विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

दिल्लीः ऑनलाइन क्लास न कर पाने वाले बच्चों के लिए कांस्टेबल बने सहारा, मंदिर में ले रहे क्लास

दिल्ली पुलिस का एक कांस्टेबल कोरोना काल में जरूरतमंद बच्चों के लिए मदद का बड़ा हाथ बनकर सामने आया है। कांस्टेबल ने कोरोनाकाल के दौरान गरीब और जरूरतमंद...

20 अक्टूबर 2020

Digital Edition

सीएए विरोधी प्रदर्शन: साकेत कोर्ट ने रद्द की जेएनयू छात्र शरजील इमाम की जमानत याचिका

सीएए-एनआरसी के विरोध में हुए प्रदर्शनों के दौरान भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जेल में बंद जेएनयू छात्र शरजील इमाम की जमानत याचिका को अदालत ने खारिज कर दिया। शुक्रवार को शरजील की जमानत याचिका की सुनवाई करते हुए दिल्ली की साकेत अदालत ने उनकी जमानत याचिका रद्द कर दी।

पिछली सुनवाई में शरजील ने कहा था- वह कोई आतंकी नहीं हैं
देशद्रोह और अवैध गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत आरोपी जेएनयू छात्र शरजील इमाम ने कहा कि वह कोई आतंकी नहीं है और उसके खिलाफ मुकदमा स्थापित कानून के अनुरूप नहीं बल्कि किसी सम्राट के चाबुक की तरह है। यह तर्क शरजील ने मामले में जमानत देने और आरोपमुक्त किए जाने की मांग करते हुए रखा।

दिल्ली पुलिस ने शरजील इमाम को सीएए-एनआरसी के विरोध के दौरान कथित भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जनवरी 2020 में गिरफ्तार किया था। उसके खिलाफ आरोपपत्र दाखिल हो चुका है। आरोप है कि उसने 2019 में अपने भाषणों में कथित रूप से असम और पूर्वोत्तर के अन्य हिस्सों को देश से अलग करने की धमकी दी थी।

ये कथित भाषण उसने जामिया में 13 दिसंबर 2019 और अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में 16 दिसंबर 2019 को दिए थे। वह जनवरी 2020 से न्यायिक हिरासत में है।
... और पढ़ें

खौफनाक: पत्नी के चरित्र पर शक ने नीरज को बना दिया हैवान, ताबड़तोड़ गोलियां दाग कर दिया ट्रिपल मर्डर

हरियाणा के फरीदाबाद के धौज थाना क्षेत्र में गुरुवार अल सुबह एक युवक ने अपने साथी के साथ मिलकर अपनी पत्नी, सास, साले व उसके दोस्त को गोली मार दी। घटना में पत्नी,सास व साले का दोस्त ने तोड़ दिया, जबकि साले को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल दो तमंचे, चाकू और मोटरसाइकिल बरामद कर लिए हैं। आरोपी नीरज को अपनी पत्नी आयशा के के चरित्र पर शक था। इसके आलावा उसका अपने साले गगन से 10 लाख रुपये का लेनदेन भी था। पुलिस ने गगन की शिकायत पर धौज थाने में हत्या, हत्या का प्रयास व आर्म्स एक्ट तहत मामला दर्ज कर लिया है। मूलरूप से पानीपत के समालखा निवासी गगन ने पुलिस को बताया कि बहन आयशा शादी करीब चौदह साल पहले एनआइटी-एक निवासी निवासी नीरज चावला के साथ की थी। ... और पढ़ें

ग्रेटर नोएडा: ट्रांसपोर्टर की बेटी की हत्या और लूट का आरोपी पुलिस मुठभेड़ में घायल

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र की पैरामाउंट गोल्फ विला सोसायटी में बुधवार को ट्रांसपोर्टर की बेटी की हत्या और आभूषण लूटकर फरार हुए आरोपी को शुक्रवार सुबह पुलिस मुठभेड़ में गोली लगी है। पुलिस ने आरोपी को गुरुवार देर रात गिरफ्तार कर लिया था।

पुलिस आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयोग किया गया धारदार हथियार बरामद करने 130 मीटर रोड पर गई तो आरोपी दरोगा हरिराम की पिस्टल छीन फायरिंग करते हुए भागने लगा। पुलिस का कहना है कि जवाबी फायरिंग में आरोपी पैर में गोली लगने से घायल हो गया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

नोएडा के छलेरा गांव निवासी कालू सिंह चौहान ट्रांसपोर्टर हैं। छलेरा गांव के पास ही उनका ट्रांसपोर्ट का काम है। वह परिवार के साथ लगभग एक साल से सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित पैरामाउंट गोल्फ विला सोसायटी में रह रहे थे।

वारदात के वक्त घर में अकेली थी पिंकी
बुधवार को कालू सिंह और उनकी पत्नी शॉपिंग के लिए गई थी। कालू चौहान का 26 वर्षीय बेटा भी ट्रांसपोर्ट के काम से घर से बाहर गया था। इस दौरान उनकी बेटी पिंकी चौहान (28) घर पर अकेली थी। दिल्ली के अलीपुर गांव पल्ला निवासी अर्जुन उर्फ चमन उनके घर पहुंचा।

आरोपी यहां दो घंटे तक रुका और पिंकी की धारदार हथियार से गला रेतकर व शरीर पर कई वार कर हत्या कर दी। आरोपी घर में रखे आभूषण आदि लूटकर फरार हो गया। पुलिस ने शुक्रवार सुबह ही दिल्ली स्थित आरोपी के घर से लूटे गए आभूषण और घटना में प्रयोग की गई स्कूटी बरामद कर ली थी।

पुलिस ने आरोपी को गुरुवार रात गिरफ्तार कर पूछताछ की। आरोपी ने बताया कि वह पिंकी से विवाह करना चाहता था लेकिन उसके परिजन विवाह के लिए दूसरा लड़का देख रहे थे। इसी से नाराज होकर उसने पिंकी की हत्या कर दी।
... और पढ़ें

दिल्ली: गैंगवार में टिल्लू गैंग के बदमाश की हत्या करने वाले चार बदमाश गिरफ्तार, केएन काटजू मार्ग इलाके में हुआ था मर्डर

बेगमपुर थाना पुलिस ने जेल में बंद जितेंद्र गोगी गैंग के बदमाश के इशारे पर टिल्लू गैंग के बदमाश की हत्या करने वाले चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने तीन पिस्टल और 18 कारतूस बरामद किए हैं। 

जिला पुलिस उपायुक्त प्रणव तायल ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों की पहचान गांव निधानल, रोहतक, हरियाणा निवासी सुमित, बरवाला, दिल्ली निवासी कुणाल, बापरौला निवासी करण हंस और गांव रोहत, सोनीपत हरियाणा निवासी सूरज कुमार के रूप में हुई है। 

11 अक्तूबर को केएन काटजू इलाके में बदमाशों ने दीपक उर्फ राधे की गोली मारकर हत्या कर दी थी। जांच में पता चला कि दीपक टिल्लू गैंग का बदमाश था। जांच के दौरान सीसीटीवी कैमरे की पड़ताल करने पर पुलिस को पता चला कि दीपक की हत्या गैंगवार में विरोधी जितेंद्र उर्फ गोगी गैंग के बदमाशों ने की है। 

पुलिस ने तकनीकी जांच की मदद से 16 अक्तूबर को साहिल और नवीन शर्मा नाम के दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में पता चला कि जेल में बंद गोगी गैंग के बदमाश कपिल मान और रोहित मोई के निर्देश पर उन लोगों ने दीपक की हत्या की थी। पुलिस ने इस खुलासे के बाद हत्या के मामले में कपिल मान और रोहित को भी गिरफ्तार कर लिया। 

पूछताछ में बदमाशों ने वारदात में शामिल अन्य बदमाशों के नाम का खुलासा किया। जिस पर पुलिस ने निगरानी बढ़ाई। 23 अक्तूबर को पुलिस को सूचना मिली कि जितेंद्र उर्फ गोगी गैंग के दो बदमाश रोहिणी सेक्टर 37 आ रहे हैं। जहां से पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में पुलिस ने इनके निशानदेही पर दो अन्य बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। सुमित ने बताया कि जेल में बंद रोहित मोई के इशारे पर उनलोगों ने दीपक की हत्या की थी।
... और पढ़ें
गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया गैंगस्टर टिल्लू ताजपुरिया

दिल्ली: हाईकोर्ट का एम्स को अवैध रूप से हटाए गए कर्मी को 50 लाख रुपये देने का निर्देश

दिल्ली हाईकोर्ट ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) दिल्ली को उसके पूर्व कर्मी को 50 लाख रुपये देने का निर्देश दिया है, जिसे नौकरी से अवैध रूप से निकाल दिया गया था। एम्स द्वारा 1980 के दशक में ड्राइवर के पद पर नियुक्त किए गए राज सिंह को पेंशन के तौर पर हर महीने 19,900 रुपये भी मिलेंगे।

याचिकाकर्ता के अनुसार, उन्हें अवैध रूप से नौकरी से निकाले जाने के बाद वे लेबर कोर्ट गए थे। लेबर कोर्ट ने 1998 में नौकरी से हटाने को अवैध बताया था। उन्होंने अपनी याचिका में बताया कि लेबर कोर्ट के आदेश को विभिन्न फोरमों में चुनौती दी गई और आखिर में एम्स द्वारा दायर विशेष अवकाश याचिका (एसएलपी) को तीन जून 2016 में सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया था।

राज सिंह ने अधिवक्ता बीटी कौल के माध्यम से एम्स को कानूनी नोटिस भेजकर आदेश का अनुपालन करने और रुपयों का भुगतान करने की मांग की थी, लेकिन भुगतान नहीं किया गया। इसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट का रुख किया।
... और पढ़ें

ग्रेटर नोएडा: यमुना एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा, वाहन से टकराई अफ्रीकी नागरिकों की कार, दो की मौत

यमुना एक्सप्रेसवे पर रविवार सुबह एक्सप्रेस-वे पर खड़े एक ट्रैवलर में तेज रफ्तार कार जा टकराई। हादसे में ट्रैवलर से उतरकर खड़े दो यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गई। ट्रैवलर सवार एक अन्य युवती भी गंभीर रूप से घायल हो गई। युवती हादसे में जान गंवाने वाले युवक की बहन है। वहीं, कार में सवार रिपब्लिक ऑफ कांगो निवासी तीन यात्री समेत चार लोग घायल हो गए, इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। पुलिस और यमुना एक्सप्रेस-वे कर्मियों ने बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुए वाहनों से घायलों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया। कार सवार विदेशी ग्रेनो की एक सोसाइटी में रहते हैं और घूमने के लिए यमुना एक्सप्रेस-वे पर निकले थे।

एडिशनल डीसीपी विशाल पांडे ने बताया कि पश्चिम बंगाल निवासी नौ यात्री दिल्ली घूमने के लिए आए थे। दिल्ली से आगरा जाने के लिए उन्होंने 12 सीटर ट्रैवलर बुक कराया था। रविवार सुबह ट्रैवलर से आगरा जा रहे थे। यमुना एक्सप्रेस-वे पर जीरो प्वाइंट से पांच किमी आगे जाने पर ट्रैवलर में तकनीकी खामी आने के बाद वाहन वहीं रोक देना पड़ा। इसी दौरान पीछे से आई तेज रफ्तार कार उससे जा टकराई। हादसे में कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।




वहीं ट्रैवलर से उतर कर यमुना एक्सप्रेस-वे पर खड़े पश्चिम बंगाल निवासी दो यात्री स्वप्न भट्टाचार्य (56) और साहिब मंडल (24) गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। ट्रैवलर सात अन्य लोग भी चोटिल हो गए। इनमें एक महिला गंभीर रूप से घायल हो गई। इसके अलावा कार में रिपब्लिक ऑफ कांगो के नागरिक जॉल, लूसी और ट्रैवलर वाहन सवार स्नेहा मंडल समेत चार लोग घायल हो गए। स्नेहा साहिब मंडल की बहन है और उसकी हालत भी गंभीर बनी हुई है। कार सवार घायल क्षतिग्रस्त हुई कार में फंस गए थे, उन्होंने बमुश्किल बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। 
... और पढ़ें

दिल्ली: सिग्नेचर ब्रिज पर स्कूटी खड़ी कर शख्स ने यमुना में लगाई छलांग, सीसीटीवी फुटेज से सामने आया चौंकाने वाला सच

बुराड़ी के रहने वाले एक शख्स ने सिग्नेचर ब्रिज पर स्कूटी  कर छलांग लगा दी। चार दिन बाद शख्सा का शव कालिंदी कुंज से बरामद हो गया। मृतक की शिनाख्त संजय कुमार राय (51) के रूप में हुई है। पुलिस मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। परिवार ने संजय की गुमशुदगी पश्चिम दिल्ली के नारायणा थाने में कराई हुई थी। 

पुलिस ने सीडीआर के आधार पर संजय की आखिरी लोकेशन ट्रेस की तो सिग्नेचर ब्रिज पर उसकी स्कूटी खड़ी मिल गई। वहां की सीसीटीवी फुटेज में संजय यमुना में छलांग लगाता हुआ दिख गया। शुक्रवार को चार दिन बाद उसका शव यमुना से बरामद हुआ। परिजनों ने पुलिस को बताया कि आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण संजय काफी परेशान थे। 

पुलिस ने शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिवार को सौंप दिया है। संजय के परिवार से पूछताछ कर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
पुलिस के मुताबिक संजय कुमार राय परिवार के साथ बुराड़ी में रहते थे। इनके परिवार में पत्नी के अलावा दो बेटी हैं। संजय नारायणा स्थित एक फैक्टरी में सुपरवाइजर की नौकरी करते थे। 

गत 18 अक्तूबर को वह घर से फैक्टरी गए थे। इसके बाद वह घर वापस नहीं लौटे। परिजनों ने उनकी कंपनी में कॉल की तो पता चला कि वह कंपनी आए थे, लेकिन वहां से निकल गए। परिजनों ने उसी दिन देर रात को संजय की गुमशुदगी नारायणा थाने में करा दी। पुलिस ने छानबीन की तो मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस सिग्नेचर ब्रिज पहुंच गई। वहां पर संजय की स्कूटी खड़ी थी। 
... और पढ़ें

फर्जीवाड़ा: संसद भवन में प्रवेश के लिए बनाया फर्जी एंट्री पास, बिहार सरकार के मंत्री का निजी सचिव गिरफ्तार

सिग्नेचर ब्रिज (फाइल फोटो)
संसद भवन में प्रवेश के लिए फर्जी एंट्री पास बनाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि बिहार सरकार के मौजूदा मंत्री व गोपालगंज से पूर्व सांसद जनक राम के आप्त सचिव (निजी सचिव) ने मौजूदा सांसद के निजी सचिव का पास चोरी कर वारदात को अंजाम दिया। 

पुलिस ने आरोपी आप्त सचिव बबलू कुमार आर्य (26) को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि एक अन्य आरोपी को बिहार से हिरासत में लिया गया है। अपराध शाखा की एक टीम बिहार में जांच के लिए मौजूद है। संसद में फर्जी एंट्री पास को सुरक्षा एजेंसियों ने गंभीरता से लिया है। 

पुलिस के अलावा कई अन्य एजेंसियां मामले की जांच कर रही हैं। पुलिस सूत्रों का कहना है कि बबलू के कहने पर पास बनाने वाले इंटरनेट कैफे मालिक मुकेश कुमार को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की जा रही है। फर्जी पास बनाने की बबलू की आखिर क्या मंशा थी, इसकी पड़ताल की जा रही है।

अपराध शाखा की पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज ने बताया कि पिछले दिनों संसद भवन में बबलू कुमार आर्य के नाम से संसद के फर्जी एंट्री पास बनाने का मामला संज्ञान में आया था। बिहार के गोपालगंज से मौजूदा सांसद डॉ. आलोक कुमार सुमन के पीए ज्योति भूषण कुमार भारती को जारी किए गए पास के साथ छेड़छाड़ कर दूसरा पास बनाया गया था। 
... और पढ़ें

दिल्ली: ईएसआई के डॉक्टर व फार्मासिस्ट ने हेराफेरी कर बेच दी करोड़ों की दवाई, अपराध शाखा ने पांच को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने ईएसआई डिस्पेंसरी में दी जाने वाली करोड़ों रुपये की दवाएं फर्जीवाड़े से बेचने के आरोप में एमबीबीएस डॉक्टर, दो फार्मासिस्ट समेत कुल पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। 

पकड़े गए आरोपियों की पहचान मास्टर माइंड एमबीबीएस डॉक्टर ग्रेटर नोएडा निवासी डॉ. अविनाश सैनी (41), ग्रीन फील्ड कालोनी, फरीदाबाद निवासी फार्मासिस्ट चंद्र प्रकाश (33), फार्मासिस्ट अंकित मिश्रा (23) व दो दवाओं के दो खरीदार प्रवीन मंगला (40) और सुमेश राठी (52) के रूप में हुई है। आरोपी डॉक्टर अविनाश सैनी, चंद्र प्रकाश के कहने पर मरीजों को बिना जरूरत के कीमती दवाएं लिख देते थे। बाद में इन दवाओं को मरीजों को न देकर उनको डिस्पेंसरी के स्टॉक से निकालकर बेच दिया जाता था। 

बाजार में बेच रही थी ईएसआई की दवाई
सभी आरोपी वर्ष 2018 से दवाएं चोरी कर रहे हैं। आशंका व्यक्त की जा रही है कि आरोपी पिछले तीन सालों के दौरान करोड़ों की दवाएं बेच चुके हैं। अपराध शाखा के पुलिस उपायुक्त राजेश देव ने बताया कि उनकी टीम को सूचना मिली कि कुछ लोग सरकारी ईएसआई की डिस्पेंसरी की दवाएं चोरी करके उनको मार्केट में बेच रहे हैं। इसमें डिस्पेंसरी के डॉक्टर व फार्मासिस्ट भी शामिल हैं। सूचना के बाद इंस्पेक्टर नरेश सोलंकी व एसआई कृष्ण कुमार ने आरोपियों की जानकारी जुटाना शुरू कर दी। 

सभी दवाइयों पर ईएसआई की लगी थी मोहर
सूचना के बाद पुलिस की टीम ने बदरपुर इलाके से दवाएं बेचते हुए रंगे हाथों चंद्र प्रकाश व प्रवीन मंगला को गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से ईएसआई डिस्पेंसरी में इस्मेमाल की जाने वाली लाखों की दवाईयां मिलीं। सभी दवाईयों पर ईएसआई की मोहर लगी थी। पूछताछ के दौरान आरोपी दवाइयों के बारे में कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए। पुलिस ने दवाइयों को कब्जे में लेकर उनकी स्टाक रिकॉर्ड से जांच की। सभी दवाइयां ईएसआई कार्ड धारकों को जारी की हुई दिखाई गई थीं। कुछ मामलों में कार्ड धारक डिस्पेंसरी आए ही नहीं थे, लेकिन उनके नाम पर दवाई जारी थीं।
... और पढ़ें

दिल्ली मेट्रो: आज सवेरे यलो लाइन पर बाधित रहेंगी सेवाएं, यात्री फीडर बस का कर सकते हैं इस्तेमाल

दिल्ली मेट्रो से सफर करने वालों के लिए डीएमआरसी ने आवश्यक सूचना जारी की है। दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने बताया कि रविवार को कुछ घंटे के लिए येलो लाइन पर सेवाएं बाधित रहेंगी। येलो लाइन पर विश्वविद्यालय और मॉडल टाउन स्टेशनों के बीच रविवार सुबह 7:30 बजे से कुछ घंटों के लिए मेट्रो नहीं चलेगी। 

रखरखाव के कार्यों के कारण येलो लाइन पर सेवाएं बाधित रहेंगी, लेकिन अन्य लाइनों पर मेट्रो सेवाएं सामान्य दिनों की तरह ही जारी रहेंगी। इसके साथ ही डीएमआरसी ने यह भी जानकारी दी कि यात्रियों को परेशानी से बचाने के लिए इस दौरान दिल्ली मेट्रो की फीडर बस सेवाएं मुफ्त में उपलब्ध रहेंगी। यात्री अपने मेट्रो की फीडर बस सेवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें टिकट नहीं लेना पड़ेगा।
... और पढ़ें

दिल्ली: रविवार-डेंगू पर वार, घर में नहीं जमा होगा पानी, तभी थमेगी डेंगू की मनमानी

डेंगू के खिलाफ अपने रविवार के अभियान में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवालों से अपील की है कि वह सुबह 10 बजे, 10 मिनट के लिए अपने घर और नजदीकी इलाकों पर नजर दौड़ा लें। अगर कहीं साफ पानी जमा हो तो उसे साफ कर दें। इससे दिल्ली को डेंगू मुक्त बनाने में मदद मिलेगी।

दरअसल, दिल्ली सरकार हर हफ्ते रविवार को '10 बजे, 10 हफ्ते, 10 मिनट' अभियान चला रही है। इसके तहत लोगों से अपने घर के आस-पास साफ पानी जमा न होने देने या जमा पानी में तेल की कुछ बूंदे डालने की अपील की जाती है। मुख्यमंत्री समेत दिल्ली के सभी मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों व बड़ी संख्या में दिल्लीवासी इस अभियान से जुड़े हैं। 

कोशिश डेंगू को जड़ से खत्म करने के है। इसी कड़ी में इस रविवार अभियान की टैग लाइन 'डेंगू अभियान से जुड़े हैं हम सब, डेंगू को हराकर ही दम लेंगे अब' दी गई है। अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली अब डेंगू के खिलाफ लड़ाई को जीतने के नजदीक हैं। 

इस रविवार को भी सुबह 10 बजे, 10 मिनट के लिए हमें अपने घर और आसपास में देखना है कि कहीं साफ पानी जमा तो नहीं है। अगर है तो उसे उड़ेल दें, बदल दें या उसमें तेल डाल दें। आइए, दिल्ली को डेंगू मुक्त बनाएं।

साफ पानी में पैदा होता डेंगू का मच्छर
डेंगू के मच्छर केवल साफ पानी में पनपते हैं। साफ पानी के अंदर डेंगू के अंडे पैदा होते हैं और वो अंडे 8 से 10 दिन के अंदर मच्छर में बदल जाते हैं। अगर हम सभी 8 दिन से पहले उस जमा पानी को बदल दें, तो अंडे नष्ट हो जाएंगे और मच्छर पैदा नहीं हो पाएंगे। इस अभियान की संकल्पना इसी के इर्द-गिर्द बुनी गई है कि घर के नजदीक गड्ढ़ा, कूलर, गमलों, टंकी आदि में पानी जमा न होने दें।
... और पढ़ें

आप का दावा: गोवा विधानसभा चुनाव से पहले सीएम प्रमोद सावंत को पद से हटा देगी भाजपा

आम आदमी पार्टी (आप) ने दावा किया है कि गोवा विधानसभा चुनाव से दो महीने पहले भाजपा अपने मुख्यमंत्री बदलने जा रही है। आप ने इसे गोवा के मुख्यमंत्री की नाकामी और जनता के बढ़ते गुस्से के बीच भाजपा की अपनी साख बचाने की कोशिश करार दिया है। 

आप ने सिलसिलेवार ढंग से गोवा सरकार की नाकामियों को भी बताया है। आप ने कहा कि गोवा के लोग इसे समझ रहे हैं। मुख्यमंत्री बदलने से भाजपा की साख नहीं लौटेगी। दिल्ली स्थित पार्टी दफ्तर में मीडिया से बात करते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा गोवा में अपना मुख्यमंत्री बदलने जा रही है। भाजपा ये मान रही है कि गोवा के मौजूदा मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत के नाकामी से जनता में उनके प्रति गुस्सा बढ़ा है।

उत्तराखंड और कर्नाटक के बाद गोवा में भी वही प्रयोग दोहराने जा रही भाजपा
सिसोदिया के मुताबिक, विश्वसनीय सूत्रों से इस बारे में पता चला है कि भाजपा किसी दूसरे नेता मुख्यमंत्री बनाने जा रहा है। इस बदलाव के लिए सिसोदिया ने 10 बिंदु गिनाए, जिस पर गोवा के मुख्यमंत्री नाकाम रहे हैं। उनका दावा है कि भाजपा ये मान चुकी है कि गोवा की जनता मौजूदा प्रमोद सावंत सरकार से दुखी है। मनीष सिसोदिया ने कहा कि उत्तराखंड और कर्नाटक के बाद भाजपा गोवा में भी वही प्रयोग दोहराने जा रही है। लेकिन मुख्यमंत्री बदलने से अब कोई फायदा नहीं होगा। उनका दावा है कि गोवा की जनता अपना मूड बना चुकी है। इस चुनाव में आम आदमी पार्टी की सरकार बनेगी।

मनीष सिसोदिया ने गिनाए दस प्वांट्स
. कोरोना मैनेजमेंट में फेल प्रमोद सावंत सरकार
. प्रमोद सावंत सरकार में भ्रष्टाचार
. कोविड रिलीफ के नाम पर झूठ
. वेतन वृद्धि निकली जुमला
. आपदा प्रबंधन के मामले में भी फेल
. गोवा के युवाओं को नहीं मिली नौकरी
. माइनिंग माफिया से नहीं मिली निजात
. कानून व्यवस्था की स्थिति बदहाल
. बदहाल शिक्षा व्यवस्था
. बिजली-पानी की आसमान छूती कीमतें
... और पढ़ें

Kisan Andolan: 26 अक्तूबर को नहीं होगी किसान महापंचायत, अब 22 नवंबर को हुई प्रस्तावित

  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00