बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

रोहतक: एचसीएस लगवाने के नाम पर एक करोड़ की ठगी, बैंक के पूर्व चेयरमैन ने एसपी को दी शिकायत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रोहतक (हरियाणा) Published by: Trainee Trainee Updated Thu, 07 Oct 2021 04:56 PM IST

सार

इंस्पेक्टर जगबीर कादियान ने बताया कि सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन ने दी शिकायत में आरोप लगाया है कि दिल्ली के एक युवक को वह जानता है। युवक ने उसके भतीजे प्रदीप से कहा कि वह उसकी  एचसीएस की नौकरी लगवा देगा।
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

एक युवक को एचसीएस लगवाने के नाम पर 1 करोड़ रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन अजय ने इस संबंध में पुलिस अधीक्षक को शिकायत दी है। आरोपियों में एक युवक दिल्ली व दूसरा उत्तराखंड का रहने वाला बताया गया है। मामले की जांच कर रही इकोनॉमिक्स सेल के प्रभारी इंस्पेक्टर जगबीर सिंह कादियान का कहना है कि आरोपियों को पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन किसी ने मेडिकल भेजा है तो कोई दूसरा कारण बता रहा है। अब दोबारा 9 अक्तूबर को रोहतक बुलाया गया है।
विज्ञापन



अपराध जांच शाखा के प्रभारी इंस्पेक्टर जगबीर कादियान ने बताया कि सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन ने दी शिकायत में आरोप लगाया है कि दिल्ली के एक युवक को वह जानता है। युवक ने उसके भतीजे प्रदीप से कहा कि वह उसकी एचसीएस की नौकरी लगवा देगा। टेस्ट पास कराने से लेकर ज्वाइनिंग तक उसकी जिम्मेदारी रहेगी।



यह भी पढ़ें - हरियाणा में वारदात: इटावा के युवक की रोहतक में गोली मारकर हत्या, कार में मिला लहूलुहान शव


तीन करोड़ रुपये में सौदा तय हुआ। इसके लिए आरोपी ने अपने 2 दोस्तों के साथ मिलकर पहले  50 लाख रुपये लिए। इसके बाद 50 लाख रुपये गुरुग्राम बुला कर लिए। अब एचसीएस की परीक्षा का परिणाम आया तो नौकरी नहीं लगी। तब उनको अहसास हुआ कि उनके साथ ठगी की गई है। जब इस संबंध में आरोपियों से बात की तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला।

 

सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन अजय ने शिकायत दी है कि तीन लोगों ने उसके भतीजे को एचसीएस की नौकरी लगवाने के नाम पर एक करोड़ रुपये ठगे है। तीनों आरोपियों को पूछताछ के लिए बुधवार को रोहतक बुलाया था, लेकिन नहीं आए। अब दोबारा 9 अक्तूबर को बुलाया गया है। मामले में अभी शिकायत आई है। केस दर्ज नहीं किया गया है।

-इंस्पेक्टर जगबीर कादियान, प्रभारी आर्थिक अपराध जांच शाखा रोहतक पुलिस

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00