Uttarakhand Chamoli Live: अब तक 36 शव बरामद, 168 लोग लापता, 15 मानव अंगों के डीएनए सैंपल सुरक्षित रखे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जोशीमठ Published by: Nirmala Suyal Nirmala Suyal Updated Fri, 12 Feb 2021 05:22 PM IST
Uttarakhand Chamoli News Uttarakhand Glacier Burst live Updates: today fifth day rescue work continues
चमोली आपदा - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

खास बातें

ऋषिगंगा में जल प्रलय के बाद तपोवन जल विद्युत परियोजना की निर्माणाधीन सुरंग में फंसे तीन इंजीनियरों समेत 35 कर्मचारियों तक पहुंचने में सुरंग के जरिए भारी मात्रा में आ रहा मलबा बचाव दल के समक्ष बड़ी बाधा बनकर सामने आया है। अभी तक आपदा में 168 लोग लापता हैं। 38 लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं, जिनमें से नौ लोगों की शिनाख्त हो चुकी है। 12 मानव अंग क्षत-विक्षत हालत में मिले हैं। हेलीकॉप्टर से लगातार नीती घाटी के गांवों में राहत सामग्री वितरित की जा रही हैं। पढ़ें दिनभर के अपडेट्स...
विज्ञापन

लाइव अपडेट

05:19 PM, 12-Feb-2021
चमोली में आपदा के दौरान फुट ब्रिज टूटने के कारण कई गांव का संपर्क कटा हुआ है। गांव में आवाजाही सुचारू करने के लिए सेना ट्रॉली का इस्तेमाल कर रही है।
 
09:54 PM, 11-Feb-2021
चमोली जिला प्रशासन के अनुसार रात दस बजे तक क्षेत्र से 36 शव बरामद हो चुके हैं। वहीं, 168 लोग अभी भी लापता हैं। वहीं, 15 मानव अंग बरामद हुए थे जिनके डीएनए सैंपल सुरक्षित रखे गए है। 
07:51 PM, 11-Feb-2021
आपदा में बहे लोगों की नदी किनारे खोज जारी है। पुलिस, एसडीआरएफ व एसएसबी के जवान लगातार नदी किनारे अभियान में जुटे हैं। बृहस्पतिवार को तीन शव और मिले। दो शव अलकनंदा किनारे गलनाऊं के पास और एक शव जिलासू के पास मिला। तहसीलदार सोहन सिंह रांगड़ ने कहा कि शव मिलने की सूचना पर प्रशासन की टीम मौके के लिए रवाना हो गई है। यह शव आपदा में लापता लोगों के होने की आशंका है। वहीं, चार शवों और सात मानव अंगों का अंतिम संस्कार किया गया। तहसीलदार सोहन सिंह रांगड़ ने बताया कि सात फरवरी को आई आपदा के बाद अलकनंदा नदी किनारे अलग-अलग स्थानों पर कुल पांच शव मिले थे, जिनमें से एक शव की शिनाख्त हो गई थी। बाकी चार शवों और सात मानव अंगों की शिनाख्त नहीं हो पाई है। उनके डीएनए सैंपल लेकर सुरक्षित रखने के बाद पुलिस-प्रशासन और नगरपालिका ने कर्णप्रयाग घाट पर अलकनंदा नदी किनारे उनका अंतिम संस्कार कर दिया।
07:21 PM, 11-Feb-2021
तपोवन में एनटीपीसी की टनल में चलाया जा रहा अभियान पांच दिनों से लगभग 100 मीटर के आसपास ही घूम रहा है। सुरंग के अंदर जितना मलबा हटाया जा रहा है उतना ही पीछे से भी आ रहा है। बुधवार रात को टनल के अंदर ड्रिल करने की योजना बनाई गई और करीब छह मीटर ड्रिल करने के बाद तकनीकी दिक्कतों के चलते इसे रोक दिया गया। फिर से मलबा हटाने का काम शुरू किया गया। टनल के अंदर भी एक बार में सिर्फ दो ही लोडर जा पा रहे हैं, जिसमें दो ऑपरेटर लगे हैं। बृहस्पतिवार को एक लोडर खराब हो गया, जिसके बाद एक लोडर से काम किया जा रहा है, जिससे बचाव कार्य की गति कम हुई।
05:51 PM, 11-Feb-2021
आपदा में लापता लोगों में से अब तक 34 लोगों के शव अलग-अलग स्थानों से बरामद हो चुके हैं, जिसमें से नौ लोगों की शिनाख्त हो चुकी है। इनमें से छह उत्तराखंड के रहने वाले हैं। जिला प्रशासन की तरफ से शिनाख्त लोगों की सूची बृहस्पतिवार को जारी की गई। अन्य शवों की शिनाख्त की जा रही है। कई शवों के क्षति विक्षत होने के कारण भी शिनाख्त नहीं हो पा रही है।
 
इनकी हुई शिनाख्त
            नाम                                            पता
1- नरेंद्र लाल पुत्र एतवारी लाल             ग्राम तपोवन जोशीमठ चमोली, 
2- जीतेंद्र थापा पुत्र खेम बहादुर             लच्छीवाला देहरादून, 
3- दीपक कुमार पुत्र रमेश राम                ग्राम भतेड़ा, बागेश्वर 
4- बलवीर गड़िया पुत्र हयात सिंह         ग्राम गाड़ी, चमोली
5- मनोज चौधरी  पुत्र जसवंत चौधरी       ग्राम बेनोली, चमोली
6- राहुल कुमार पुत्र भगवती प्रसाद           ग्राम रावली महदूत, हरिद्वार
7- अवधेश पुत्र ललिता प्रसाद                 इच्छानगर मांझा, लखीमपुर उत्तर प्रदेश, 
8- अजय शर्मा  पुत्र बाबू लाल                गणेशपुर, अलीगढ़ उत्तर प्रदेश
9- सूरज पुत्र बेचू लाल                        बाबूपुर, लखीमपुर खीरी उत्तर प्रदेश
04:48 PM, 11-Feb-2021
चमोली में राहत एवं बचाव कार्य के लिए चिनूक हेलीकॉप्टरों का उपयोग किया जा रहा है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के लिए चिनूक से 14 यात्रियों और 1400 किलोग्राम भार का सामान भेजा गया।
04:11 PM, 11-Feb-2021

नदी में पानी बढ़ने पर लोगों से सतर्क रहने की अपील

नदी में पानी बढ़ने के बाद चमोली पुलिस नदी ने आस-पास के इलाकों में रहने वाले लोगों को सतर्क किया जा रहा है। पुलिस ने लोगों से अनुरोध किया है कि वे सतर्क रहें और घबराएं नहीं।


 
03:53 PM, 11-Feb-2021

80 मीटर के आसपास लोगों के मिलने की उम्मीद

डीआईजी गढ़वाल नीरू गर्ग ने कहा कि सब यही कोशिश कर रहे हैं कि हम आगे से आगे पहुंच पाएं। पहले गति अच्छी थी, परन्तु अब तरल ज्यादा हो गया है, जितना हम साफ कर रहे हैं, अंदर से उतना ज्यादा तरल निकल रहा है। प्रयास जारी है, उम्मीद है कि 180 मीटर के आसपास वो लोग मिल जाएं।
03:49 PM, 11-Feb-2021

03:38 PM, 11-Feb-2021

करीब आधे घंटे तक रुका राहत बचाव कार्य फिर शुरू

वहीं आईटीबीपी ने कहा है कि सुरंग में बचाव अभियान अस्थाई रूप से नदी के जल स्तर में वृद्धि के कारण कुछ समय के लिए रोक दिया गया है। अब तक नदी के प्रवाह में कुछ भी खतरनाक नहीं दिख रहा है।

ऋषिगंगा नदी के जल स्तर में वृद्धि के बाद करीब आधे घंटे तक रुका राहत बचाव कार्य अब शुरू कर दिया। एनडीआरएफ कर्मियों का कहना है जल स्तर बढ़ रहा है, इसलिए टीमों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया। ऑपरेशन को सीमित टीमों के साथ फिर से शुरू किया गया है।
 
03:17 PM, 11-Feb-2021

सुरंग में भी बढ़ने लगा पानी

ऋषिगंगा नदी में पानी बढ़ने के कारण अब सुरंग में भी पानी बढ़ने लगा है। राहत बचाव कार्य अभी भी रुका हुआ है।
03:07 PM, 11-Feb-2021

निचले इलाकों को खाली करने के आदेश

उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि नदी में पानी के स्तर में वृद्धि के कारण बचाव अभियान अस्थायी रूप से रुका हुआ है। निचले इलाकों को खाली करने के आदेश दिए गए हैं।
 
03:06 PM, 11-Feb-2021

छह मीटर ड्रिलिंग के दौरान आया पानी

एनटीपीसी परियोजना निदेशक उज्जवल भट्टाचार्य का कहना है कि ड्रिलिंग के बाद हम छह मीटर की दूरी तक पहुंच गए और फिर महसूस हुआ कि वहां पानी आ रहा है। अगर हम ड्रिलिंग जारी रखते तो चट्टानें अस्थिर होतीं और समस्याएं बढ़ जातीं। इसलिए हमने ड्रिलिंग ऑपरेशन को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया है।
 
02:52 PM, 11-Feb-2021

नदी का जल स्तर दो गुना ज्यादा

बताया गया कि ऋषिगंगा नदी का जल स्तर दो गुना ज्यादा बढ़ गया है। अभी भी राहत बचाव कार्य रुका हुआ है।
02:36 PM, 11-Feb-2021

अलकनंदा नदी में पानी का बहाव तेज, अफरातफरी का माहौल

लगातार ऋषिगंगा नदी में पानी का बहाव तेज हो रहा है। जिस वजह से मौके पर अफरातफरी का माहौल है। लाउड स्पीकर के द्वारा सभी लोगों को सतर्क किया जा रहा है।
 
 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00