Hindi News ›   Uttarakhand ›   firing by groom in marriage

घोड़ी से उतरकर दूल्हे ने चलाई गोली, चली गई भाई की जान

ब्यूरो/अमर उजाला, देहरादून Updated Sun, 24 Apr 2016 01:08 PM IST

सार

  • वीडियो फुटेज से चला पता दूल्हे ने ही ले ली चचेरे भाई की जान 
  • खाली हाथ लौटी बारात, दोस्त की सर्विस पिस्टल से की थी फायरिंग
Firing
Firing
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

प्रेमनगर इलाके में हर्ष फायरिंग के दौरान दूल्हे के चचेरे भाई की मौत सरकारी पिस्टल से हुई थी। पुलिस ने इस मामले में दूल्हे और एसओजी में तैनात सिपाही पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। आईजी संजय गुंज्याल के मुताबिक वीडियो फुटेज से पता चला है कि दूल्हे के हर्ष फायर करने के दौरान एक गोली उसके ही चचेरे भाई को लगी, जिससे उसकी जान चली गई।

विज्ञापन


शुक्रवार देर रात प्रेमनगर थाना स्थित झाझरा पुलिस चौकी में तैनात कांस्टेबल मोनू सिंह की बारात हल्द्वानी से देहरादून के प्रेमनगर इलाके में आई थी। बारात दुल्हन की दहलीज पर पहुंची ही थी कि एसओजी देहरादून में तैनात दूल्हे के दोस्त अमित कुमार निवासी लक्सर हरिद्वार ने अपनी सर्विस पिस्टल से हवा में दो फायर कर दिए।


इसी बीच दूल्हा भी घोड़ी से उतरा और अमित से पिस्टल लेकर फायरिंग करने लगा तो एक गोली उसके ही चचेरे भाई राजकुमार को लग गई। घायल राजकुमार को फौरन प्रेमनगर सरकारी अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इधर हर्ष फायरिंग में मौत होने के बाद बारात बैरंग लौट गई।

शादी की वीडियो फुटेज से खुला मामला

मोबाइल वीडियो, एमएमएस
मोबाइल वीडियो, एमएमएस - फोटो : फाइल फोटो
मामले में आईजी संजय गुंज्याल ने बताया कि पुलिस के पास पूरे समारोह की वीडियो फुटेज है। इसकी जांच होने के बाद शनिवार सुबह पुलिस ने दूल्हे मोनू कुमार और एसओजी सिपाही अमित कुमार को गिरफ्तार कर लिया। अमित पर सर्विस पिस्टल का गलत इस्तेमाल करने और दूल्हे पर चचेरे भाई की गैर इरादतन हत्या करने का आरोप है। 

मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू हो गई है। सरकारी असलहे का गलत इस्तेमाल करने पर विभागीय कार्रवाई अलग से की जा रही है। हर्ष फायरिंग जैसे मामले को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
-डॉ. सदानंद दाते, एसएसपी देहरादून

कोर्ट के आदेशों का नहीं होता पालन 
सुप्रीमकोर्ट ने शादी और बारातों समेत अन्य मौकों पर होने वाली हर्ष फायरिंग रोकने के सख्त आदेश दिए हैं पर इन आदेशों पर पुलिस की अनदेखी से अमल होता नहीं दिखाई देता है। इसकी गवाही शुक्रवार रात पुलिस के सिपाही की बारात में खुलेआम सरकारी असलहे से हर्ष फायरिंग होना और एक युवक की जान चले जाना बेहद अफसोसजनक है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00