लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Rewari ›   People enjoy staging Ramlila on Dussehra in Rewari

Rewari: रावण बने कलाकार को कभी घसीटा तो कभी पीटा, लोगों ने लिया रामलीला के मंचन का आनंद

संवाद न्यूज एजेंसी, रेवाड़ी (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Wed, 05 Oct 2022 10:06 PM IST
सार

गांव बेरली में सर छोटेलाल रामलीला क्लब की ओर से हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी दशहरे विजयदशमी का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया। बेरली कलां में स्कूल मैदान में रावण के पुतले का दहन शाम 6 बजे के बाद किया गया। 

रावण बने कलाकार को कभी घसीटा तो कभी पीटा
रावण बने कलाकार को कभी घसीटा तो कभी पीटा - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा के रेवाड़ी शहर के हुडा मैदान में अहंकारी रावण का पुतला दहन किया गया। इस दौरान लीला देखने वालों की भारी भीड़ उमड़ी रही। पुतला दहन होते ही प्रभु श्रीराम के जयघोष से पूरा वातावरण गुंजायमान हो उठा। इस दौरान कमेटियों की तरफ से रावण के दो पुतले लगाए गए थे। 



दोनों के दहन से पूर्व रावण व राम के युद्ध की लीला का मंचन किया गया। उधर, जिले के बेरली गांव में प्रदेश के सबसे बड़े रावण के पुतले का दहन किया गया। ग्रामीणों ने खुद ही रावण का 135 फीट लंबा पुतला तैयार किया था। पुतले पर करीब डेढ़ लाख रुपये खर्च हुए थे।


यह भी पढ़ें : Haryana: हर्षोल्लास से मनाया दशहरा, यमुनानगर में टला बड़ा हादसा, घरौंडा में विवाद, देखें प्रदेशभर की झलकियां

 गांव बेरली में सर छोटेलाल रामलीला क्लब की ओर से हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी दशहरे विजयदशमी का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया। बेरली कलां में स्कूल मैदान में रावण के पुतले का दहन शाम 6 बजे के बाद किया गया। मंगलवार की शाम को रामलीला कमेटी के कलाकारों की तरफ से रावण के पुतले का क्रेन की सहायता से खड़ा किया गया था।

यह भी पढ़ें : Haryana: यमुनानगर में लोगों पर गिरा रावण का जलता पुतला, फतेहाबाद में दहन से पहले ही बीच से टूटा पुतला

पिछले साल भी 105 फीट के रावण के पुतले का दहन किया गया था।गांव के सरपंच सुखबीर सिंह ने बताया कि यह परंपरा पिछले 80 साल चली आ रही है। रावण का पुतला गांव के ही बच्चों और बुजुर्गों ने मिलकर बनाया था। कार्यक्रम में मुख्यातिथि कोसली विधायक लक्ष्मण सिंह यादव रहे। इससे पूर्व पूरे गांव में श्रीराम, लक्ष्मण, हनुमान, सुग्रीव व अंगध सहित अन्य कलाकारों के साथ झांकी प्रस्तुत की गई।
विज्ञापन

60-60 फीट के लगाए पुतले 
रामलीला स्थल से स्कूल के मैदान तक शोभायात्रा निकाली जाएगी। शहर में जिला सचिवालय के पीछे हुडा मैदान में दो रावण के 60-60 फीट ऊंचे पुतलों का दहन किया गया। इस मैदान में घंटेश्वर महादेव मंदिर आदर्श रामलीला कमेटी और मखनलाल धर्मशाला रामलीला कमेटी की तरफ से पुतले लगाए गए थे। 

पुलिसकर्मी किए गए थे तैनात 
शहर के हुडा मैदान की तरफ जाने वाला रास्ता हो या फिर हुडा मैदान। पुलिस की तरफ से काफी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। शहर के भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों में भी त्योहार को लेकर पुलिस कर्मी तैनात दिखाई दिए। डीएसपी स्तर के अधिकारी भी व्यवस्था पर नजर बनाए हुए थे।

मेले में बच्चों ने की खरीदारी
कोरोना काल के बाद पहली बार रामलीलाओं का आयोजन हुआ है और दशहरा पर्व धूमधाम से मनाया गया है। दशहरा पर्व पर जिले भर में रावण, कुंभकरण व मेघनाथ के पुतलों का दहन हुआ है। वहीं शहर में झांकियां भी निकाली गई हैं।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00