Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Nirbhaya Case convict vinay sharma moves election commission to escape hanging

निर्भया केसः फांसी से बचने के लिए विनय की एक और तिकड़म, अब खटखटाया चुनाव आयोग का दरवाजा

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: पूजा त्रिपाठी Updated Thu, 20 Feb 2020 01:34 PM IST
विनय शर्मा
विनय शर्मा - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

निर्भया केस में फांसी से बचने के लिए दोषी नित नए हथकंडे अपना रहे हैं। इसी सिलसिले में दोषी विनय ने एक नया हथकंडा अपनाया है। जब उसे सुप्रीम कोर्ट से लेकर राष्ट्रपति तक सबसे निराशा हाथ लगी तो उसने चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया है।

विज्ञापन




विनय के वकील एपी सिंह ने बताया कि उन्होंने विनय की तरफ से आज (20 फरवरी) ही एक याचिका चुनाव आयोग में डाली है। इसमें उन्होंने कि जब दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन ने राष्ट्रपति के पास विनय की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश भेजी थी, तो वो ना तो मंत्री थे और ना ही विधायक। एपी सिंह ने बताया कि जैन ने 29 जनवरी को ये याचिका भेजी थी तब दिल्ली में आचार संहिता लागू थी।


एपी सिंह ने बताया कि सत्येंद्र जैन ने अपना हस्ताक्षर व्हाट्सएप के जरिए 30 जनवरी को भेजा था। इसी को आधार बनाते हुए अर्जी में कहा गया है कि ऐसे में दया याचिका खारिज करना गैरकानूनी और संविधान के खिलाफ है, क्योंकि उस समय दिल्ली में आचार संहिता लागू थी। इसी का हवाला देते हुए चुनाव आयोग से इस पर कानूनी संज्ञान लेने की मांग की गई है।

विनय ने दीवार पर टकरा चोटिल किया अपना सिर

तीसरी बार डेथ वारंट जारी होने के बाद निर्भया के दोषियों पर मौत का खौफ हावी हो गया है। एक दोषी विनय ने घबराहट में सेल की दीवार पर पटककर अपना सिर चोटिल कर लिया। समय रहते सुरक्षाकर्मी ने उसकी सेल में घुसकर उसे रोक लिया।

विनय को प्राथमिक इलाज के बाद फिर से सेल में बंद कर दिया गया है। जेल प्रशासन का कहना है कि उसे मामूली चोट लगी है। अब दोषियों की सेल के सामने अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी को तैनात कर उनकी चौकसी बढ़ा दी गई है। साथ ही उनकी लगातार काउंसलिंग भी की जा रही है। 

जेल सूत्रों का कहना है कि इन दिनों चारों दोषियों के स्वभाव में आक्रामकता पहले से बढ़ गई है। उन्हें मामूली बात पर गुस्सा आ रहा है। हालांकि वे किसी से ज्यादा बात नहीं कर रहे हैं, लेकिन सेल में ही वे लगातार अपने गुस्से का इजहार कर रहे हैं। मंगलवार को विनय अपनी सेल की दीवार पर अचानक सिर पटकने लगा। यह देखकर वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी तुरंत उसकी सेल में घुसे और उस पर काबू पाया।

घटना की जानकारी मिलने के बाद जेल में अफरा-तफरी फैल गई। विनय का तुरंत जेल के अस्पताल में इलाज कराया गया। जेल अधिकारियों का कहना है कि विनय को ज्यादा चोट नहीं लगी है। जेल प्रशासन ने अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी की तैनाती के साथ ऐसी स्थिति से निपटने के लिए दोषियों की सेल में अलार्म लगाया है।

जेल सूत्रों का कहना है कि विनय के साथ-साथ तीन अन्य दोषियों मुकेश, पवन और अक्षय की सेल के बाहर भी अतिरिक्त सुरक्षाकर्मी को तैनात किया गया है। वे दोषियों पर सिर्फ नजर रखेंगे। साथ ही, दोषियों को सामान्य रखने के लिए उनकी लगातार काउंसलिंग की जा रही है। उन पर सीसीटीवी की निगरानी भी बढ़ा दी गई है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00