लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR News ›   child ran away from clutches of miscreants who were being kidnapped in Muradnagar Ghaziabad

बच्चे ने बदमाशों के छुड़ाए छक्के: अपहरण कर ले जा रहे गुंडे के हाथ में काटकर भागा 11 साल का आरव, पहुंचा घर

संवाद न्यूज एजेंसी, मुरादनगर Published by: आकाश दुबे Updated Mon, 28 Nov 2022 05:09 AM IST
सार

बदमाश ने छात्र की गर्दन पर चाकू लगाया हुआ था, जबकि दूसरे ने कांच का टुकड़ा हाथ में ले रखा था। इसी बीच एक बदमाश फोन पर बात करने लगा, छात्र ने हिम्मत दिखा बदमाश के हाथ पर काट लिया और कार से कूदकर भाग गया।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

आयुध निर्माणी फैक्टरी आरओबी से शनिवार रात कार सवार चार नकाबपोश बदमाशों ने चाकू के बल पर जीतपुर कॉलोनी निवासी व्यापारी धर्मेंद्र राठी के बेटे आरव (11) का अपहरण कर लिया। एक बदमाश के हाथ पर काटकर बच्चा कार से कूदकर भाग निकला। करीब दो किमी नंगे पैर दौड़कर वह अपने घर पहुंचा और परिजनों को घटना की जानकारी दी। पुलिस चार अज्ञात बदमाशों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर आसपास की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।

धर्मेंद्र राठी रेडीमेंट गरमेंट की दुकान करते हैं। वह राधेश्याम विहार कॉलोनी में किराये का कमरा लेकर परिवार के साथ रहते हैं। धर्मेंद्र के परिवार में पत्नी नेहा, बेटा आरव (11) व मनी (5) है। आरव कक्षा चार में माउंट कार्मल स्कूल में पढ़ता है। शनिवार शाम करीब छह बजे आरव साइकिल से रेलवे रोड पर सब्जी लेने गया था, लौटते समय दिल्ली-मेरठ हाईवे पर आयुध निर्माणी गेट के पास विपरीत दिशा से एक इको कार आई। कार सवार एक बदमाश ने उसे रोका इस पर आरव तेजी से साइकिल चलाते हुए आरओबी पर चलने लगा। बदमाशों ने ओवरटेक कर उसे रोक लिया और चाकू के बल पर आरव को साइकिल समेत कार में डाल लिया।

बदमाश धेदा गांव मार्ग पर आरओबी के नीचे पहुंचे और छात्र की साइकिल व कपड़े उतरवा कर वहां फेंक दिये। एक बदमाश ने छात्र की गर्दन पर चाकू लगाया हुआ था, जबकि दूसरे ने कांच का टुकड़ा हाथ में ले रखा था। इसी बीच एक बदमाश फोन पर बात करने लगा, छात्र ने हिम्मत दिखा बदमाश के हाथ पर काट लिया और कार से कूदकर भाग गया। बदमाशों ने उसका पीछा किया लेकिन छात्र भागने में कामयाब हो गया। करीब दो किमी तक नंगे पैर दौड़कर वह जीतपुर कॉलोनी में अपने दादा कंवरपाल के घर पहुंचा और वारदात की जानकारी दी। परिजन ओएफएम पुलिस चौकी पहुंचे और हंगामा किया।

शोर मचाने पर दी गर्दन काटने की धमकी
आरव ने बताया कि बदमाशों ने जब उसे कार में डाल लिया तो शोर मचाने पर गर्दन काटने की धमकी दी। इससे वह सहम गया और चुपचाप बैठा रहा, मौका मिलते ही छात्र उनके चंगुल से छूटकर भाग निकला। वहीं, परिजनों ने बताया कि हादसे के बाद आरव काफी सहमा हुआ है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00