लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Entertainment ›   Bollywood ›   Read the story of Rishi Kapoor's first film

Rishi Kapoor: पढ़िये ऋषि कपूर की पहली फिल्म का किस्सा, चॉकलेट के लिए दिया था शॉट

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: ललित फुलारा Updated Sat, 12 Feb 2022 02:50 PM IST
सार

क्या आपको अपने जमाने के मशहूर अभिनेता ऋषि कपूर की पहली फिल्म का किस्सा मालूम है? उन्होंने अपनी पहली फिल्म में एक चॉकलेट के लिए शॉट दिया था।

ऋषि कपूर
ऋषि कपूर - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

क्या आपको अपने जमाने के मशहूर अभिनेता ऋषि कपूर की पहली फिल्म का किस्सा मालूम है? उन्होंने अपनी पहली फिल्म में एक चॉकलेट के लिए शॉट दिया था। दरअसल, ऋषि कपूर को फिल्म श्री 420 में एक शॉट देना था। इस शॉट में उनको अपने भाई-बहन के साथ बारिश में चलना था। लेकिन उस वक्त जैसे ही बारिश की बूंदें ऋषि पर पड़ती थी, वो रोने लगते थे। जिसके कारण शूटिंग नहीं हो पा रही थी। इसके बाद नरगिस ने ऋषि कपूर को मनाया।



नरगिस ने ऋषि कपूर से कहा कि अगर वो रोएंगे नहीं और अपनी आंखों को खुली रखेंगे तो उनको चॉकलेट दी जाएगी। उस वक्त ऋषि को एक छोटे से रोल के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही थी। नरगिस के मनाने और चॉकलेट का लालच देने पर ऋषि ने यह शॉट सही से दिया। ऋषि कपूर ने अपने एक इंटरव्यू में खुद इसका खुलासा किया था। उनका कहना था कि चॉकलेट का लालच देने पर न मैं रोया और न ही मैंने आंखें बंद कीं और इस तरह मेरा पहला शॉट शूट हुआ। इस तरह फिल्म 'श्री 420' 1955 में रिलीज हुई। फिल्म में  राज कपूर और नरगिस लीड रोल में थे। ऋषि कपूर फिल्म के एक गाने 'प्यार हुआ इकरार हुआ' में थोड़ी देर के लिए ही दिखाई दिए थे। इस गाने में बारिश में राज कपूर और नरगिस के पीछे चलने वाले तीन बच्चों में से एक ऋषि कपूर थे। उस वक्त उनकी उम्र तीन साल थी।


फिल्म 'श्री 420' के बाद ऋषि ने 1970 में आई फिल्म 'मेरा नाम जोकर' में अभिनय किया था। फिल्म में ऋषि ने राज कपूर के बचपन का किरदार निभाया था। इस फिल्म को लेकर भी मजेदार किस्सा है। जिसे खुद ऋषि ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था। उनका कहना था, उस वक्त हम सभी खाना खा रहे थे।  पिता राज कपूर ने 'मेरा नाम जोकर' फिल्म में मुझे कास्ट करने की बात मां कृष्णा को बताई। पिता ने मां से कहा कि वो मुझे इस फिल्म में अपने यंग वर्जन प्ले करने के लिए कास्ट कर रहे हैं। उस वक्त उनकी मां नहीं चाहती थी कि वो फिल्मों में काम करें, क्योंकि इससे उनकी पढ़ाई प्रभावित हो सकती थी। ऋषि, मां और पिता की बात को सुनने के बाद खाना खाकर अपने कमरे में आ गये और अपनी स्टडी टेबल की दराज से एक फुल शीट निकाली और उस पर ऑटोग्राफ देने की प्रैक्टिस करने लगे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00