बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा
Myjyotish

मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

गोरखपुर उपचुनाव: बालापार को छोड़ सभी रिक्त पंचायतों के गठन का रास्ता साफ, इसी सप्ताह सक्रिय हो जाएंगी पंचायतें

गोरखपुर जिले में बालापार पंचायत को छोड़कर जिले की खाली पड़ी सभी पंचायतों के जल्द गठन का रास्ता साफ हो गया है। पंचायतीराज विभाग के मुताबिक इसी सप्ताह नवनिर्वाचित प्रधानों और सदस्यों को शपथ दिलाई जाएगी। इसके बाद ग्राम सभा की पहली बैठक करा दी जाएगी। जिसके बाद से पंचायतें सक्रिय हो जाएंगी।  

जिले के खाली पड़े ग्राम पंचायत सदस्य, प्रधान और बीडीसी सदस्यों के पदों के लिए सोमवार को निर्वाचन कार्य पूरा हो गया। पंचायत उपचुनाव के तहत सुबह आठ से नौ बजे तक संबंधित ब्लॉकों में मतों की गिनती शुरू हुई और शाम तक सभी नतीजे घोषित हो गए। कई ब्लॉकों में दो से चार घंटे में मतगणना पूरी हो गई।

जिले में प्रधान और बीडीसी सदस्य के 6-6 पदों के अलावा ग्राम पंचायत सदस्य के 191 पदों के लिए 12 जून को हुई वोटिंग के दौरान कुल 33964 वोट पड़े थे। सोमवार सुबह आठ बजे आरओ, प्रत्याशियों व उनके एजेंटों की मौजूदगी में स्ट्रांगरूम की सील खोलकर बैलेट बॉक्स निकाले गए। इसके बाद वोटों की गिनती शुरू हुई। दोपहर 12 बजे से नतीजे आने लगे। मतों की गिनती के लिए 150 कर्मचारी लगाए गए थे।

बता दें कि सामान्य त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के बाद जिले में ग्राम पंचायत सदस्य के 4496 पद, ग्राम प्रधान के सात और बीडीसी सदस्य के नौ पद खाली रह गए थे। नाम वापसी के बाद अधिकतर पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो गया। कुछ पदों पर नामांकन नहीं हुआ था। ऐसे में सदस्य के 191 पदों तथा ग्राम प्रधान के सात रिक्त पदों में से एक पर निर्विरोध निर्वाचन के बाद छह पदों के लिए मतदान हुआ था।

बीडीसी सदस्य के नौ पदों में दो पर निर्विरोध निर्वाचन और पिपरौली के वार्ड नंबर 52 का मतदान निरस्त हो जाने के बाद बचे सिर्फ छह पदों के लिए वोटिंग हुई थी। उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी होने के अगले दिन बालापार की प्रधान की मृत्यु हो जाने से इस पद के लिए निर्वाचन नहीं हो सका। अब इसके लिए बाद में उपचुनाव का कार्यक्रम घोषित होगा।
 
... और पढ़ें
पंचायत उपचुनाव के मतपत्र गिनते कार्मिक। पंचायत उपचुनाव के मतपत्र गिनते कार्मिक।

अमर उजाला फाउंडेशन: गोरखपुर में महादानियों ने किया रक्तदान, लोगों में खूब दिखा उत्साह

गोरखपुर में कोरोना संकट और भारी बारिश के बीच विश्व रक्तदाता दिवस के मौके पर महादानियों ने खूब जोश दिखाया। अमर उजाला फाउंडेशन की ओर से सोमवार को पहला शिविर जिला अस्पताल, दूसरा बीआरडी मेडिकल कॉलेज और तीसरा लाइफ लाइन चैरिटेबल ट्रस्ट ब्लड बैंक में आयोजित किया गया। तीनों शिविरों में 78 लोगों ने रक्तदान किया। चिकित्सकों ने रक्तदान में बढ़कर हिस्सा लिया तो लोगों में और उत्साह जग गया। कई रक्तदाताओं ने पंजीकरण कराते हुए भविष्य में महादान करने का संकल्प लिया।  

जिला अस्पताल में रक्तदान शिविर का उद्घाटन सीडीओ इंद्रजीत सिंह, सीएमओ डॉ सुधाकर पांडेय, जिला अस्पताल के एसआईसी डॉ एके श्रीवास्तव और ब्लड बैंक के प्रभारी डॉ एसके यादव ने किया। इस दौरान युवाओं में खूब उत्साह देखा गया। जिला अस्पताल के फीजियोथेरेपिस्ट डॉ रविंद्र ओझा ने रक्तदान कर कार्यक्रम की शुरुआत की। बारिश के बावजूद 30 लोग आए और रक्तदान किया। ब्लड बैंक की टीम प्रभारी के नेतृत्व में शिद्दत से लगी रही।


 
... और पढ़ें

Exclusive: शादी की पहली रात में ही टूट रहे हैं पति-पत्नी के रिश्ते, वजह जानकार हो जाएंगे हैरान

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में हाल के दिनों में पत्नियों ने अपने पति पर केस दर्ज कराया है। इसका कारण जानकर आप एक पल के लिए हैरान हो जाएंगे। दरअसल, नशे की लत और दूसरों से आगे निकलने की होड़ में बढ़ते तनाव से शारीरिक कमजोरी आ रही है। इसका असर पति-पत्नी के रिश्तों पर पड़ रहा है। मामला चिकित्सक, फिर थाने तक पहुंच रहा है। हाल के महीनों में गोरखपुर में ऐसे तीन मामले सामने आ चुके हैं। शारीरिक रूप से कमजोर एक पुरुष के खिलाफ रामगढ़ताल थाने में पत्नी ने मुकदमा भी दर्ज कराया है। आरोप है कि धोखाधड़ी करके शादी रचाई गई है। सुहागरात के दिन ही शारीरिक कमजोरी पकड़ में आ गई।

जानकारी के मुताबिक, समाज में आज भी लोग शादी तय करने से पहले लड़के या लड़की के बारे में पूरी जानकारी करवाते हैं। हिचक आज भी इतनी है कि कोई भी यौन संबंधों पर बात करने से बचता है। इसकी जानकारी तभी होती है जब शादी हो जाती है। ऐसे में पहले तो पति इस कमी को बताने से बचता है। जब हकीकत सामने आती है तो तमाम लोग समझौता कर साथ रहने को मजबूर करते हैं। आगे की स्लाइड्स में पढ़ें पूरी खबर...
 
... और पढ़ें

सोशल मीडिया पर हुई थी मोहब्बत: निकाह के वक्त बोलने में हकलाया युवक, शादी किए बगैर लौट गए लोग

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के कोल्हुई थाना क्षेत्र के एक गांव में रविवार को निकाह के दौरान दूल्हे के जाति वर्ग का पोल खुल गई। इसके बाद लड़की पक्ष के लोगों ने शादी करने से साफ इनकार कर दिया। वहीं, हंगामा शुरू हो गया। मामला पुलिस के पास पहुंचा तो दोनों बालिग होने के कारण पुलिस भी मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर सकी। लिहाजा बगैर शादी दोनों पक्ष घर लौट गए।

पुलिस के अनुसार, किसी भी पक्ष से तहरीर न मिलने के कारण कोई कार्रवाई संभव नहीं है जिसे दोनों पक्ष बिना शादी किए अपने घर चले गए। मामला कोल्हुई थाना क्षेत्र के एक गांव की युवती से सिद्धार्थनगर जिले के रहने वाले एक युवक से सोशल मीडिया पर चैटिंग के दौरान दोनों में प्यार हो  गया।

दोनों के बीच बातचीत का सिलसिला जारी रहा। इसमें दो साल का वक्त गुजर गया। इसके बाद दोनों ने शादी करने की इच्छा जताई। युवती के घर वालों ने शादी पर सहमति जताते हुए बरात लाने की बात कही तो युवक ने कोरोना महामारी का हवाला देते हुए दो चार लोगों को ही बरात लाने की बात कही।
 
युवक रविवार को कुछ लोगों के साथ निकाह करने आया। मौलवी ने निकाह पढ़ाना शुरू किया। इस बीच कुछ शब्दों को बोलने के दौरान वह हकलाने लगा। मौलवी को शक हुआ तो उसकी तलाशी लेने पर जेब में पैन कार्ड मिला जिससे उसके समुदाय की पोल खुल गई। दूल्हे के साथ उसके घर वाले शादी में नहीं आए थे। प्रभारी निरीक्षक कोल्हुई दिलीप शुक्ला ने कोई कार्रवाई नहीं होने की पुष्टि की।
... और पढ़ें

गोरखपुर: आधी रात को पड़ोसी महिला के कमरे में घुसा युवक, लहूलुहान होकर लौटा वापस

सांकेतिक तस्वीर।
उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां झंगहा इलाके के दुबौली गांव में रविवार की रात करीब एक बजे घर में घुसे पड़ोस के युवक पर महिला ने चाकू से हमला कर दिया। हमले के बाद लहूलुहान युवक शोर मचाते हुए छत पर पहुंचा। आसपास के लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया।

महिला पर पुलिस ने हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर सोमवार को कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेजा गया है। वहीं घायल को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। महिला का आरोप है कि पड़ोसी युवक दुष्कर्म की नीयत से घर में घुसा था।

जानकारी के मुताबिक, झंगहा के दुबौली गांव निवासी उमालाल चौहान (40) के पड़ोस में ही रंचना नाम की महिला रहती है। बताया जा रहा है कि पहले दोनों के बीच अच्छी बातचीत थी। किसी बात पर दोनों में विवाद हो गया। महिला रंचना के पति नरेंद्र बाहर रहते हैं। इस वजह से वह घर पर अकेली ही रहती हैं और आत्मरक्षा के लिए तकिए के नीचे रोजाना चाकू लेकर सोती हैं।

रविवार की रात में करीब एक बजे छत के रास्ते उनके घर में पड़ोसी उमालाल घुस गए। खटपट की आवाज होने पर रंजना की नींद खुल गई और उन्होंने चाकू से वार कर दिया। लहूलुहान उमालाल चीख पड़े और उलटे पांव छत के रास्ते ही अपनी छत पर जाकर शोर मचाने लगे। रात में शोर सुनकर आसपास के लोग भी एकत्र हो गए और फिर पुलिस को घटना की सूचना दी गई।

सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। तब रंचना घर से फरार हो गई थी लेकिन फिर पुलिस ने खोजकर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने घायल के भतीजे प्रशांत की तहरीर पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर लिया है।

वहीं रंचना का कहना है कि उमालाल उनके घर में दुष्कर्म के इरादे से घुसे थे। घटना की असल वजह स्पष्ट नहीं हो सकी है। थानेदार संजय मिश्रा ने बताया कि असल वजह की जांच की जा रही है। हत्या की कोशिश का केस दर्ज कर आरोपी महिला को जेल भेजा गया है। चाकू बरामद कर लिया गया है। गले पर गहरा जख्म होने से उमालाल का बयान दर्ज नहीं किया जा सका है। उमालाल संविदा बिजली कर्मचारी हैं। उनकी तैनाती के पास ही गजाईकोल उपकेंद्र पर है। वह तीन बच्चों के पिता हैं। घटना के समय पत्नी और बच्चे घर में सोए हुए थे।
... और पढ़ें

बस्ती: 15 साल की किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, पांच महीने तक रही खामोश, गर्भवती होने पर दर्ज कराया केस

उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 15 साल की किशारी से तीन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। पांच महीने बाद जब वह गर्भवती हो गई तो मामला अपने आप लोगों के सामने आ गया।

बताया जा रहा है कि घास काटने गई कप्तानगंज थानाक्षेत्र की 15 वर्षीय किशोरी के साथ गांव के तीन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। धमकी दी कि यदि किसी को बताया तो जान से मार देंगे। डर के मारे पीड़िता ने अपनी जुबान बंद रखी। मगर पांच महीने बाद जब उसकी तबियत बिगड़ी तो मां डॉक्टर के यहां ले गई। तब पता चला कि उसके पेट में पांच माह का गर्भ है।

जानकारी होने पर परिवार वालों के पैरों तले जमीन सरक गई। पीड़िता के पिता के अनुसार, वह थाने पर तहरीर लेकर गए और तीन लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया। प्रभारी निरीक्षक बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि पिता की तहरीर पर बृजेश निषाद, गोरख निषाद और प्रदीप निषाद के विरुद्ध सामूहिक दुष्कर्म व पॉक्सो सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

चिंता: कोरोना से ठीक होने के बाद सता रहा गंजा होने का डर, जानिए क्या है इसकी वजह

कोरोना संक्रमण से मुक्ति के बाद अब लोग बाल झड़ने और त्वचा संबंधित रोगों से परेशान हैं। ऐसे लोगों को गंजा होने का डर सता रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस के लक्षणों से उबरने के बाद लोग शारीरिक और मानसिक तनाव में हैं। इसकी वजह से बहुत लोग बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं। गोरखपुर जिला अस्पताल की ओपीडी में प्रतिदिन आठ से 10 मरीज इस समस्या को लेकर पहुंच रहे हैं।

जिला अस्पताल के त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. एनके वर्मा ने बताया कि कोविड के कारण बालों की झड़ने की समस्या को टेलोजन एफ्लुवियम (टीई) कहते हैं। टीई तनाव और पौष्टिक आहार न मिलने के कारण होता है। यह मानसिक और शारीरिक तनाव की प्रक्रिया में होता है। कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके लोगों को टीई का खतरा ज्यादा है। क्योंकि टीई तब बढ़ता है, जब शारीरिक रूप से लोग बीमार होते हैं। 
... और पढ़ें

धर्म कर्म: जानिए इस सप्ताह पड़ेंगे कौन-कौन से त्योहार, क्या है उनका महत्व

जून माह के नए सप्ताह की शुरुआत सोमवार से हो गई है। हिंदू पंचांग के मुताबिक इस सप्ताह में कई महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार पड़ने वाले हैं। ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि से इस सप्ताह की शुरुआत हुई है और इसका समापन ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि होगी। पंडित अवधेश मिश्रा के अनुसार, आइए जानते हैं इस सप्ताह में कौन-कौन से व्रत एवं त्यौहार पड़ेंगे...

विनायक चतुर्थी
इस सप्ताह की शुरुआत ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि से हुई है, ऐसे में सोमवार को विनायक चतुर्थी मनाई जा रही है। हिंदू पंचांग के अनुसार हर माह में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी का पावन पर्व मनाया जाता है।

मिथुन संक्रांति
15 जून मिथुन संक्रांति है। इस दिन सूर्य वृषभ राशि से निकलकर मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे।

स्कंद षष्ठी
16 जून स्कंद षष्ठी है। यह दिन भगवान शंकर और माता पार्वती के पुत्र और भगवान गणेश के भाई स्कंद भगवान को समर्पित है। स्कंद को मुरुगन, कार्तिकेय और सुब्रह्मण्य के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन विधि- विधान से भगवान स्कंद की पूजा-अर्चना की जाती है।

मासिक दुर्गाष्टमी
18 जून को मासिक दुर्गाष्टमी का पावन पर्व मनाया जाएगा। हर माह में शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को दुर्गाष्टमी मनाई जाती है। इस दिन विधि-विधान से मां दुर्गा की पूजा-अर्चना होती है।
 
गंगा दशहरा
ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा दशहरा मनाया जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इसी दिन मां गंगा का धरती पर अवतरण हुआ था। इस दिन विधि- विधान से मां गंगा की पूजा- अर्चना करनी चाहिए।
... और पढ़ें

गोरखपुर: पुलिस मुठभेड़ में हिस्ट्रीशीटर अमित को लगी गोली, दो सिपाही भी चोटिल

गोरखपुर शहर के रामगढ़ताल इलाके के नौकायन के पास रविवार की आधी रात बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ हो गई। घेराबंदी के दौरान पुलिस की जवाबी  फायरिंग में थाने का हिस्ट्रीशीटर अमित सिंह गोली लगने से घायल हो गया। उसका एक साथी खोराबार निवासी चिरई बाइक से भाग गया। घायल अमित को पुलिस ने जिला अस्पताल में दाखिल कराया है। उसके दाहिने पैर में गोली लगी है।

एसपी सिटी सोनम कुमार के मुताबिक, रामगढ़ताल थाने के हिस्ट्रीशीटर मंझरिया निवासी अमित (26) द्वारा वारदात की सूचना मिली थी। इसके बाद इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह और दारोगा अक्षय मिश्रा टीम के साथ वाहनों की चेकिंग करने लगे। 

रात में नौकायन के पास दो बदमाश बाइक से आते दिखे। पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो बदमाश फायरिंग करने लगे। बचाव और घेराबंदी के दौरान प्रवीण कुमार पांडेय और बबलू कुमार भी गिरकर घायल हो गए। पुलिस ने खुद को बचाते हुए घेराबंदी की तो बदमाशों ने पुलिस को टारगेट करके गोली दागी।

इंस्पेक्टर जगत नारायण सिंह ने भी जवाबी कार्रवाई की, जिसमें अमित के दाहिने पैर में घुटने के पास गोली लगी और वह गिर गया। आरोपी के पास से 315 बोर का तमंचा, पांच कारतूस, तीन खोरा मिला है। एक बाइक भी मिली है। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us