Hindi News ›   Entertainment ›   Hollywood ›   Britney Spears Loses Court Case against CONSERVATORSHIP

नहीं मिली आजादी: केस हार गईं ब्रिटनी स्पीयर्स, नहीं मिली 'कंजरवेटरशिप' से मुक्ति

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: शुभांगी गुप्ता Updated Thu, 01 Jul 2021 03:14 PM IST

सार

  • ब्रिटनी स्पीयर्स ने अपने पिता जेमी स्पीयर्स के संरक्षण से मुक्त होने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।
  • अब खबरें आ रही हैं कि ब्रिटनी यह केस हार गई हैं और उन्हें 'कंजरवेटरशिप' से आजादी नहीं मिली है।
ब्रिटनी स्पीयर्स
ब्रिटनी स्पीयर्स - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

ग्रैमी अवॉर्ड विजेता अमेरिकन सिंगर ब्रिटनी स्पीयर्स इन दिनों अपने पिता के साथ कानूनी मामले को लेकर जबरदस्त चर्चा में हैं। ब्रिटनी ने अपने पिता जेमी स्पीयर्स के संरक्षण से मुक्त होने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। कंजरवेटरशिप से मुक्त होने के लिए ब्रिटनी ने कई बयान दिए थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ब्रिटनी अब यह केस हार गई हैं और उन्हें कंजरवेटरशिप से आजादी नहीं मिली है।

विज्ञापन


बता दें, करीब 13 साल से ब्रिटनी अपने पिता जेमी स्पीयर्स के संरक्षण में हैं। वही उनके करियर और जीवन को लेकर सभी फैसले लेते हैं। ब्रिटनी ने अमेरिका के लॉस एंजिल्स की अदालत से कहा कि उनके इस अपमानजनक संरक्षण को खत्म किया जाए और उन्हें उनकी जिंदगी वापस की जाए। ब्रिटनी ने कोर्ट में 13 साल से चली आ रही कंजरवेटरशिप के खिलाफ कहा था, 'मुझे मेरी जिंदगी, मेरी आजादी वापस चाहिए। 13 साल हो चुके हैं, अब बहुत हुआ।' ब्रिटनी मानसिक रूप से ठीक नहीं हैं। इस वजह से उनके पिता 2008 से कानूनी तौर पर उनकी देखरेख कर रहे हैं। ब्रिटनी के पिता जेमी स्पीयर्स के पास कानूनी अधिकार है, जिसके चलते वो अपनी बेटी के जीवन से जुड़ा हर फैसला ले सकते हैं। इसमें उनकी पर्सनल लाइफ और पैसों से जुड़े मामले भी शामिल हैं।

ब्रिटनी स्पीयर्स
ब्रिटनी स्पीयर्स - फोटो : सोशल मीडिया

एक सुनवाई के दौरान ब्रिटनी ने जज से कहा था, 'पिछले 13 साल से मुझे जबरदस्ती ड्रग्स दी गई। मेरी इच्छा के विरुद्ध काम करने को मजबूर किया गया। इतना ही नहीं मुझे मेरे शरीर से जबरन लगे हुए बर्थ कंट्रोल डिवाइस को हटाने से भी रोका गया। मैं अपनी जिंदगी वापस चाहती हूं। कंजरवेटरशिप से मेरा भला होने से अधिक नुकसान हो रहा है। मैं एक बेहतर जिंदगी पाने की हकदार हूं।' गायिका ने कहा कि वह अपने प्रेमी से शादी करना चाहती हैं और बच्चा चाहती हैं, लेकिन 'कंजरवेटरशिप' व्यवस्था उन्हें इसकी अनुमति नहीं दे रही है। ब्रिटनी ने कहा था, "मैं आगे बढ़ना चाहती हूं। शादी करना और बच्चा पैदा करना चाहती हूं। मुझे संरक्षण के दौरान बताया गया कि मैं बच्चा पैदा नहीं कर सकती और ना शादी कर सकती हूं। मेरे शरीर में एक IUD डिवाइस लगाई गई है ताकि मैं गर्भवती न हो सकूं। मैं इस डिवाइस को बाहर निकालना चाहती हूं ताकि मां सकूं। लेकिन मुझे डॉक्टर के पास नहीं जाने दिया, वे नहीं चाहते कि मैं प्रेग्नेंट हो सकूं।'

ब्रिटनी स्पीयर्स
ब्रिटनी स्पीयर्स - फोटो : सोशल मीडिया
आखिर क्या है कंजरवेटरशिप ?
कंजरवेटरशिप, अमेरिका में संरक्षकता की एक कानूनी अवधारणा है, जहां कोर्ट के द्वारा प्रतिनिधियों का चुनाव होता है, उस शख्स के लिए जो मानसिक या शारीरिक रूप से खुद की देखभाल करने में असमर्थ हैं। यह आमतौर पर बुजुर्ग लोगों के लिए किया जाता है या फिर मानसिक स्वास्थ्य से पीड़ित लोगों के लिए जो सिजोफ्रेनिया जैसी बीमारी से जूझ रहे हों। ऐसे में ब्रिटनी के मामले में उनकी वित्तीय संपत्ति से लेकर अन्य कोई भी फैसला सिंगर के पिता जेमी स्पीयर्स और एक वकील करते हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे Bollywood News, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट Hollywood News और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00