लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Ankita Bhandari Murder Case Rishikesh Post Mortem Report And CM Dhami All Update Today

Ankita Murder Case : एनएआईटी घाट पर हुआ अंकिता का अंतिम संस्कार, पीड़िता के भाई ने दी मुखाग्नि

अमर उजाला नेटवर्क, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Sun, 25 Sep 2022 06:20 PM IST
सार

बता दें कि प्रदेश में अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर लोगों में उबाल बना हुआ है। शनिवार को अंकिता का पोस्टमार्टम हुआ था और आज अंतिम संस्कार होना था, लेकिन परिजनों ने अंतिम संस्कार रोक दिया। आखिरकार देर शाम अंकिता के पिता की अपील के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ।

अंकिता का एनआईटी घाट पर हुआ अंतिम संस्कार
अंकिता का एनआईटी घाट पर हुआ अंतिम संस्कार - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

ऋषिकेश के गंगा भोगपुर में नीरज फॉरेस्ट रिजॉर्ट में जांच के लिए प्रशासन की टीम पहुंची। इस दौरान एसडीम प्रमोद कुमार ने कर्मचारियों के दस्तावेजों की जांच की। साथ में तहसीलदार मनजीत सिंह गिल भी मौजूद रही।  इस दौरान रिजॉर्ट में चल रहे स्पा सेंटर में काम करने वाले कर्मचारियों के दस्तावेज नहीं मिले। वहीं, ग्राहकों का विजिटिंग रजिस्टर भी मौके पर नहीं मिला। स्पा सेंटर में मौके पर प्रशिक्षित कर्मचारी भी नहीं मिले। इसके चलते अब प्रशासन आयुर्वेदिक वैलनेस सेंटर के नाम से बने स्पा सेंटर को सील करने जा रहा है।


पिता ने की अपील शांत हुए लोग, एनआईटी घाट पर हुआ अंकिता का अंतिम संस्कार
आखिरकार अंकिता के पिता की अपील करने के बाद आक्रोशित लोगों का गुस्सा शांत हुआ। अंकिता के अंतिम संस्कार के लिए सभी तैयार हो गए हैं। एनआईटी घाट पर अंकिता के भाई ने मुखाग्नि दी। वहीं दूसरी ओर सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक में होगी। 



लोगों की पुलिस से झड़प
अंकिता के शव को ले जाने की आशंका पर लोग मोर्चेरी के आगे लेट गए। इस दौरान लोगों की पुलिस से झड़प भी हो गई। पुलिस लोगों को समझाने का प्रयास करती रही, लेकिन भीड़ जिद पर अड़ी रही। 

श्रीनगर से लेकर रुद्रप्रयाग तक लोगों में आक्रोश

अंकिता हत्याकांड को लेकर लोगों में उबाल बना हुआ है। विभिन्न संगठनों के लोग सुबह बदरीनाथ हाईवे पर धरने पर बैठ गए। वहीं, बदरीनाथ विधायक राजेंद्र भंडारी ने प्रदेश सरकार पर सवाल किए खड़े। उन्होंने कहा कि पौड़ी जिले से भाजपा विधायक गायब हैं। दो कैबिनेट मंत्री और स्पीकर हैं, लेकिन कोई भी लोगों से वार्ता करने नहीं पहुंचे।


Ankita Murder Case: अंकिता की आखिरी व्हाट्सएप चैट...बहुत गंदा होटल है...‘स्पेशल सर्विस’ देने को कहते हैं और...

इस दौरान अंकिता के पिता भी धरनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने लोगों से जाम खोलने की अपील की। लेकिन लोग जाम खोलने को तैयार नहीं है। वहीं, लोगो ने पुलिस पर परिजनों पर दबाव डालने का आरोप लगाया। उधर, रुद्रप्रयाग के खांकरा से भी लोगों ने हाइवे पर जाम लगा दिया।

विज्ञापन

परिजनों ने अंतिम संस्कार से किया मना

अंकिता भंडारी के परिजनों ने सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए हैं। उनका अंदेशा है कि प्राइमरी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में फेरबदल हो सकता है। इसके चलते अंकिता के भाई ने सरकार से दोबारा पोस्टमार्टम कराने की मांग उठाई है। वहीं, अंकिता के पिता का कहना है कि प्रशासन ने जल्दबाजी में रिजॉर्ट में अंकिता का कमरा तोड़ दिया। उसमें सबूत हो सकते थे। अब जब पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट आएगी तब ही अंकिता की अंत्येष्टि की जाएगी। वहीं, प्रशासन की टीम अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को मनानाने में जुटी है।

जेसीबी चलाकर वाहवाही लूटने के चक्कर में मिटाए साक्ष्य

वनंत्रा रिजॉर्ट में जेसीबी चलाकर आगे के कमरे को तोड़ दिया गया। इसी कमरे में अंकिता रहती थी। जांच के लिए पुलिस ने इस कमरे का सील किया था। लेकिन वाहवाही लूटने के चक्कर में कमरे को तोड़ कर सारे सबूत नष्ट कर दिए गए। 

Ankita Murder Case: घटना के दिन रिजॉर्ट के रसोइए से अंकिता की आखिरी बातचीत का आडियो वायरल, रोते हुए बोली...

शुक्रवार रात को वनंत्रा रिजॉर्ट पर जेेसीबी चला दी गई। अभी पुलिस मामले की जांच कर रही है। ऐसे में रिजॉर्ट और अंकिता के कमरे से पुलिस ने फोरेंसिक नमूने एकत्र कर सील कर दिया था। मृतक और अपराधी जिस स्थान पर अंतिम बार दिखाई दिए, वहां फोरेंसिक और मैटेरियल साक्ष्य मिलने की प्रबल संभावना होती है।

यही कारण था कि प्रशासन ने रिजॉर्ट को सील करने के आदेश दिए थे। लेकिन रिजॉर्ट को जेसीबी से तोड़ दिया। जेसीबी ने पहला कमरा वह तोड़ा, जिसमें अंकिता रहती थी। अब पूरा कमरा खुला पड़ा है, सारा सामान जमीन पर बिखरा है और कमरा मलबे से भरा पड़ा है। ऐसे में अब पुलिस के लिए मौके से साक्ष्य एकत्र करना आसान नहीं है। ऐसे में नियमानुसार साक्ष्य के साथ छेड़छाड़ करना एक अपराध है। हालांकि प्रशासन मामले की जांच कर रहा है। एएसपी शेखर सुयाल ने बताया कि प्रशासन की जांच के बाद आरोपी के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

सुबह खड़ी मिली जेसीबी

वनंत्रा रिजॉर्ट का आगे का ढांचा तोड़ने के बाद जेसीबी को रुक गया। उसके बाद सुबह जेसीबी रिजॉर्ट के बाहर खड़ी रही। लेकिन रिजॉर्ट के बाकी बचे हिस्से को नहीं तोड़ा। इसके बाद जेसीबी चली गई। स्थानीय लोगों का आरोप है कि जेसीबी से रिजॉर्ट गिराकर साक्ष्य मिटाने का प्रयास किया है। 

पूर्व सीएम हरीश रावत ने उठाए सवाल

पूर्व सीएम हरीश रावत ने अंकिता हत्याकांड को लेकर कई सवाल उठाए हैं। आगे पढ़िए उन्होंने सरकार से क्या सवाल किए...

1. जब चीला से अंकिता नहीं लौटी, अभियुक्त अकेले आया तो सारे रिजॉर्ट और आस-पास ये चर्चा हो गई कि अंकिता को नहर में डाल दिया गया है, फिर भी स्थानीय पटवारी को छुट्टी पर क्यों जाने दिया?
2. प्रशासन को मीडिया के सारे घटनाक्रम छपने के बाद भी अभियुक्त को गिरफ्तार करने में इतना वक्त क्यों लगा ?
3. अभियुक्त को पुलिस कस्टडी के बजाए ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजने का निर्णय किस स्तर पर लिया गया ?
4. अंकिता का शव खोजने में जो विलंब हुआ, वह साक्ष्य मिटाने की कड़ी तो नही है ?
5. अपराधी के कहीं अपराधों के साक्ष्य स्थल पर बुलडोजर फिराने और लोगों को आग लगाने के लिए उकसाने के  पीछे कौन है और यह कृत्य किसके हाथों से हुआ?
6. अभियुक्त को छात्र जीवन से ही मिले राजनीतिक संरक्षण देने वाले संरक्षकों के चेहरे भी क्या बेनकाब होंगे ?
7. पुलिस ने अभी अभियुक्त का पुलिस रिमांड क्यों नहीं मांगा ?

 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00