छात्रा ने बताया जान को खतरा, पुलिस सुरक्षा में गोंडा हुई रवाना

Noida Bureau नोएडा ब्यूरो
Updated Sat, 18 Sep 2021 09:26 PM IST
Girl student told threat to life, left for Gonda under police protection
विज्ञापन
ख़बर सुनें
ग्रेटर नोएडा/दादरी। गांव सादोपुर की छात्रा स्वाति के अपहरण की झूठी कहानी का पटाक्षेप करने के बाद गोंडा से छात्रा और प्रेमी अनिमेष तिवारी को पुलिस शनिवार को ग्रेनो लेकर पहुंची। पुलिस ने छात्रा के अदालत में बयान दर्ज कराए। पुलिस का कहना है कि छात्रा ने परिजनों से जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा और अनिमेष के साथ गोंडा भेजने की मांग की। इस पर छात्रा को पुलिस सुरक्षा में गोंडा के लिए रवाना कर दिया गया है।
विज्ञापन

वहीं, बादलपुर पुलिस ने अपहरण की झूठी साजिश रचने, नाबालिग बच्चों को शामिल करने, जाम लगाकर कानून व्यवस्था बिगाड़ने व भड़काऊ बयान आदि देने के मामले में 18 नामजदों समेत 168 लोगों पर केस दर्ज किया है। नामजदों में पुलिस ने छात्रा के दादा पूर्व प्रधान अजयपाल सिंह, पिता गुलाब सिंह, नागेंद्र प्रधान, राजीव, सुनील, विक्रम, रोहताश, सुंदर, मदन, पप्पू, रोहित, रवि मोटा, रकम, अत्री, वीरेंद्र, मौजीराम, अमित और 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

पुलिस ने आईपीसी की धारा 147, 149, 353, 388, 289, 270, 504, 506, महामारी एक्ट 3/7 के अंतर्गत केस दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि जाम लगाने, पुलिस कार्य में बाधा डालने, भड़काने वाले अज्ञात आरोपियों की सीसीटीवी फुटेज, सोशल मीडिया की फुटेज आदि के आधार पर पहचान कर कार्रवाई व गिरफ्तार की जाएगी।
एफआईआर में एएसआई का नहीं है नाम
डीसीपी हरीश चंदर का कहना है कि छात्रा के चाचा दिल्ली पुलिस के एएसआई का एफआईआर में नाम नहीं है। जांच में पता चला है कि जाम लगाने के दौरान वह मौजूद नहीं था। हालांकि, कोतवाली में हंगामे के दौरान वह था। परिजनों का कहना है कि एएसआई बृहस्पतिवार को दिल्ली ड्यूटी पर था और भतीजी के अपहरण व जाम लगाने की सूचना के बाद ग्रेनो के लिए रवाना हुआ था। वह जाम खुलने के बाद पहुंचा था।
मां और चाची अदालत परिसर में पहुंचीं, छात्रा ने नजर फेरी
सूत्रों का कहना है कि छात्रा के अदालत में पहुंचने की सूचना पर मां रेखा और चाची आजाद वती भी परिसर में पहुंचीं। मां ने छात्रा से बात करने का प्रयास किया। मां ने गुस्सा भी जाहिर किया। छात्रा ने नजर फेरी तो मां ने कहा, ‘हम सोच लेंगे कि तू हमारे लिए मर गई।’ इस पर छात्रा ने पुलिस को मां से भी खतरा होने का आरोप लगाया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00