बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

राहत: बारिश ने धोया दिल्ली-एनसीआर का प्रदूषण, छह दिसंबर से बढ़ेगी हवा की रफ्तार, सुधरेंगे हालात

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: शाहरुख खान Updated Sat, 04 Dec 2021 12:14 AM IST

सार

सफर के मुताबिक, पड़ोसी राज्यों में जलने वाली पराली की घटनाओं में कमी आ रही है, जबकि दिल्ली में स्थानीय स्तर पर होने वाला प्रदूषण बढ़ रहा है। वहीं, मिक्सिंग हाइट व हवा की कम रफ्तार प्रदूषण को थामे हुए है। 
फाइल फोटो
फाइल फोटो - फोटो : istock
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मौसम के बदले  मिजाज से 2 तारीख को हुई बारिश ने दिल्ली-एनसीआर की हवा को गंभीर श्रेणी से मुक्त कर दिया। शुक्रवार को राजधानी का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 73 अंकों की गिरवाट के साथ गंभीर से खिसक कर बहुत खराब श्रेणी में पहुंच गया है। 
विज्ञापन


वायु मानक संस्था सफर का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटे में हवा में अधिक बदलाव  नहीं होगा। रविवार से हवाएं तेज चलेंगी और प्रदूषण का स्तर कम होगा। 

सफर के मुताबिक, पड़ोसी राज्यों में जलने वाली पराली की घटनाओं में कमी आ रही है, जबकि दिल्ली में स्थानीय स्तर पर होने वाला प्रदूषण बढ़ रहा है। वहीं, मिक्सिंग हाइट व हवा की कम रफ्तार प्रदूषण को थामे हुए है। बीते 24 घंटे में हवा में पीएम 10 का स्तर 248 व पीएम 2.5 का स्तर 148 माइक्रोग्राम प्रतिघन मीटर रहा। सफर का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटे में हवा की रफ्तार मध्यम रहेगी। इससे प्रदूषण पर अधिक प्रभाव नहीं पड़ेगा। आगामी पांच दिसंबर से तेज हवाएं चलने की संभावना है, जिससे प्रदूषकों को फैलने में मदद मिलेगी। 


शुक्रवार को कुछ देर के लिए बादलों ने डेरा डाला, लेकिन बीच-बीच में निकली धूप व एक दिन पहले हुई बारिश की वजह से प्रदूषक धरती की सतह पर बैठ गए। इससे दिनभर मौसम साफ रहा और हवाओं की हल्की रफ्तार रही।  

भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान(आईआईटीएम) के मुताबिक, शुक्रवार को हवा की  रफ्तार चार से आठ किमी प्रतिघंटा रिकॉर्ड की गई। वहीं, मिक्सिंग हाइट 700 मीटर व वेंटिलेशन इंडेक्स एक हजार वर्ग मीटर प्रति सेकेंड रिकॉर्ड किया गया। आईआईटीएम का पूर्वानुमान है कि शनिवार को हवा की रफ्तार चार किमी प्रतिघंटा व मिक्सिंग हाइट एक हजार मीटर रहेगी। 

इससे वेंटिलेशन इंडेक्स 2500 वर्ग मीटर प्रति सेकेंड रिकॉर्ड किया जा सकता है। वहीं, रविवार को हवा की रफ्तार छह से आठ किमी प्रति घंटा व मिक्सिंग हाइट 1500 मीटर रह सकती है। इससे वेंटिलेशन इंडेक्स  बढ़कर 3600 वर्ग मीटर प्रति सेकेंड हो जाएगा। वेंटिलेशन इंडेक्स बढ़ने से हवा भी साफ होगी। 

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड(सीपीसीबी) के मुताबिक, शुक्रवार को दिल्ली का एक्यूआई 346 रहा। इससे एक दिन पहले यह 429 रहा था। वहीं, फरीदाबाद का एक्यूआई 292 रिकॉर्ड किया गया, जबकि बृहस्पतिवार को यह 428 रहा था। इसके अलावा गाजियाबाद का एक्यूआई 342,  ग्रेटर नोएडा का एक्यूआई 262 व गुरुग्राम का 296 व नोएडा का एक्यूआई 312 रहा। गौरतलब है कि बृहस्पतिवार को दिल्ली देश का सबसे प्रदूषित व फरीदाबाद दूसरा सबसे प्रदूषित शहर रिकॉर्ड किया गया था। 

               3 दिसंबर     2 दिसंबर
दिल्ली        346           429
फरीदाबाद  292          428
गाजियाबाद  342         347
ग्रेटर नोएडा  262         356
गुरुग्राम        296         377
नोएडा          312         408 

दिल्ली के पांच हॉटस्पॉट
ओखला
जहांगीरपुरी
मुंडका
द्वारका
रोहिणी
 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00