Hindi News ›   Education ›   APJ Abdul Kalam 6th Death Anniversary: know about apj abdul kalam and about incidence happened in iim shillong

एपीजे अब्दुल कलाम पुण्यतिथि: आखिर आईआईएम शिलांग में उस दिन क्या हुआ था? जानिए यहां

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: वर्तिका तोलानी Updated Tue, 27 Jul 2021 12:21 PM IST

सार

देश के पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की आज छठी पुण्यतिथि है।
एपीजे अब्दुल कलाम
एपीजे अब्दुल कलाम - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम, जिन्हें भारत के मिसाइल मैन के रूप में भी जाना जाता है, का 27 जुलाई, 2015 को आईआईएम शिलांग में एक व्याख्यान देने के दौरान निधन हो गया था। राष्ट्रपति के रूप में सबसे ज्यादा प्यार पाने वाले एपीजे अब्दुल कलाम ने 2002 और 2007 के बीच भारत के 11वें राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया। आईआईएम शिलांग के छात्रों को संबोधित करते हुए कलाम मंच पर गिर पड़े। उसके गिरने के तुरंत बाद, उन्हें शहर के एक अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जाता है कि दिन का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया था। आईए पूर्व राष्ट्रपति के छठवीं पुण्यतिथि पर जाने पूरा घटनाक्रम

विज्ञापन

कलाम के बारे में आईआईएम शिलांग के निदेशक ने कही थी यह बात

आईआईएम शिलांग के तत्कालीन निदेशक अमिताभ डे ने मीडिया को दिए साक्षात्कार ने कहा था कि संस्थान डाॅ. एपीजे अब्दुल कलाम को एक पूर्व राष्ट्रपति की तुलना में एक शिक्षक के रूप में अधिक देखता है। आमतौर पर आईआईएम, प्रबंधन और सामाजिक मुद्दों पर सेमिनार में आयोजित करते हैं। लेकिन चूंकि डॉ. कलाम एक वैज्ञानिक थे, इसलिए हमने राष्ट्रीय विकास के लिए विज्ञान और मानवतावाद विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया था।

7.45 बजे डॉक्टरों ने डॉ. कलाम को मृत्य घोषित किया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एपीजे अब्दुल कलाम 27 जुलाई 2015 को आईआईएम-शिलांग के द्वितीय वर्ष के छात्रों को 'एक रहने योग्य ग्रह बनाना' विषय पर व्याख्यान देने वाले थे। डॉ कलाम ने भाषण की शुरुआम में अपने अनुभव साझा कर रहे थे, लगभग 6.30 बजे यानी भाषण शुरू होने के 15 मिनट बाद वह अचानक बेहोश हो गए। वहां मौजूद सभी विद्यार्थी, अधिकारी और स्टाफ बेहद घबरा गए। वे स्टाफ की मदद से डॉ कलाम को बेथानी अस्पताल ले गए, जहां सैन्य अस्पताल और उत्तर पूर्वी इंदिरा गांधी क्षेत्रीय स्वास्थ्य और चिकित्सा विज्ञान के डॉक्टरों की एक टीम ने उनका उपचार कर ठीक करने की कोशिश की। हालांकि डॉक्टर उन्हें स्वस्थ्य करने में नाकाम रहे और उन्होंने शाम 7.45 बजे डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को मृत्य घोषित किया।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00