लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun News ›   Ride-loading vehicles will open on new roads in four districts roads survey ARTO Dehradun

Dehradun: चार जिलों में नई सड़कों पर खुलेगी सवारी-लोडिंग वाहनों की राह, 31 दिसंबर तक होगा सर्वेक्षण

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: रेनू सकलानी Updated Wed, 07 Dec 2022 01:14 PM IST
सार

चारों जिलों में पिछले कुछ समय में कई नई सड़कों को निर्माण हुआ है, लेकिन सवारी वाहन शुरू नहीं हो पाए हैं। इसके लिए सभी जिलों में नई सड़कों का सर्वे करने की जरूरत है। लोक निर्माण विभाग, एआरटीओ और प्रशासन की संयुक्त टीमें 31 दिसंबर तक यह सर्वे कर अपनी रिपोर्ट आरटीओ प्रवर्तन को भेजेंगे।

सड़क
सड़क - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन

विस्तार

गढ़वाल मंडल के चार जिलों में बनी नई सड़कों पर जल्द ही सवारी और लोडिंग वाहनों से सफर की राह खुलने वाली है। आरटीओ प्रवर्तन शैलेश तिवारी ने 31 दिसंबर तक सभी नई सड़कों के सर्वेक्षण के निर्देश दिए हैं। देहरादून, हरिद्वार, उत्तरकाशी और टिहरी जिला आरटीओ देहरादून संभाग के अंतर्गत आता है।



इन चारों जिलों में पिछले कुछ समय में कई नई सड़कों को निर्माण हुआ है, लेकिन सवारी वाहन शुरू नहीं हो पाए हैं। इसके लिए सभी जिलों में नई सड़कों का सर्वे करने की जरूरत है। आरटीओ प्रवर्तन देहरादून शैलेश तिवारी ने मंगलवार को इस संबंध में देहरादून, विकासनगर, हरिद्वार, टिहरी, ऋषिकेश, रुड़की और उत्तरकाशी के एआरटीओ को पत्र भेजा है।


इसमें कहा गया है कि उन सभी नवनिर्मित सड़कों का सर्वे किया जाए, ताकि उन पर यातायात खोला जा सके। लोक निर्माण विभाग, एआरटीओ और प्रशासन की संयुक्त टीमें 31 दिसंबर तक यह सर्वे कर अपनी रिपोर्ट आरटीओ प्रवर्तन को भेजेंगे। गौरतलब है कि अगर सड़क पास नहीं होगी तो उस पर वाहन दुर्घटना होने की सूरत में बीमा क्लेम नहीं मिलता है।

इन बिंदुओं के आधार पर सर्वे
नई सड़कों पर सुरक्षा के मद्देनजर इसके उपाय, मार्ग पर्याप्त चौड़ा हो और वाहन के संचालन में उपयुक्त हो। सड़क पर आवश्यक संकेतक लगे हों और पैराफीट भी बने हों। यह भी देखना है कि सड़क किस तरह के वाहनों के संचालन के लिए उपयुक्त है।

ये भी पढ़ें...Amar Ujala Exclusive :  उच्च शिक्षा विभाग में रिटायरमेंट करीब तो नहीं बन सकेंगे निदेशक, पढ़ें पूरी खबर

सड़क पर पड़ने वाली आबादी की देनी होगी जानकारी
सर्वे के दौरान सड़क पर पड़ने वाले आबादी क्षेत्र, गांव, कस्बा और उसकी आबादी, सड़क की कुल दूरी, सड़क का प्रारंभिक बिंदु व अंतिम बिंदु, ग्रेडियेंट, रिटेनिंग वॉल आदि की जानकारी भी सर्वे में देनी होगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00