INDW vs AUSW: झूलन ने हासिल की खास उपलब्धि, पूरे किए 600 विकेट, डे-नाइट टेस्ट को लेकर कही ये बात

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, मैकॉई Published by: मुकेश कुमार झा Updated Sun, 26 Sep 2021 04:52 PM IST

सार

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की अनुभवी गेंदबाज झूलन गोस्वामी क्रिकेट करियर में 600 विकेट लेने वाली गेंदबाज बन गई हैं।
झूलन गोस्वामी
झूलन गोस्वामी - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की अनुभवी गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वन-डे मैच एक खास उपलब्धि हासिल की। वह इस मैच में तीन विकेट झटके। इसके साथ वह क्रिकेट करियर में 600 विकेट लेने वाली गेंदबाज बन गई हैं। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान मेग लर्निंग को आउट कर उन्होंने यह उपल्बिध हासिल की। झूलन ने 10 ओवर्स में 37 रन देकर तीन विकेट झटके। टीम इंडिया की जीत में झूलन ने अहम भूमिका निभाई। झूलन ने इन 600 विकेट में 337 विकेट अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ली हैं। 38 साल की झूलन ने टेस्ट में 41 टेस्ट, वन-डे में 240 और टी-20 में  56 विकेट हासिल किए हैं। इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में उनके नाम 264 विकेट दर्ज हैं। 
विज्ञापन

 

दो विकेट से जीता भारत
भारतीय महिला टीम ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे वन-डे में दो विकेट से हरा दिया। इस जीत के साथ टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के वन-डे में विजय रथ को रोक दिया। इससे पहले कंगारू महिला टीम 26 वन-डे लगातार जीत चुकी थी और वह 27वीं जीत की तलाश में थी। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को जीत लिए 265 रनों का लक्ष्य दिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने तीन गेंद शेष रहते ही 266 रन बनाकर जीत दर्ज की। भारत की लक्ष्य का पीछा करते हुए यह सबसे बड़ी जीत है। इस जीत के बावजूद भारतीय टीम ने सीरीज 1-2 से गंवा दी। टीम इंडिया की इस जीत में झूलन गोस्वामी और पूजा वस्त्रकार ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इन दोनों गेंदबाजों ने तीन-तीन विकेट लिए। वहीं, बल्लेबाजी में शेफाली वर्मा और यास्तिका भाटिया ने अर्धशतक जड़े।  

सीनियर गेंदबाज के तौर पर उदाहरण पेश करना चाहती थी
जीत के बाद झूलन ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'सीनियर खिलाड़ी के तौर पर जिम्मेदारी लेना चाहती थी। हम बस आखिर तक मैच में बने रहने और सही तरीके से खेल खत्म करने की कोशिश कर रहे थे। दूसरे वन-डे में गेंदबाजों के लिए परिस्थितियां मुश्किल थी और आज सीनियर गेंदबाज के तौर पर मैं उदाहरण पेश करना चाहती थी। मैं नई गेंद का अच्छी तरह से इस्तेमाल करना चाहता थी।' 

पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने को लेकर रोमांचित
उन्होंने आगे कहा, 'मुझे पता था कि मुझे विकेट मिल सकती हैं। मैंने यही किया था। मैदान में अपना सर्वश्रेष्ठ देना, सकारात्मकता बनाए रखना महत्वपूर्ण है और सीनियर खिलाड़ी के तौर में यही मैं यही करना चाहती थी।' झूलन ने कहा, 'लगातार एक के बाद एक मैच खेलने से थोड़ी थकावट है लेकिन हम पहली बार डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने को लेकर रोमांचित हैं।'

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00