लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun News ›   UKSSC paper leak news Illegal property of Hakam Singh will be attached

UKSSC पेपर लीक मामला: धामी सरकार की बड़ी कार्रवाई, कुर्क होगी हाकम सिंह की अवैध संपत्ति, चलेगा बुलडोजर

अमर उजाला नेटवर्क, देहरादुन Published by: विजय पुंडीर Updated Sat, 26 Nov 2022 09:36 PM IST
सार

हाकम सिंह के द्वारा यूकेएसएससी भर्ती परीक्षाओं में धांधली कराकर परिक्षार्थियों से अर्जित किये गये अवैध धन से खरीदी गयी चल-अचल सम्पत्ति का मुल्यांकन कार्य पूरा कर लिया है।

हाकम सिंह
हाकम सिंह - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

पेपर लीक मामले के मुख्य आरोपी हाकम सिंह की छह करोड़ की संपत्तियां जब्त की जाएंगी। ये संपत्तियां उसने अवैध रूप से कमाए गए धन से अर्जित की हैं। गैंगस्टर एक्ट के तहत संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई के लिए एसटीएफ ने जिलाधिकारी देहरादून को रिपोर्ट भेज दी है। इसके अलावा कुमाऊं और लखनऊ में एसटीएफ की टीमें आरोपियों की संपत्तियों का आकलन कर रही हैं।



बता दें कि पेपर लीक मामले में उत्तरकाशी के जिला पंचायत सदस्य हाकम सिंह का नाम आया था। एसटीएफ ने हाकम सिंह को विदेश से आते ही 13 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद हाकम और उसके अन्य साथियों पर गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई थी। उसकी संपत्तियों का आकलन भी चल रहा था।


एसटीएफ के एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि हाकम सिंह के पास अवैध रूप से कमाए गए धन से अर्जित की गईं लगभग छह करोड़ रुपये की चल और अचल संपत्तियां हैं। एक्ट की धारा 14 के तहत इन संपत्तियों को राज्य सरकार जब्त कर सकती है। इसके लिए देहरादून जिला प्रशासन को रिपोर्ट भेज दी गई है। जल्द ही उसकी संपत्तियों को जब्त किया जाएगा। 
 

रिजॉर्ट पहले हो चुके हैं ध्वस्त  
सरकारी नौकरियों की खरीद-फरोख्त करने वाले हाकम सिंह के तीन रिजॉर्ट उत्तरकाशी प्रशासन ध्वस्त कर चुका है। सेब के एक बाग को भी उद्यान विभाग ने कब्जे में ले लिया था। इसके अलावा उत्तरकाशी में अन्य संपत्तियों की जांच भी की जा रही है। जल्द ही उसकी और संपत्तियों पर भी बुलडोजर चल सकता है। 

ये भी पढ़ें...Dehradun: निजी आयुर्वेदिक, तकनीकी कॉलेजों की फीस पर फैसला छह दिसंबर को, समिति की बैठक में लिया गया निर्णय
मनराल और उसके साथियों की संपत्ति भी होगी जब्त  
एसएसपी ने बताया कि हाकम सिंह जैसा ही कुमाऊं में चंदन सिंह मनराल का नाम है। उसकी संपत्तियों के आकलन के लिए एक टीम लगाई गई है। इसके अलावा लखनऊ, बिजनौर और अन्य जिलों में चार टीमों को आरोपियों की संपत्तियों के मूल्यांकन के लिए तैनात किया गया है। ये टीमें वहां के प्रशासन से समन्वय स्थापित कर रही हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00