लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Yamuna Nagar ›   Hurt by slapping in Panchayat, young man died by swallowing poisonous substance, sister-in-law also consumed poison

पंचायत में थप्पड़ मारने से आहत युवक ने जहरीला पदार्थ निगलकर दी जान, भाभी ने भी खाया जहर

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Mon, 26 Sep 2022 01:54 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
यमुनानगर। सड़क हादसे में हुई भाई की मौत पर मिले क्लेम के 16 लाख रुपयों को लेकर पंचायत में थप्पड़ मारने से आहत कुर्बान (31) ने जहरीला पदार्थ निगलकर आत्महत्या कर ली। मृतक के पिता इकबाल का आरोप है कि सड़क हादसे में जान गंवाने वाले उसके बेटे रुस्तम के ससुर शकील, शकील की पत्नी सुगरा व उनके बेटे मोहम्मद अहमद ने पंचायत में कुर्बान को थप्पड़ मारे। जिससे आहत होकर उसने जहरीला पदार्थ निगला। कुर्बान के जहरीला पदार्थ खाने के बाद उसकी भाभी जुलेखा ने भी जहरीला पदार्थ निगल लिया। परिजनों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसे उपचार दिया जा रहा है। पुलिस ने आरोपी शकील, सुगरा व उनके बेटे मोहम्मद पर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।

बॉम्बेपुर निवासी इकबाल ने प्रतापनगर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके तीन लड़के हैं। सबसे छोटा बेटा कुर्बान, उससे छोटा गुलफान और सबसे छोटा रुस्तम है। रुस्तम की गांव की ही जुलेखा से शादी हुई थी। करीब पांच साल पहले उसके बेटे रुस्तम की सड़क हादसे में मौत हो गई थी। हादसे का क्लेम 16 लाख रुपये मंजूर हुआ था। जिनमें से आठ लाख रुपये रुस्तम की पत्नी जुलेखा के नाम और आठ लाख रुपये उसके व उसकी पत्नी फुलमीजरा व एक पोते मोहम्मद वेस के नाम आए थे। उसके हिस्से में क्लेम के जो रुपये आए थे वह खर्च हो गए थे। कुछ रुपये पत्नी व पोते के नाम थे, उससे वह अपने पोतों के लिए जमीन खरीदना चाहता था। लेकिन उसका समधी शकील, समधन सुगरा व इनके बेटे मोहम्मद अहमद ने विरोध कर दिया। कहने लगे कि सभी रुपये जुलेखा के नाम करो। इस बात पर विवाद हो गया था। विवाद के निपटारे के लिए गांव में पंचायत बुलाई गई। जिसमें छोटा बेटा कुर्बान भी आया था।

कुर्बान उत्तर प्रदेश में शादीशुदा है और वहीं घर जमाई रहता है। पंचायत के लिए ही वह आया था। पंचायत उनके घर हुई थी। जिसमें निवर्तमान सरपंच जाहिद भी आया था। पंचायत में कुर्बान ने कहा कि क्लेम के रुपये उनके भाई की मौत पर मिले थे। इसमें शकील व अन्य का कोई लेना देना नहीं है। इस बात पर शकील व उसकी पत्नी सुगरा भड़क गए। आरोपियों ने कुर्बान का गला पकड़कर दो-तीन थप्पड़ जड़ दिए। किसी तरह अन्य लोगों ने बीचबचाव किया। इसके बाद आरोपी शकील व उसकी पत्नी वहां से चले गए।
आरोपियों के जाने के 10 मिनट बाद कुर्बान ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। उसे प्रतापनगर के निजी अस्पताल में लेकर गए, जहां से चिकित्सक ने उसे सिविल अस्पताल रेफर कर दिया। इसके बाद उसे शहर के निजी अस्पताल में दाखिल कराया। जहां उसकी मौत हो गई। कुर्बान के जहर खाने के बाद उसकी भाभी जुलेखा ने भी जहरीला पदार्थ निगल लिया। उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।
प्रतापनगर थाना प्रभारी पृथ्वी सिंह का कहना है कि मामले में तीनों आरोपियों पर आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। जल्द आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00