बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें
Myjyotish

अपार धन की प्राप्ति हेतु कामिका एकादशी को कराएँ श्री लक्ष्मी-विष्णु जी का विष्णुसहस्त्रनाम-फ्री, रजिस्टर करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

गोरखपुर: रेलवे ट्रैक पर मिली युवती की लाश, हत्या की आशंका जताई

गोरखपुर के गीडा थाना क्षेत्र के गहासाड़ रेलवे फाटक के पास सोमवार को एक युवती का शव ट्रैक पर मिला। युवती का पैर कटा था। घटना की सूचना पर पहुंची मां ने पूर्व में छेड़खानी करने वाले दरोगा पर हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, दिनेश प्रसाद की बेटी सुषमा (18) का शव मिलने की सूचना ट्रेन ड्राइवर ने पुलिस को दी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शिनाख्त के बाद घरवालों को जानकारी दी तो उसकी मां संगीता भी पहुंच गई।

मां ने हत्या करने का आरोप लगाते हुए बताया कि 28 अप्रैल की रात में उसकी बेटी के साथ तब बस्ती के रहने वाले सहजनवां थाने में तैनात दरोगा ने छेड़खानी की थी। भागते समय उसका सर्विस रिवाल्वर भी छूट गया था। पुलिस ने उस पर कार्रवाई की थी जिस वजह से वह खुन्नस रखता था।

मां का आरोप है कि उसने ही रेलवे ट्रैक के सामने बेटी को फेंककर हत्या कर दी है। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक गीडा दिनेश दत्त मिश्र का कहना है कि ट्रेन के ड्राइवर के शव की जानकारी मिली। प्रथम दृष्टया आत्महत्या का मामला है लेकिन दूसरे विभिन्न पहलुओं पर भी पुलिस जांच कर रही है।

 
... और पढ़ें

गोरखपुर: युवक की गला रेतकर हत्या की कोशिश, एयरफोर्स इलाके में इस हाल में मिला शख्स

गोरखपुर जिले के कैंट इलाके स्थित एयरफोर्स स्टेशन के पास एक युवक की गला रेतकर हत्या की कोशिश की गई। सोमवार की सुबह युवक को बेसुध हाल में देखकर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उसे इलाज के लिए भर्ती कराया। युवक के गले पर गहरे घाव हैं। उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

जानकारी के मुताबिक, सोमवार की सुबह सड़क किनारे पड़े बेसुध युवक को देखकर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी थी। पुलिस मौके पर पहुंची तो उसके गर्दन पर गहरे घाव के निशान मिले। पुलिस ने पहचान करने की कोशिश की लेकिन कोई सुराग नहीं मिल पाया। देखने से युवक की उम्र करीब 40 वर्ष लग रही है।

कैंट इंस्पेक्टर सुधीर सिंह ने बताया कि घायल को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। उसके फोटो के जरिए पहचान करने की कोशिश की जा रही है। मौजूदा साक्ष्य से लग रहा है कि वह कबाड़ बीनने वाला है। फिलहाल जांच जारी है।

 
... और पढ़ें

गोरखपुर: गर्भवती सहित चार को मनबढ़ों ने पीटा, लूट का आरोप

गोरखपुर में सहजनवां इलाके के ग्राम हरदी में नाली विवाद को लेकर सोमवार की सुबह गांव के मनबढ़ों ने खेत मे निराई करने गई गर्भवती सहित चार को पीट कर घायल कर दिया। महिलाओं का आरोप है कि  गहने भी लूट लिए। पीड़ित ने चार आरोपियों के खिलाफ थाने में तहरीर दे दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

जानकारी के मुताबिक, सहजनवां क्षेत्र के ग्राम हरदी निवासी प्रभावती पत्नी रामनेवास ने आरोप लगाया कि सोमवार को करीब आठ बजे परिजनों के  साथ गांव के सिवान के बाहर धान के खेत मे निराई कर रही थी। उसी दौरान गांव के मनबढ़ों ने नाली विवाद को लेकर लाठी-डंडा तथा धारदार हथियार से लैस होकर खेत में पहुंच गए।

खेत मे निराई कर रहे पूरे परिजनों को पीट कर घायल कर दिए। जिसमें सरोजा देवी (35) पत्नी छविलाल जो गर्भवती है, उसे भी पीट कर घायल कर दिए है। इसके अलावा प्रभावती (40), गुड्डी (35), विशाल (21) गंभीर रूप से घायल है। पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए सीएचसी सहजनवां भेजा। जिसमें सरोजा को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

आरोप है कि महिलाओं के गहने भी लूट कर फरार हो गए हैं। पीड़िता ने गांव के चार आरोपियों के खिलाफ थाने में तहरीर दे दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। थानाध्यक्ष राज प्रकाश सिंह ने कहा कि तहरीर मिली है ।आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

गोरखपुर: पत्नी से विवाद के बाद दी थी खुद की हत्या की सूचना, ऐसे रची थी साजिश

गोरखपुर जिले में झंगहा इलाके के बेलवा गांव में पत्नी से नाराज होकर युवक घर छोड़ कर चला गया और खुद की हत्या की सूचना दे दी थी। युवक ने अपने शरीर पर लाल रंग पोतकर फोटो साले के व्हाट्सएप पर दोस्त के मोबाइल से भेज दी थी ताकि सब उसे मरा समझें। हत्या की सूचना पर दौड़ी पुलिस को शव ना मिलने पर संदेह हो गया था। शुक्रवार को गांव लौटे युवक को पुलिस ने पकड़ लिया।

जानकारी के मुताबिक, 27 जुलाई की रात पुलिस को सूचना दी गई कि मारपीट कर सनी देवल उर्फ अमित की हत्या कर दी गई है। इस सूचना पर पुलिस तत्काल गांव में पहुंच गई। शव नहीं मिला तो परिजनों ने व्हाट्सएप पर आए एक फोटो को दिखाकर बताया कि यही सनी देवल है।

वह खून से लथपथ दिख रहा था। फोटो देखकर ही पुलिस समझ गई थी कि यह खून नहीं बल्कि रंग है। मगर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी। पता चला कि वह दिल्ली भाग गया है। शुक्रवार को सनि फिर अपने घर पहुंचा और पत्नी से विवाद शुरू कर दिया।

पत्नी ने पुलिस को उसके जिंदा होने और विवाद करने की जानकारी दी जिसके बाद पहुंची पुलिस ने आरोपित सनी देवल को गिरफ्तार कर झूठी सूचना देने के आरोप में जेल भेज दिया।
 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

गोरखपुर: बरात निकलने से पहले युवक ने उठाया ऐसा कदम, जानकर दंग रह गए परिजन

गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां गोरखनाथ थाना क्षेत्र के रसूलपुर में शुक्रवार को बरात निकलने से पहले सिराज (35) ने फंदे से लटककर खुदकुशी कर ली। सिराज का फंदे से लटकता शव देख कर घर की खुशियां मातम में बदल गईं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की पड़ताल में जुट गई है। खुदकुशी की वजह प्रेम संबंध बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, रसूलपुर निवासी सिराज की शुक्रवार की सुबह बरात जानी थी। बृहस्पतिवार की रात घर में निकाह की तैयारियां व बाकी रस्में चल रही थीं। देर रात तक कार्यक्रम के बाद वह सोने चले गए।

सुबह काफी देर तक सिराज के नहीं उठने पर परिजन उसे जगाने पहुंचे तो कमरा अंदर से बंद था। लोगों ने खिड़की से देखा तो उनके होश उड़ गए। सिराज का शव पंखे से बंधे फंदे से लटका हुआ था। परिजनों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इंस्पेक्टर रामाज्ञा सिंह ने बताया कि युवक की घर में ही रेडीमेड कपड़ों की दुकान थी। आत्महत्या की वजह के बारे में घरवाले कुछ स्पष्ट नहीं बता पा रहे हैं। जांच में प्रेम प्रसंग की बात सामने आई है।

 
... और पढ़ें

कबूलनामा: बिहार का कुख्यात अपराधी ने गिरफ्तारी के बाद बताई ऐसी बात, सुनकर पुलिस भी रह गई हैरान

यूपी-बिहार का दो लाख रुपये का इनामी बदमाश का कबूलनामा हैरान करने वाला है। उसने पूछताछ में बताया कि उसने एक व्यक्ति से आठ लाख में एके 47 खरीदने की बात कबूल की है।

बिहार प्रांत के गोपालगंज जिले के ग्राम प्रताप पुर थाना मांझागढ़ जिला गोपालगंज निवासी एक दबंग अवैध असलहा तस्कर है। मुन्ना मिश्रा ने स्वीकार किया कि पुलिस ने जो एक-47 उसके पास से बरामद की है, उसे उसने आठ लाख रुपये में खरीदी थी। इसके अलावा एक-47 में प्रयुक्त होने वाली गोलियां नौ सौ रुपये प्रति गोली के हिसाब से खरीदी थी।

उसने बताया कि गिरफ्तारी से कुछ दिन पूर्व भी संदेश आया था कि एक और एके-47 आ गई है। खरीदना चाहो तो खरीद सकते हो। उसने पुलिस को बताया कि 2018 में उसका एक सहयोगी जो हत्या के केश में जेल में बंद था। वह जमानत पर बाहर आया तो उसके पास आने जाने लगा।

वहीं पर उसका परिचय ग्राम बभनी थाना भोरे जिला गोपालगंज निवासी, ग्राम सिधरिया थाना कटया जिला गोपालगंज निवासी से हुआ। इसी बीच मुन्ना ने भोरे क़स्बे में विकास सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। वह बड़ा अपराधी बनकर नाम कामना चाहता था।
... और पढ़ें

गोरखपुर में डबल मर्डर: नम आंखों से भाजपा नेता ने मां और बेटे को दी मुखाग्नि, कुदाल से काटकर की गई थी हत्या

गोरखपुर जिले के हरपुर बुदहट के तेनुवा में 27 जुलाई को दोहरे हत्याकांड के बाद गुरुवार को पंजाब से लौटे, भाजपा नेता परशुराम ने मां विमला देवी और दो साल के बेटे मार्कंडेय को मुखाग्नि दी। इस मौके पर राजघाट पर अंतिम संस्कार में शामिल लोगों की आंखें भी सजल हो गईं।
 
जानकारी के मुताबिक, परशुराम, वारदात के दिन 27 जुलाई को पंजाब में मौजूद थे। दो दिन बाद लौटने पर सबसे पहले वह मेडिकल कॉलेज में भर्ती पत्नी से मुलाकात करने गए। उन्हें वहां से डिस्चार्ज कराकर वह जिला अस्पताल पहुंचे, जहां उनकी मां और बेटे का शव रखा गया था। 

दोनों शवों को देखकर वह फूट फूटकर रोये। मौजूद दोस्तों और रिश्तेदारों ने किसी तरह उन्हें संभाला। यहां से शवों को राजघाट पर ले जाया गया, जहां दोनों का अंतिम संस्कार किया गया। 

इस दौरान राजघाट पर भाजपा जिलाध्यक्ष युधिष्टिर सिंह, सबल सिंह, लालजी यादव, हरपुर बुदहट थाने से प्रभारी निरीक्षक उदयशंकर कुशवाहा, चौकी प्रभारी आशीष तिवारी सहित रिश्तेदार और पुलिसकर्मी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

गोरखपुर में लूट: सिद्धार्थनगर के स्वर्ण कारोबारी का बदमाशों ने लूटा सोना, जांच में जुटी पुलिस

गोरखपुर में डबल मर्डर।
बाइक सवार दो बदमाशों ने सिद्धार्थनगर के स्वर्ण कारोबारी से कैंपियरगंज इलाके के हड़हवा पुल पर 200 ग्राम सोना लूट लिया। कारोबारी बुधवार की रात पत्नी के साथ कार बुक कर गोरखपुर से सिद्धार्थनगर लौट रहे थे। घटना की सूचना पर एडीजी अखिल कुमार और एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु मौके पर पहुंच गए। कैंपियरगंज थाने में केस दर्ज करने के साथ ही पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस की तीन टीमें बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए लगाई गईं हैं।

जानकारी के मुताबिक, सिद्धार्थनगर के शोहरतगढ़ के भारत माता चौक निवासी स्वर्ण कारोबारी अरविंद नाथ वर्मा अपनी पत्नी के साथ बुधवार को निजी काम से गोरखपुर आए थे। रात में एक कार बुक कर वह सिद्धार्थनगर लौट रहे थे। कैंपियरगंज के हड़हवा पुल के पास एक बाइक पर सवार दो बदमाश आए और कार पंचर होने की बात कही। ड्राइवर कार रोककर टायर चेक करने लगा।

इतने में बाइक सवार वापस आए और कार की चाबी निकाल ली। दोनों ने ड्राइवर और अरविंद को असलहा सटा दिया और दोनों के मोबाइल और सोना लूटकर फरार हो गए। अरविंद ने राहगीरों की मदद से घटना की सूचना पुलिस को दी जिसके बाद आला अफसर भी मौके पर पहुंच गए। घटना के पर्दाफाश के लिए पुलिस की तीन टीमें लगा दी गई हैं। लूटे गए सोने की कीमत नौ लाख रुपये बताई गई है।
 
... और पढ़ें

पुलिस की पिटाई से किसान की मौत का मामला: पत्नी ने दोपहर में थाने जाकर खिलाया था खाना, रात में मिली मौत की खबर

संतकबीरनगर जिले के शिवबखरी के बहरैची के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं था। फिर भी बखिरा पुलिस तीन दिनों से उसे थाने में रखा था। मंगलवार दोपहर बहरैची की पत्नी दुर्गावती  ने थाने जाकर उसे खाना खिलाया था। रात में उसे पति की मौत की खबर मिली। रोते हुए दुर्गावती ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पट्टीदारों से मिलकर उसके पति को पीट-पीटकर मार डाला। उसने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई और शासन-प्रशासन से आर्थिक मदद दिलाने की मांग की है।
 
जानकारी के मुताबिक, शिवबखरी गांव निवासी बहरैची (50) पुत्र गया प्रसाद खेती करता था। उसने इस बार प्रधानी का चुनाव लड़ा था लेकिन हार गया था। उसके तीन बेटे संजय, चंदन कुमार और अशोक हैं। इकलौती बेटी की शादी हो चुकी है। बड़े बेटे संजय की शादी हुई है। दुर्गावती ने बताया कि पट्टीदारी की एक युवती कुछ दिन पहले कहीं चली गई। युवती के परिजन ने उसके बेटे पर उसे भगा ले जाने का शक जताए और उसके पति बहरैची की जमकर पिटाई करके पुलिस को सौंप दिया। रविवार से ही पुलिस बहरैची को थाने में बैठाए थी। बिना किसी अपराध किए पुलिस उसके पति को थाने में रोक कर रखी और पीट-पीटकर मार डाली। उसके पति की मौत की सूचना जिला अस्पताल के जरिए मिली।
... और पढ़ें

कुशीनगर: नवविवाहिता का गला रेतकर सड़क पर फेंका, कई घंटे दर्द से तड़पती रही महिला

कुशीनगर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां जटहां बाजार थाना क्षेत्र के पखनहा गांव के सुगौली चौराहा के पास बुधवार तड़के 25 वर्षीया एक विवाहिता का गला रेतकर फेंक दिया गया। वह घायलावस्था में मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस उसे इलाज के लिए भेजवाकर कार्रवाई में जुट गई। उसका इलाज मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में चल रहा है। नवविवाहिता वहां जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है।

बुधवार तड़के कुछ लोग पखनहां गांव के सुगौली चौराहे पर दुकान खोलने जा रहे थे। चौराहे के पास ही एक झोपड़ी के किनारे एक नवविवाहिता बेसुध पड़ी कराह रही थी। नजदीक जाकर लोगों ने देखा तो उसका गला किसी धारदार हथियार से रेता हुआ था। ग्रामीणों के पूछने पर महिला ने बताया कि सरेह में पति तथा एक अन्य उसका गला रेतकर आधी रात को फेंक दिए और भाग गए।

महिला के अनुसार वह धीरे-धीरे चौराहे पर पहुंचकर बैठ गई। उसका नाम रेहाना है, जो महराजगंज जिले के निचलौल थाना क्षेत्र के बढ़ेया पिपरपाती गांव के निवासी मैनुद्दीन की पुत्री है। रेहाना ने बताया कि उसकी शादी खड्डा में हुई है। उसका आरोप है कि पति हाल में ही दूसरी शादी कर ली है। पखनहा के ग्राम प्रधान ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

मौके पर पहुंचे एसओ नंदा प्रसाद नवविवाहिता का इलाज कराने सीएचसी विशुनपुरा ले गए, जहां से उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। जिला अस्पताल के डॉक्टर ने भी उसकी हालत गंभीर देखते हुए मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। युवती मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में जीवन और मौत से जूझ रही है। एसओ नंदा प्रसाद ने बताया कि युवती का इलाज गोरखपुर में हो रहा है। उसके बयान के हिसाब से आरोपियों की तलाश कराई जा रही है। शीघ्र उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 
... और पढ़ें

एक कॉल से करवा दी हत्या: दुबई से दी सुपारी, गोरखपुर के युवक ने कर्नाटक में कर दी हत्या

दुबई में बैठे एक व्यक्ति ने गोरखपुर के स्वामीनाथ निषाद को सुपारी देकर दस दिन पूर्व कर्नाटक के उडुपी में अपनी पत्नी की हत्या करा दी। हत्या का पर्दाफाश करते हुए कर्नाटक पुलिस गोरखपुर आई और एक हफ्ते पहले स्वामीनाथ को गिरफ्तार कर साथ ले गई। बेलीपार के चारपानी निवासी स्वामीनाथ का स्थानीय स्तर पर कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं मिला है। गोरखपुर में मदद के लिए कर्नाटक पुलिस ने एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु की सराहना की है।

एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु के मुताबिक, बेलीपार का निवासी स्वामीनाथ उडुपी में पेंट-पॉलिश का काम करता था। इस दौरान वहां एक व्यक्ति से उसका नजदीकी संबंध हो गया। वह दुबई में रहकर काम करता है। दुबई से एक दिन उसने अचानक स्वामीनाथ से बातचीत कर पत्नी की हत्या की सुपारी दे दी और उसके खाते में पांच लाख रुपये भी भेज दिए।

स्वामीनाथ ने मुंबई के अपने एक साथी के साथ मिलकर महिला की हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक पति को महिला के चाल-चलन पर संदेह था। हत्या में उसका नाम न आए, इसलिए उसने दुबई से वाट्सएप काल के जरिये स्वामीनाथ से बात की थी।

बात तय होने पर उसने स्वामीनाथ के खाते में पांच लाख रुपये भेजे। स्वामीनाथ एक पार्सल ले जाने के बहाने महिला के पास गया और गला कस कर उसकी हत्या कर दी। उसने महिला के शरीर से सभी जेवरात उतार लिये और दरवाजा बाहर से लॉक कर दिया।

पुलिस की छानबीन में पूरी बात सामने आ गई। एसएसपी ने बताया कि स्वामीनाथ को कर्नाटक पुलिस ले गई है। स्थानीय स्तर पर उसका कोई भी आपराधिक रिकॉर्ड समाने नहीं है। जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

गोरखपुर डबल मर्डर: पानी गिरने के विवाद में हुई थी दादी-पोते की हत्या, चार गिरफ्तार

गोरखपुर जिले के हरपुर बुदहट इलाके के तेनुआ गांव में मंगलवार की रात पानी गिरने के विवाद में भाजपा नेता परशुराम शुक्ला की मां विमला और बेटे रौनक की हत्या के चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। तीन भाई और एक महिला को पुलिस ने बुधवार को कोर्ट में पेश किया जहां से जेल भेजा गया है।

पुलिस ने इस मामले में तहरीर के आधार पर पांच लोगों पर केस दर्ज किया था। एक आरोपी की उम्र 12 साल के करीब होने की वजह से पुलिस उसे आरोपी नहीं मान रही है। हालांकि उसके भूमिका की जांच की जा रही है। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर हत्या में इस्तेमाल कुदाल बरामद कर लिया है।

आरोपियों की पहचान सीताराम शुक्ला, उनके भाई अंगद शुक्ला, अंगद की पत्नी संगीता और सीताराम की मां उर्मिला के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक, भाजपा नेता परशुराम शुक्ला के घर के सामने ही सीताराम पानी बहाते थे। अब वहां पर पक्का निर्माण भी करते लगे थे।
... और पढ़ें

सिद्धार्थनगर: मामूली बात को लेकर हुआ झगड़ा, बेटे की पिटाई से पिता की हुई मौत

सिद्धार्थनगर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां पिता की डांट इतना नागवार गुजरा की बेटे ने मारपीट शुरू कर दी। मारपीट की इस घटना में पिता ने दम तोड़ दिया। पुलिस को सूचना दिए बगैर परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। घटना बुधवार को शोहरतगढ़ थाना क्षेत्र के एकडेगा भावपुर ग्रांट गांव के टोला तुलसीडीह का है। वहीं पुलिस ने मामले की जानकारी होने से इनकार कर दिया।

शोहरतगढ़ क्षेत्र एकडेगा भावपुर ग्रांट गांव के टोला तुलसीडीह निवासी लोहरमन (50) ने बुधवार को किसी बात पर अपने पुत्र नेपाली को डांट दिया। बताया जा रहा है कि इसके बाद नेपाली ने पिता से कहासुनी के साथ मारपीट शुरू कर दी। मारपीट में लोहरमन गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

परिजनों ने प्राइवेट वाहन से जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृतक घोषित कर दिया। उसके बाद परिजनों ने बिना पुलिस को सूचना दिए बगैर ही अंतिम संस्कार कर दिया है।

गांव के कुछ लोगों से जानकारी मिली कि नेपाली हर रोज सुबह से नशीली दवाओं का सेवन करता है। जिससे उसकी मानसिक संतुलन ठीक नहीं रहता था। आए दिन रोज घर व बाहर में झगड़ा करता था। इस बाबत शोहरतगढ़ थाना एसओ आरबी सिंह ने बताया कि घटना के संबंध कोई जानकारी नहीं है। सूचना मिलेगी तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन