बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
साप्ताहिक स्वास्थ्य राशिफल 16 से 22 मई : कन्या राशि समेत इन पांच राशियों के लोगों को रखना होगा खास ख़्याल
Myjyotish

साप्ताहिक स्वास्थ्य राशिफल 16 से 22 मई : कन्या राशि समेत इन पांच राशियों के लोगों को रखना होगा खास ख़्याल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

क्लैट 2019 : सोशल मीडिया से दूरी बनाकर की तैयारी, पाई 26वीं रैंक, दिए कारगर टिप्स

क्लैट में ऑल इंडिया 26वीं रैंक हासिल करने वाली अदिति सेठ ने सोशल मीडिया से दूरी बनाकर तैयारी की।

16 जून 2019

विज्ञापन
Digital Edition

गुजरात: रेमडेसिविर की किल्लत, इंजेक्शन के लिए सूरत में भाजपा कार्यालय के बाहर लगी लंबी लाइन

सरकारी भर्ती : समग्र शिक्षा अभियान के तहत स्नातकों के लिए यहां निकलीं बंपर नौकरियां

सरकारी नौकरी चाहने वालों के लिए एक अच्छी खबर है। गुजरात में सरकारी भर्ती निकली है। यहां राज्य सरकार की ओर से समग्र शिक्षा अभियान ने नैदानिक अनुसंधान समन्वयक यानी क्लीनिकल रिसर्च कॉर्डिनेटर शार्ट में कहें तो सीआरसी के पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू हो गई है। समग्र शिक्षा अभियान (SSA) ने सीआर कॉर्डिनेटर के कई पदों के लिए अधिसूचना जारी कर आवेदन आमंत्रित किए हैं।

गुजरात सरकार के समग्र शिक्षा अभियान भर्ती के तहत इन पदों पर आवेदन ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे। आवेदन के इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार समग्र शिक्षा अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 15, अप्रैल, 2021 है। कुल पदों की संख्या 250 है। 
 
... और पढ़ें

गुजरात के वडोदरा में जुड़वां नवजात बच्चे मिले कोरोना संक्रमित, अभी हालत स्थिर

गुजरात: द्वारका में पति की कोविड-19 से मौत के बाद महिला ने अपने दो बेटों के साथ की आत्महत्या 

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

गुजरात:  रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी का पुलिस ने किया भंडाफोड़, 10 लोग गिरफ्तार

कोरोना के इलाज में प्रभावी रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी कर रहे 10 लोगों को अहमदाबाद पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है। दो अलग-अलग घटनाओं में दबोचे गए ये लोग एक गिरोह के सदस्य हैं। इनसे पुलिस ने असली व नकली रेमडेसिविर की शीशियों के अलावा 21 लाख रुपये नकद बरामद किए हैं।

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए लोगों में से एक युवक मिलन सवासिया फार्मा कंपनी में काम करता है। मिलन शहर के बाहरी इलाके में स्थित जाइडस बायोटेक पार्क में प्लांट ऑपरेटर है, जहां रेमडेसिविर दवा का निर्माण होता है। गिरोह के लोग अब तक कोरोना रोगियों के रिश्तेदारों को 29,000 रुपये प्रति शीशी के हिसाब से करीब पांच हजार नकली रेमडेसिविर की शीशियां बेच चुके हैं।
... और पढ़ें

DC VS KKR: पृथ्वी शॉ के आगे नाइटराइडर्स जमीं पर, दिल्ली ने 7 विकेट से कोलकाता को हराया

दिल्ली के आक्रामक सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (82 रन, 41 गेंद, 11 चौके, तीन छक्के) की आतिशी पारी ने आईपीएल मैच में यहां कोलकाता नाइट राइडर्स को 21 गेंदें शेष रहते सात विकेट से हरा दिया। दिल्ली को 155 रन का लक्ष्य मिला था जो टीम ने 16.3 ओवरों में तीन विकेट पर 156 रन बनाकर हासिल कर लिया।

सात मैचों में पांचवीं जीत के साथ दिल्ली अंक तालिका में दूसरे स्थान पर आ गई। कोलकाता को सात मैचों में 5वीं बार हार का सामना करना पड़ा। इस पारी के साथ पृथ्वी इस सीजन में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में 269 रन बनाकर तीसरे स्थान पर भी आ गए हैं। 

पहले ही ओवर में छह चौके  
दिल्ली कैपिटल्स के पृथ्वी शॉ ने शिवम मावी के पहले ही ओवर में छह चौके जड़े। पहली गेंद वाइड थी, उसके बाद पृथ्वी ने लगातार छह चौके जड़े। वह टी20 में ऐसे पहले बल्लेबाज हो गए हैं जिन्होंने पहले ही ओवर में छह चौके जड़े। इससे पहले टी20 में पहले ओवर में रिकॉर्ड पांच चौकों का था जो पांच बल्लेबाजों ने किया था।

पृथ्वी का दूसरा संयुक्त तेज अर्द्धशतक 
पृथ्वी शॉ का 18 गेंदों पर अर्द्धशतक दिल्ली की ओर से दूसरा संयुक्त तेज अर्द्धशतक है। रिकॉर्ड क्रिस मौरिस के नाम है जिन्होंने  2016 में गुजरात लायंस के खिलाफ 17 गेंदों पर पचासा पूरा किया था। ऋषभ पंत ने मुंबई के खिलाफ 2019 में 18 गेंदों पर ही अर्द्धशतक पूरा किया था।  

दिल्ली की आक्रामक शुरुआत 
दिल्ली ने पावरप्ले के छह ओवरों में बिना विकेट खोए 67 रन बना लिए थे। दिल्ली ने 11 ओवरों में बिना विकेट खोए 104 रन बना लिए थे। शिखर धवन महज चार रन से अपना अर्द्धशतक बनाने से चूक गए। कमिंस ने उन्हें एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। कप्तान ऋषभ पंत ने भी नेट रनरेट बेहतर करने के लिहाज से आक्रामक अंदाज दिखाए और प्रसिद्ध कृष्णा के ओवर में लगातार चौका और छक्का जड़ा। कमिंस ने 16वें ओवर में पृथ्वी और पंत को आउट कर दिया। जब पंत आउट हुए तब चार रन चाहिए थे और स्टोइनिस ने जीत की औपचारिकता पूरी कर दी। 

जन्मदिन पर चमके रसेल 
इससे पहले कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए शीर्ष क्रम का प्रदर्शन कमजोर कड़ी बना हुआ है।  दिल्ली के खिलाफ शुभमन गिल के 43 रन छोड़ दें तो एक बार फिर बल्लेबाजों ने निराश किया। अपने 33वें जन्मदिन पर आंद्रे रसेल ने निचले क्रम में 27 गेंदों में 45 रन की नाबाद पारी खेली जिससे टीम छह विकेट पर 154 रन बनाने में सफल रही। रसेल ने अपनी पारी में दो चौके और चार छक्के लगाए। आंद्रे रसेल का बृहस्पतिवार को 33वां जन्मदिन था और उन्होंने इस पर उन्होंने टी20 में 6 हजार रन भी पूरे कर लिए। 

मोर्गन-नारायण नहीं चले  
पावरप्ले में टीम ने एक विकेट पर 45 रन बनाए थे। नीतीश राणा (15) चौथे ओवर में अक्षर पटेल(2/32) की गेंद स्टंप आउट हो गए थे। कप्तान इयोन मोर्गन और सुनील नारायण ने तीन गेंदों के अंतराल में बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। चोटिल अमित मिश्रा की जगह टीम में आए ललित यादव (2/13) ने दोनों विकेट अपनी झोली में डाले। जो स्कोर दसवें ओवर में एक विकेट पर 69 था, वो ही 11वें ओवर में 4 विकेट पर 75 रन हो गया। 
  •  14 गेंदों पर लगा है आईपीएल में सबसे तेज अर्द्धशतक जो पंजाब के लोकेश राहुल ने दिल्ली के खिलाफ 2016 में बनाया था।
  •  82 रन की पारी खेली पृथ्वी ने 41 गेंदों पर जिसमें 11 चौके और तीन छक्के शामिल थे 
  • 132 रन की साझेदारी हुई पृथ्वी और शिखर धवन के बीच पहले विकेट पर
... और पढ़ें

कोरोना का कहर : इन दो राज्यों में लागू हुआ ग्रीष्मावकाश, 06 जून तक विद्यालयों में छुट्टियां घोषित

शिखर धवन-पृथ्वी शॉ
देशभर में कोरोना महामारी के संक्रमण के मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है। जहां एक ओर स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा रही हैं, वहीं दूसरी ओर बच्चों से लेकर युवाओं तक की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। राज्यों में लॉकडाउन जैसे हालात बन चुके हैं। इस बीच, कई राज्यों में स्कूल, कॉलेज ऑनलाइन कक्षाएं दे रहे हैं तो कुछ राज्यों में शैक्षणिक संस्थानों को बंद कर दिया गया है। इसी क्रम में अब राजस्थान के बाद अब गुजरात सरकार ने भी तमाम विद्यालयों में ग्रीष्मावकाश घोषित कर दिया है। 

गुजरात सरकार की ओर से प्रदेश के विद्यालयों में गर्मियों की छुट्टियों की घोषणा कर दी गई है। राज्य के स्कूलों में तीन मई से छह जून तक गर्मियों की छुट्टियां रहेंगी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए गुजरात सरकार ने नया शैक्षणिक सत्र 2021-2022 अप्रैल 2021 की जगह अब जून 2021 से शुरू करने का फैसला किया है।

गुजरात शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में आधिकारिक अधिसूचना भी जारी कर दी गई है। निजी विद्यालयों के कर्मचारियों को भी गर्मियों की छुट्टियों के समय के दौरान स्कूल जाने से छूट दी गई है। वहीं, शैक्षणिक और अन्य कर्मचारियों को राज्य सरकार, स्थानीय प्रशासन की ओर से महामारी रोकने के संदर्भ में यदि कोई कार्य सौंपा जाए, तो उन्हें करना होगा।
 
उधर, राजस्थान में भी गर्मी की छुट्टियां घोषित
इससे पहले, राजस्थान सरकार ने सभी सरकारी और निजी विद्यालयों में 45 दिनों की गर्मी की छुट्टी की घोषणा की थी। राजस्थान सरकार के आदेश के अनुसार राज्य के सभी राजकीय और निजी विद्यालयों में छह जून, 2021 तक ग्रीष्मकालीन अवकाश यानी गर्मियों की छुट्टियां रहेंगी।

राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा था कि विद्यालयों में घोषित ग्रीष्मावकाश के संबंध में विभागीय आदेश जारी किए गए हैं। हालांकि, शिक्षकों को अलर्ट मोड पर रहने और जिला प्रशासन के आपातकालीन स्थिति में ड्यूटी निर्देशों का पालन करने के लिए कहा गया है। 
... और पढ़ें

कोरोना का खौफ: पारसी समुदाय ने बदला हजारों साल पुराना अंतिम संस्कार का तरीका, अब करेंगे अग्निदाह

कोरोना महामारी के चलते दुनिया भर में रीति रिवाजों, रहन सहन के तरीकों, शादी समारोह से लेकर अंतिम संस्कार तक के तौर तरीके बदल दिए गए हैं। कोरोना महामारी ने पारसी समुदाय को हजारों साल पुरानी परंपरा दोखमे नशीन को बदलकर दाह संस्कार करने पर मजबूर कर दिया है। हालात की गंभीरत को देखते हुए पारसी पंचायत पदाधिकारियों ने कोरोना के चलते जान गंवाने वाले लोगों को अग्निदाह करने की मंजूरी दे दी है।

पारसी पंचायत के सदस्य बताते हैं कि देश में उनके समुदाय के लोगों की जनसंख्या करीब एक लाख है। कोरोना महामारी के चलते कई लोगों की मौत हो गई, ऐसे में कोरोना नियमों का पालन भी करना जरूरी है। यही वजह है कि पारसी समाज के लोगों ने यह निर्णय लिया है। पारसी समाज के लोग अग्नि को अति पवित्र मानते हैं, लेकिन उन्होंने बताया है कि समय के अनुसार परिवर्तन जरूरी है और लोगों को किसी तरह की तकलीफ ना हो इस वजह से उन्होंने अब शव को अग्निदाह करने का फैसला किया है। 
... और पढ़ें

बीईएल भर्ती 2021: उत्तर प्रदेश, राजस्थान समेत आठ रीजन के 268 पदों पर निकलीं हैं नौकरियां

भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय के अधीन नवरत्न कंपनी, भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बीईएल) द्वारा आधिकारिक वेबसाइट पर अधिसूचना जारी कर 268 पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। जारी अधिसूचना के मुताबिक भर्ती प्रक्रिया के जरिए देशभर के 8 रीजन के विभिन्न पदों पर आवेदकों की नियुक्ति की जाएगी। 21 अप्रैल से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इच्छुक अभ्यर्थी बीईएल की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। चयनित अभ्यर्थियों को संविदा के आधार पर भर्ती किया जाएगा।  इस नौकरी से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारी जैसे योग्यता, पदों का विवरण, वेतन आदि के लिए अभ्यर्थी अगली स्लाइड पर जा सकते हैं। 

... और पढ़ें

#LadengeCoronaSe: गुजरात में ऑक्सीजन की कमी से सांसत में आईं सांसें, युवाओं ने 72 घंटे में बना दिया संयंत्र

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर की तेज रफ्तार जारी है। लगातार बढ़ते कोविड मरीजों के चलते कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की भारी किल्लत देखने को मिल रही है। गुजरात के बनासकांठा जिले में ऑक्सीजन की कमी के चलते जब सैकड़ों मरीजों की सांसें सांसत में पड़ गईं, तो बनास डेयरी के इंजीनियरों ने बड़ी ही सूझबूझ दिखाते हुए 72 घंटे के भीतर मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कर दिया। इस ऑक्सीजन प्लांट की मदद से प्रतिदिन 35 से 40 रोगियों के लिए पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिल रही है। 

पालनपुर में बनास डेयरी के वरिष्ठ महाप्रबंधक बिपिन पटेल ने बताया कि हररोज ऑक्सीजन संयंत्र से एक दिन में 70 जंबो ऑक्सीजन सिलेंडर या 680 किलोग्राम उत्पादन हो रहा है, जो 35-40 रोगियों के लिए पर्याप्त है। संयंत्र स्थापित करने के अनुभव के बारे में बताते हुए कहा, हम पालनपुर में एक मेडिकल कॉलेज और एक अनुसंधान संस्थान चला रहे हैं। इसके अलावा हमारा ट्रस्ट जिला नागरिक अस्पताल का भी प्रबंधन करता है। इस मौजूदा स्थिति को देखते हुए हमारे अध्यक्ष ने पूछा है कि हमने क्या किया है। हम क्या कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि अनुमति मिलने के बाद अधिकारियों और इंजीनियरों की डेयरी की टीम ने मिनी ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने के तरीके तलाशने शुरू किए। इसके बाद हमने ऑक्सीजन संयंत्र निर्माण शुरू कर दिया, जो 72 घंटे में तैयार हो गया।
... और पढ़ें

वडोदरा: मस्जिद में बना दिया 50 बेड का कोविड अस्पताल, बोले- इससे बेहतर इबादत नहीं

देश में कोरोना का कहर जारी है। महाराष्ट्र और गुजरात समेत कई राज्यों की हालत गंभीर है। गुजरात में हर रोज सात हजार से ज्यादा मामले आ रहे हैं। हालत ये हो गई है कि अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड कम पड़ गए हैं। इस मुश्किल वक्त में कई धार्मिक स्थल मदद को आगे आ रहे हैं। अस्पतालोंं में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए वडोदरा में जहांगीरपुरा मस्जिद को एक कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया गया है। 



जहांगीरपुरा मस्जिद के संचालक ने अस्पतालों में बेड की कमी देखते हुए यह फैसला लिया। उन्होंने कहा कि मस्जिद में लोगों की जान बचाने से ज्यादा बेहतर कोई इबादत नहीं हो सकती। जहांगीरपुरा मस्जिद के संचालक इरफान शेख ने कहा कि यह संकट का समय है। इस मुश्किल दौर से निपटने के लिए सरकार को घेरने के बजाय सभी को मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते अभी मस्जिद में नमाज नहीं पढ़ी जा रही है। दूसरी ओर कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के चलते अस्पताल में बेड की कमी आ गई है, ऐसे में हमने इस मस्जिद को अभी कोविड सेंटर में तब्दील कर दिया है। फिलहाल, इसमें 50 बेड ऑक्सीजन के साथ लगाए गए हैं।

कहा- मानवता से बढ़ा कोई धर्म नहीं
उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं है और सभी को इस संकट से साथ मिलकर निपटना होगा। सरकार पर आक्षेप लगाने से अच्छा है लोगों की जान बचाने में सहयोग करें। यही अल्लाह की इबादत है, इससे बढ़कर कोई और इबादत हो ही नहीं सकती। 
... और पढ़ें

वडोदरा: श्मशान में मुस्लिम स्वयंसेवक देख भड़के भाजपा नेता, मेयर बोले- संकट में धार्मिक एकता जरूरी

देश में बेकाबू हुई कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर जारी है। देश में कोरोना संक्रमण का कहर इस कदर बरपा है कि श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए कई कई घंटों तक इंतजार करना पड़ रहा है। इस बीच, गुजरात के वडोदरा से शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। वडोदरा के भाजपा नेता शहर के खसवाडी श्मशान घाट में मुस्लिम स्वयंसेवक की मौजूदगी देख भड़क गए। वहीं वडोदरा के मेयर और पार्टी के अन्य नेताओं ने भाजपा नेता के इस रुख को शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के समय में धार्मिक एकता बेहद अहम है। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कुछ नेता 16 अप्रैल को पार्टी के एक नेता के अंतिम संस्कार में शामिल होने खसवाडी श्मशान घाट में पहुंचे थे। इस दौरान श्मशान घाट पर एक मुस्लिम स्वयंसेवक भी मौजूद था, जो शवों के अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी और गोबर के उपले के साथ चिता तैयार करने में मदद कर रहा था। यह देखकर भाजपा नेता भड़क गए और उन्होंने मुस्लिम स्वयंसेवक के चिता तैयार करने पर भारी आपत्ति जताई। 

कहा- इस एकता की नजर से देखने की जरूरत
मुस्लिम स्वयंसेवक की मौजूदगी से नाराज भाजपा नेता वडोदरा नगर निगम में इस संबंध में शिकायत की, लेकिन भाजपा नेताओं की आपत्तियों को निगम ने स्वीकार करने से इनकार कर दिया। महापौर केयूर रोकड़िया ने कहा कि महामारी के समय सभी समुदायों को एक साथ काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस वक्त परिवार वाले भी शव छोड़ जाते हैं, ऐसे में ये स्वयंसेवक अपनी जान की परवाह किए बिना अंतिम संस्कार में मदद के लिए आगे आ रहे हैं। श्मशान घाट पर अगर मुस्लिम स्वयंसेवक काम कर रहे हैं, तो इसे एकता की नजर से देखने की जरूरत है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us