लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   delhi police arrested three smugglers with ganja worth one crore

एक करोड़ का गांजा धरा: हिमाचल से लाकर दिल्ली-एनसीआर में करते थे सप्लाई, तीन तस्कर गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Vikas Kumar Updated Sun, 07 Aug 2022 08:22 PM IST
सार

अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार एसीपी अरविंद कुमार की टीम में तैनात एएसआई सचिन सिंह को दो अगस्त को सूचना मिली थी कि इकराम संगठित तरीके से मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला गिरोह चला रहा है। वह हिमाचल प्रदेश से गांजा मंगाता है। 

गिरफ्तार तस्कर
गिरफ्तार तस्कर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो हिमाचल प्रदेश से गांजा लाकर दिल्ली-एनसीआर में सप्लाई करता था। पुलिस ने इस गिरोह के सरगना समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से बढ़िया क्वालिटी का 1.1 किलोग्राम गांजा बरामद किया गया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में बरामद गांजे की कीमत करीब एक करोड़ रुपये बताई जा रही है।



अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार एसीपी अरविंद कुमार की टीम में तैनात एएसआई सचिन सिंह को दो अगस्त को सूचना मिली थी कि इकराम संगठित तरीके से मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला गिरोह चला रहा है। वह हिमाचल प्रदेश से गांजा मंगाता है। पुलिस टीम ने मुकरबा चौक, बाहरी रिंग रोड पर घेराबंदी की। यहां पर गांजे की खेप लेकर आए आरोपी अशोक कुमार उर्फ लाला (59) को गिरफ्तार कर लिया। इसने हाथ में सूटकेश ले रखा था। सूटकेश से 1.100 किलो गांजा बरामद किया गया। उसने बताया कि वह इकराम के लिए काम करता है। अशोक ने पुलिस की उपस्थिति में इकराम को फोन किया और गुड्डू को गांजे की खेप देने की बात कही। 


पुलिस टीम अशोक के साथ वेलकम पुलिया पहुंची और आरोपी गुड्डू (40) को गिरफ्तार कर लिया। गुड्डू के घर से 85 हजार रुपये, पैकिंग मेरेरियल समेत अन्य सामान बरामद किया गया। इनसे पूछताछ के बाद पुलिस टीम भरतपुर, राजस्थान रेलवे स्टेशन पहुंची और आरोपी इकराम को गिरफ्तार कर लिया। उसने पूछताछ में बताया कि वह बहुत समय से संगठित तरीके से गिरोह को चला रहा था। उसके गिरोह में काफी लोग शामिल हैं और सभी को अलग-अलग काम सौंपा हुआ है। अंबेडकर चौपाल, गांव बहादुरगढ़, जिला हापुड़, गुढमुक्तेश्वर यूपी निवासी मोहम्मद इकराम के पिता की मृत्यु उस समय हो गई थी, जब वह 13 वर्ष का था। वर्ष 2005 में ये गलत संगत में पड़ गया और नशा लेने का आदि हो गया। कपड़े के व्यवसाय में भारी घाटा होने के कारण ये गांजे की सप्लाई करने लगा। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00