थे तो एनआईए की टीम ने दबिश दी। 

छापे के दौरान दोनों भाइयों को कमरे में बंद करके पूछताछ की गई। जिसका पता चलते ही बार एसोसिएशन के अध्यक्ष एडवोकेट बलदेव सिंह गिल अन्य वकीलों समेत मौके पर पहुंचे। परंतु एनआईए के अधिकारियों ने छापा मारने की वजह बाबत कोई जानकारी नहीं दी। एडवोकेट बलदेव सिंह गिल ने बताया कि एनआईए के छापे गैर-कानूनी हैं। उन्होंने कहा कि बिना वजह वकीलों को निशाना बनाया जा रहा है। छापो के खिलाफ वकीलों ने हड़ताल करके एनआईए के खिलाफ रोष जाहिर किया। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00