लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Jhajjar/Bahadurgarh ›   another accused arrested in badli blind murder case

बादली के पास हुए ब्लाइंड मर्डर में एक और गिरफ्तार

Rohtak Bureau रोहतक ब्यूरो
Updated Mon, 03 Oct 2022 01:18 AM IST
another accused arrested in badli blind murder case
विज्ञापन
ख़बर सुनें
बहादुरगढ़। नवंबर 2021 में एक युवक की हत्या कर शव को बादली के पास गुरुग्राम नहर में फेंक देने के मामले में पुलिस ने गांव बादली के निवासी प्रवीन उर्फ कल्लू को गिरफ्तार किया है। आरोपी को उप निरीक्षक सतबीर सिंह की टीम ने दुलीना जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाकर गिरफ्तार किया है। ब्लाइंड मर्डर के इस केस में इसी गांव के निवासी दीपक उर्फ राकस को पहले ही पकड़ा जा चुका हैै। मृतक की पहचान बादली निवासी अमन के रूप में हुई थी।

बादली थाना प्रभारी बाबूलाल ने बताया कि आरोपी दीपक 2 नवंबर 2021 को धनतेरस वाले दिन अपने गांव के निवासी अमन के साथ मोटर साइकिल पर सवार होकर निकला। वे दिल्ली के नजफगढ़ से नशीला पदार्थ खरीदने के लिए गए थे। वहां से नशीला पदार्थ खरीदकर लाए और रास्ते में उसका सेवन कर लिया। इसके बाद दोनों बादली के लिए चल दिए। गुभाना-बादली रोड पर केएमपी फ्लाईओवर से पहले गुरुकुल के पास रुककर दोबारा नशीले पदार्थ का सेवन करने लगे। उसी दौरान आरोपी दीपक उर्फ राकस व उसके दोस्त अमन के बीच कुछ कहासुनी हो गई, जो झगड़े में तब्दील हो गई। दीपक ने ईंट से मुंह, सिर व गले पर वार करके अमन की हत्या कर दी। वहां से अपने गांव आकर अपने दोस्त प्रवीण उर्फ कल्लू को सारी बातें बताई। उसके बाद दोनों ने योजना बनाकर सबूत मिटाने की मंशा से मृतक अमन की लाश व ईंटों को गुरुकुल के पास गुरुग्राम नहर में डाल दिया। उसके बाद दोनों वहां से भाग गए और इधर-उधर छुपते रहे।

थाना प्रभारी ने बताया कि दरअसल, वारदात के बाद 7 नवंबर 2021 को गुरुग्राम नहर में मुंडाखेड़ा हेड पर अज्ञात का शव मिला था। डॉक्टरों के बोर्ड ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बताया कि अज्ञात व्यक्ति की मौत हथियारों से चोट मारने के कारण हुई है। शव को पहचान के लिए 72 घंटे तक नागरिक अस्पताल बहादुरगढ़ के शव गृह में रखा गया। शिनाख्त न होने के कारण 11 नवंबर 2021 को नगर परिषद बहादुरगढ़ द्वारा दाह संस्कार करवाया गया। शव का विसरा व डीएनए सैंपल फॉरेंसिक लैबोरेट्री में सुरक्षित रखवाए गए।
मुकदमे की जांच को सफल बनाने के लिए भरसक प्रयास किए जा रहे थे। इस दौरान बादली पुलिस को उपरोक्त मामले के संबंध में गुप्त सूचना मिली और एक आरोपी बादली निवासी दीपक उर्फ राकस को काबू कर लिया। पकड़े गए आरोपी से प्रारंभिक पूछताछ में ब्लाइंड मर्डर की उपरोक्त वारदात का खुलासा हुआ। तब मृतक अमन के परिजनों को बुलाया गया और उनको पुलिस फाइल में लगी अमन की फोटो व पैंफलेट दिखाए गए। जिन्होंने फोटो में अपने लड़के अमन के शव को पहचान लिया। दीपक से पूछताछ हुई तो उसने बताया कि प्रवीन उर्फ कल्लू ने अमन के शव को ठिकाने लगाने में उसकी मदद की थी। अब प्रवीन उर्फ कल्लू को गिरफ्तार करके अदालत में पेश किया गया। अदालत से आरोपी को पूछताछ के लिए दो दिन के पुलिस रिमांड लिया गया है। मामले की गहन जांच जारी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00