लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Gorakhpur ›   Four policemen sentenced to seven years for robbery and corruption

UP News: विशेष कोर्ट ने सुनाई सजा, लूट व भ्रष्टाचार में चार पुलिसकर्मियों को सात साल की सजा

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Published by: vivek shukla Updated Thu, 29 Sep 2022 05:15 PM IST
सार

 17/18 अप्रैल 2006 की रात अंजनी कुमार सिन्हा वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त रेलवे सुरक्षा बल  लखनऊ अपनी टीम के साथ रेलवे स्टेशन गोंडा आए थे। ट्रेन की जनरल बोगियों के कुछ व्यक्ति सादे कपड़े में यात्रियों का टिकट चेक करते और उनसे जबरन पैसा लूटते मिले

सांकेतिक तस्वीर।
सांकेतिक तस्वीर। - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

 भ्रष्टाचार व लूट का जुर्म सिद्ध पाए जाने पर विशेष न्यायाधीश भ्रष्टाचार निवारण तनु भटनागर ने गोंडा जिले के जीआरपी थाने के तत्कालीन आरक्षी प्रहलाद सिंह, यदुवंश यादव, चकधन नाथ व सुभाष चंद्र यादव को सात साल के कठोर कारावास एवं प्रत्येक अभियुक्त को तीस हजार रुपये अर्थदंड से दंडित किया है।



अभियोजन पक्ष की ओर से विशेष लोक अभियोजक परमानंद राम त्रिपाठी का कहना था कि 17/18 अप्रैल 2006 की रात अंजनी कुमार सिन्हा वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त रेलवे सुरक्षा बल  लखनऊ अपनी टीम के साथ रेलवे स्टेशन गोंडा आए थे। 2.57 बजे जनसेवा एक्सप्रेस प्लेटफार्म नंबर 2 पर आकर खड़ी हुई।


ट्रेन की जनरल बोगियों के कुछ व्यक्ति सादे कपड़े में यात्रियों का टिकट चेक करते और उनसे जबरन पैसा लूटते मिले। उनमें से दो को टीम ने पकड़ लिया। इसी बीच एक व्यक्ति टीम के पास आया और अपने आपको जीआरपी का कर्मचारी बताया और वादी तथा उसकी टीम को गाली गलौच किया और मारपीट की।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00