लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR News ›   People created ruckus regarding the case of kidnapping and murder of innocent

मासूम की अगवा कर हत्या: गुस्साए परिजन आरोपी के परिजनों पर हमला करने पहुंचे, पुलिस के रोकने पर किया पथराव

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: विजय पुंडीर Updated Wed, 07 Dec 2022 09:20 AM IST
सार

मासूम के परिजन आरोपी किशोर के परिवार से बदला लेने उसके घर पहुंचे थे। पुलिस के रोकने पर उन्होंने लोगों की भीड़ विकास मार्ग स्थित प्रीत विहार लाल बत्ती पर पहुंच गई और सड़क जाम कर दी। लोगों ने गुजर रही कई गाड़ियों के शीशे भी तोड़ दिए।

बवाल के बाद सड़क पर पड़े पत्थर
बवाल के बाद सड़क पर पड़े पत्थर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

प्रीत विहार इलाके में मासूम की अगवा कर हत्या करने के मामले में गुस्साए परिजनों ने मंगलवार देर रात को जमकर हंगामा किया। परिजन आरोपी किशोर के परिवार से बदला लेने उसके घर पहुंच गए थे। पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो गुस्साए परिजनों ने पुलिस पर पथराव कर दिया।



लोगों की भीड़ विकास मार्ग स्थित प्रीत विहार लाल बत्ती पर पहुंच गई और सड़क जाम कर दी। लोगों ने गुजर रही कई गाड़ियों के शीशे भी तोड़ दिए। हालात बिगड़ते देखकर आसपास के थानों से पुलिस बल बुलाया गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। करीब एक-सवा घंटे चले बवाल के बाद पुलिस ने किसी तरह परिजनों को समझाकर सड़क से हटाया। देर रात तक मौके पर तनाव का माहौल था। चित्रा विहार में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।


पूर्वी जिला के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मासूम को अगवा करने के बाद पुलिस की टीम ने आरोपी को सोमवार को पकड़ लिया था। लगातार वह पुलिस को गुमराह कर रहा था। उसका कहना था कि जब वह बच्चे को ले गया तो वह रोने लगा और उसने रास्ते में छोड़ दिया था। सख्ती से पूछने पर आरोपी ने उसकी हत्या कर शव को मेरठ में ठिकाने लगाने की बात की। मंगलवार को पुलिस आरोपी को लेकर मेरठ पहुंची तो शव बरामद हुआ। 

इधर, परिवार को मासूम की हत्या का पता चला तो उनका गुस्सा फूट गया। रात करीब आठ बजे पड़ोस में रहने वाले आरोपी के घर पहुंच गए। कुछ पुलिसकर्मी एहतियात के तौर पर वहां पहले से तैनात थे। उन्होंने आरोपी के परिजनों को सुरक्षित बचाया।

इसके बाद तो मासूम के परिजन और भड़क गया और उन्होंने पुलिस पर हमला कर दिया। बाद में थाने से और स्टाफ को बुलाया गया। इसके बाद परिजनों की भीड़ इकट्ठा होकर विकास मार्ग पहुंच गई। लोगों ने सड़क के दोनों कैरिज वे को बंद दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। लोग पुलिस की सुस्त कार्रवाई से भी नाराज थे। पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया तो लोगों ने दोबारा पथराव कर दिया। 

कुछ लोगों ने चार-पांच गाड़ियों के सामने वाले शीशे भी तोड़ दिए। मौके पर अफरातफरी मच गई। पुलिस बल बुलाने के बाद उपायुक्त समेत तमाम वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। सवा नौ बजे लोगों को सड़क से हटाकर यातायात को खुलवा दिया गया। पुलिस पूरे हालात पर नजर रखे हुए है। एक परिजन ने बताया कि आरोपी नशे का आदी है। परिजन बच्चों को उससे दूर रखते थे। इस बात से वह चिढ़ता था। पता नहीं उसने मासूम की इसी वजह से तो हत्या की या फिर हत्या के पीछे कुछ और कारण है। पुलिस उससे पूछताछ करने के बाद ही बता पाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00