लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chhattisgarh ›   Bhanupratappur Bypoll Election Result 2022 Vote Counting in Chhattisgarh Savitri Manoj Mandavi News in Hindi

Bhanupratappur Bypoll Result 2022: कांग्रेस की हैट्रिक, सावित्री मंडावी ने 21171 वोटों से ब्रह्मानंद को हराया

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कांकेर Published by: मोहनीश श्रीवास्तव Updated Thu, 08 Dec 2022 02:40 PM IST
सार

छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल की सरकार बनने के बाद से उपचुनावों में कांग्रेस ने कई रिकार्ड बना दिए हैं। साल 2018 के बाद से कांग्रेस एक भी उपचुनाव नहीं हारी है। उसने यह रिकार्ड भानुप्रतापपुर उपचुनाव में भी बरकरार रखा। साथ ही अपनी परंरपरागत सीट को बचाते हुए सातवीं बार यहां कब्जा किया है। 

परिणाम आने के बाद विक्ट्री का साइन बनाती कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री मंडावी।
परिणाम आने के बाद विक्ट्री का साइन बनाती कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री मंडावी। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन

विस्तार

छत्तीसगढ़ के भानुप्रतापपुर उपचुनाव में एक बार फिर कांग्रेस का जादू चला है। आदिवासी आरक्षण को लेकर तमाम विरोध के बावजूद कांग्रेस की उम्मीदवार सावित्री मंडावी ने जीत दर्ज की है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी भाजपा के ब्रह्मानंद नेताम को 21 हजार से ज्यादा वोटों से शिकस्त दी है। हालांकि इसकी आधिकारिक घोषणा अभी नहीं की गई है। इस चुनाव में छाप छोड़ी पूर्व IPS और सर्व आदिवासी समाज के उम्मीदवार अकबर राम कोर्राम ने। उन्होंने जोरदार टक्कर दी। खास बात यह है कि बाकी चार प्रत्याशियों से ज्यादा वोट नोटा को मिले हैं। 



पहले राउंड से ही कांग्रेस प्रत्याशी ने बनाई बढ़त
कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री मंडावी पहले राउंड से ही बढ़त बनाए हुए थीं। यह सिलसिला जो शुरू हुआ, वह आखिरी राउंड तक कायम ही रहा। इस चुनाव में सबसे ज्यादा दम सर्व आदिवासी समाज के प्रत्याशी अकबर राम कोर्राम ने दिखाया। शुरू से माना जा रहा था कि मुख्य टक्कर भाजपा और कांग्रेस के बीच है, लेकिन अकबर राम कोर्राम ने एक राउंड में ब्रह्मानंद को पछाड़ दिया। हालांकि इसके बाद उन्होंने काफी संघर्ष के बाद बढ़त बनाई। फिर भी अंतर अकबर से कुछ ज्यादा नहीं रहा। 



इस तरह बढ़ता गया जीत का सिलसिला
 
मतगणना राउंड सावित्री मंडावी (कांग्रेस) ब्रह्मानंद नेताम (भाजपा) अकबर राम कोर्राम (सर्व आदिवासी समाज समर्थित)
पहला 3397 1490 1196
दूसरा 2415 1488 2143
तीसरा 3780 1381 1657
चौथा 3732 1325 1635
पांचवां 2809 1433 2522
छठवां 3617 2703 464
सातवां 3306 2027 3032
आठवां 3604 2377 1331
नौवां 1554 3554 1247
10वां  3627 2119 1423
11वां 4031 3590 677
12वां 3164 2578 1559
13वां 3837 2084 841
14वां 4150 3420 810
15वां 3384 4012 646
16वां 3982 3486 684
17वां  3824 2225 288
18वां 3775 3153 1037
19वां 1297 1084 179
कुल वोट 65327  44229 23371

छठवें राउंड के बाद ही कांग्रेस में शुरू हो गया जश्न
भाजपा उम्मीदवार के लगातार पीछे चलने के चलते कार्यकर्ताओं का भी जोश ठंडा हो गया। छठवें राउंड के बाद ही उन्होंने लौटना शुरू कर दिया था। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के खेमे में ढोल और पटाखों के साथ जश्न का माहौल अंगड़ाई ले रहा था। इसका नजारा दिखना शुरू भी हो गया था। आठवें राउंड के समाप्त होने के बाद ही पटाखे चलने लगे। कार्यकर्ताओं के इस जोश में पीसीसी चीफ मरकाम भी शामिल हुए। वहीं आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने डांस करना शुरू कर दिया। 

पहली बार कांग्रेस की हैट्रिक
दरअसल, साल 1962 में भानुप्रतापपुर विधानसभा सीट वजूद में आई थी।  इसके बाद से 13 विधानसभा चुनाव हो चुके हैं। इनमें से कांग्रेस ने छह बार जीत दर्ज की है। हालांकि 1985 से कांग्रेस के साथ भाजपा भी मैदान में हैं। दोनों पार्टी के उम्मीदवारों ने लगातार दो बार तो जीत दर्ज की है, लेकिन हैट्रिक कोई नहीं लगा सका था। कांग्रेस इस रिकार्ड को तोड़ने का दावा किया और तीसरी बार भानुप्रतापपुर सीट अपने नाम कर ली। 

प्रत्याशियों से ज्यादा नोटा को मिले वोट
 
भानुप्रतापपुर उपचुनाव में कुल सात प्रत्याशी मैदान में थे। इनमें से असल मुकाबला तीन उम्मीदवारों के बीच ही हुआ। बाकी चार उम्मीदवारों से ज्यादा वोट तो नोटा को मिले। जबकि दो प्रत्याशियों की जमानत तक जब्त हो गई। 
 
प्रत्याशी  पार्टी वोट
ब्रह्मानंद नेताम भाजपा 44229
सावित्री मंडावी कांग्रेस 65327
के.घनश्याम जुरी गोंडवाना गणतंत्र पार्टी  2479
शिवलाल पूडो अंबेडकराइट पार्टी  1337
हीरा नेताम राष्ट्रीय जन संघ 813
अकबर राम कोराम सर्व आदिवासी समाज 23417
दिनेश कल्लो  निर्दलीय 3851
नोटा   4243

सावित्री मंडावी ने कहा- लोगों की समस्या दूर करना लक्ष्य
कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री मंडावी ने कहा कि जनता ने उन पर भरोसा जताया है। अब उनका एक ही लक्ष्य है कि वह लोगों के बीच जाएं। उनकी समस्याओं को सुनें और उसे दूर करें। साथ ही साथ वह अपने पति के अधूरे कामों और सपनों को भी पूरा करना चाहती हैं। भानुप्रतापपुर को जिला बनाने के सवाल पर कहा कि वह भूपेश बघेल सरकार के हाथ में है, लेकिन यहां के लोगों की बात वह उनके सामने जरूर रखेंगी। 

शिक्षिका की नौकरी छोड़ राजनीति के मैदान में उतरीं
भानुप्रतापपुर से कांग्रेस विधायक और विधानसभा के उपाध्यक्ष रहे दिवंगत मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी एक शिक्षिका रही हैं। वह रायपुर के कटोरा तालाब स्थित एक सरकारी स्कूल में व्याख्याता थीं। चुनाव की घोषणा होने के बाद उन्होंने शिक्षिका के पद से इस्तीफा दे दिया था। तभी से कयास लगाए जा रहे थे कि कांग्रेस उन्हें पति की सीट पर उम्मीदवार बनाएगी। 

सीएम बोले- सरकार के लिए जनता का विश्वास कायम
कांग्रेस प्रत्याशी की जीत पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि, सरकार के लिए जनता का विश्वास कायम है। उन्होंने कहा कि, भाजपा दूसरे और तीसरे स्थान के लिए संघर्ष करती रही। मनोज मंडावी के काम से ये जीत हुई है। उनके कामों के कारण जनता ने उनकी पत्नी पर प्यार लुटाया और भरोसा जताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि, लगातार जितने उपचुनाव हुए हैं कांग्रेस अच्छे वोटों से जीती है। जनता का समर्थन बना हुआ है। इसे बनाकर रखेंगे और उनकी उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। 



भाजपा ने आदिवासियों का लड़ाने का काम किया
मंत्री कवासी लखमा ने कहा कि सरकार आदिवासी हित की सरकार है. भाजपा ने हमारे आदिवासियों को लड़ाने की कोशिश की, जिसका नतीजा उनको चुनाव में देखने को मिल गया है. मंत्री लखमा ने कहा, अकबर कोर्राम हमारे आदिवासी भाई हैं. हम कभी लड़ नहीं सकते. मंत्री लखमा ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाकर कार्यकर्ताओं के साथ खुशी मनाई। 

विधान सभा भानुप्रतापपुर के अबतक के विधायक 
साल प्रत्याशी पार्टी
1962   राम प्रसाद निर्दलीय
1967 जे हथोई पीएसपी
1972 सत्यनारायण सिंह कांग्रेस
1979  प्यारेलाल सुखलाल सिंह जनता पार्टी
1980   गंगा पोटाई कांग्रेस  
1985 गंगा पोटाई  कांग्रेस 
1990 झाड़ूराम रावटे निर्दलीय 
1993 देवलाल दुज्गा भाजपा 
1998  मनोज मंडावी  कांग्रेस
2003  देवलाल दुज्गा भाजपा
2008 ब्रम्हानंद नेताम भाजपा
2013  मनाेज मंडावी कांग्रेस 
2018 मनेाज मंडावी  कांग्रेस  
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00