बाउंड्री पर फैसला और कठघरे में अंपायरिंग, क्या विश्व कप में न्यूजीलैंड के साथ धोखा हुआ?

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Published by: Rohit Ojha Updated Tue, 16 Jul 2019 08:41 PM IST
न्यूजीलैंड क्रिकेट
1 of 5
विज्ञापन
क्रिकेट के इतिहास के पन्नों में छठे विश्व विजेता के रूप में इंग्लैंड का नाम दर्ज हो चुका है, लेकिन इंग्लैंड को विजेता बनाने के फैसले ने क्रिकेट के नियमों और आईसीसी तक को चुनौती दे डाली है। फाइनल के बाद क्रिकेट के नियमों के साथ अंपायरिंग भी कठघरे में खड़ी है। देश और दुनिया के क्रिकेटर इंग्लैंड को विजेता चुने जाने के तरीके पर न्यूजीलैंड के साथ हो लिए हैं। ज्यादातर का यही मानना है कि फाइनल का फैसला अधिक बाउंड्री लगाए जाने के नियम पर नहीं दिया जाना चाहिए था। 

वहीं जाने माने ऑस्ट्रेलियाई अंपायर साइमन टॉफेल ने तो बेन स्टोक्स के बल्ले से निकले ओवर थ्रो पर इंग्लैंड को छह रन देने पर ही सवालिया निशान लगा दिए हैं। उन्होंने नियमों का हवाला देकर दावा किया है कि इंग्लैंड को यहां छह नहीं बल्कि पांच रन दिए जाने चाहिए थे। अगर ऐसा होता तो इंग्लैंड को अंतिम दो गेंद पर तीन नहीं बल्कि चार रन की जरूरत होती। यहां से मैच का परिणाम कुछ भी हो सकता था। रोहित शर्मा से लेकर शेन वॉर्न इसपर प्रतिक्रिया दी है। आइए जानते हैं किसने क्या कहा

रोहित बोले, कुछ नियमों पर गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत

rohit sharma
2 of 5
रोहित शर्मा ने बाउंड्री के आधार पर फाइनल में फैसला देने जाने पर ट्वीट में कहा कि क्रिकेट में कुछ नियम ऐसे हैं जिन पर गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है। भारत के पूर्व ओपनर वसीम जाफर भी इस विवाद में कूद पड़े उनका कहना है कि क्या टॉस के आधार पर विजेता का फैसला अच्छा विकल्प नहीं हो सकता था, जहां सब कुछ टाई हुआ है। ज्यादा बाउंड्री ज्यादा विकेट की अपेक्षा परिणाम को पूरी तरह भाग्य पर ही छोड़ देना चाहिए था।
 

 
विज्ञापन
विज्ञापन
gautam gambhir
3 of 5
टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज  गौतम गंभीर ने कहा कि बाउंड्री के आधार पर फाइनल का फैसला देने का आईसीसी का बकवास नियम है। यह टाई होना चाहिए था। फिर भी वह रोमांचकारी फाइनल खेलने के लिए दोनों टीमों को बधाई देना चाहते हैं। 
 



पूर्व क्रिकेट मोहम्मद कैफ ने कहा कि बाउंड्री के आधार पर फैसला देने को पचाना कठिन है। सडन डेथ नियम लागू कर सुपर ओवर को तब तक जारी रखना था जब तक परिणाम नहीं निकलता है। दोनों टीमों को संयुक्त विजेता बनाना ठीक रहता। न्यूजीलैंड के लिए यह बेहद कठिन रहा।
 

युवराज ने ट्वीट किया

युवराज सिंह
4 of 5
युवराज सिंह ने कहा कि मैं इस नियम से सहमत नहीं हैं, लेकिन नियम तो नियम हैं। इंग्लैंड को बधाई लेकिन उनका दिल न्यूजीलैंड की ओर झुकता है जिस तरह से उन्होंने अंतिम क्षणों तक संघर्ष किया।
 



स्टायिरस ने आईसीसी को बताया मजाक

न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टायरिस अपनी भावनाओं पर काबू नहीं रख पाए उन्होंने तो आईसीसी पर ही कटाक्ष करते हुए कहा कि बहुत अच्छा काम किया आईसीसी, आप सिर्फ एक मजाक हैं।
 


 
विज्ञापन
विज्ञापन

नीशम की बच्चों को सलाह

जिमी नीशम
5 of 5
न्यूजीलैंड के ऑलराइंडर नीशम की बच्चों को सला दी है कि यह खेल न खेलें सुपर ओवर में मार्टिन गुप्टिल के साथ खेलने आए जेम्स नीशम ने बेहद भावनात्मक ट्वीट करते हुए कहा कि वह बच्चों को सलाह देते हैं कि खेल को नहीं अपनाएं।
 



दिग्गज ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी शेन वार्न ने कहा कि मैं मानता हूं कि एक और सुपर ओवर होना चाहिए था या फिर तब तक सुपर ओवर जारी रहते जब तक परिणाम नहीं आ जाता। 
 
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें क्रिकेट समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। क्रिकेट जगत की अन्य खबरें जैसे क्रिकेट मैच लाइव स्कोरकार्ड, टीम और प्लेयर्स की आईसीसी रैंकिंग आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें
सबसे तेज और बेहतर अनुभव के लिए चुनें अमर उजाला एप
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00