लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Yamuna Nagar ›   Passengers stranded for hours at Kalanaur station, wandering hungry

कलानौर स्टेशन पर घंटों फंसे यात्री, भूखे भटकते रहे

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Tue, 27 Sep 2022 01:39 AM IST
Passengers stranded for hours at Kalanaur station, wandering hungry
Passengers stranded for hours at Kalanaur station, wandering hungry - फोटो : Yamuna Nagar
विज्ञापन
ख़बर सुनें
यमुनानगर। भारी बारिश से यमुना नदी में आए पानी ने ट्रेन के पहियों पर ब्रेक लगा दिया है। उफान मारती यमुना नदी के पानी ने रेल ट्रैक क्षतिग्रस्त कर दिया। जिससे सहारनपुर अंबाला रूट पर ट्रेनों का संचालन रोकना पड़ा। यात्री कई घंटों तक ट्रैक बहाली का इंतजार करते रहे। ट्रेन भी ऐसे स्टेशन पर रुकी जहां यात्रियों को दिनभर चाय का एक कप भी नसीब नहीं हुआ। इस स्टेशन पर लोग भूखे भटकते रहे।

ट्रैक क्षतिग्रस्त होने की सूचना अधिकारियों को पहले ही मिल गई। जिसके कारण यहां से गुजरने वाली अमृतसर बनमखी एक्सप्रेस बीच में रोक दी गई। वहीं इस रूट से गुजरने वाली करीब एक दर्जन ट्रेनें बाधित हुई। रेलवे ने कई ट्रेनें आंशिक व पूर्ण से रद्द कर दी। जबकि कई के रूट में परिवर्तन कर संचालन किया। इससे यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी अमृतसर बनमखी एक्सप्रेस ट्रेन में सफर कर रहे लोगों को हुई। बनमखी एक्सप्रेस कलानौर स्टेशन से छूटकर यमुना नदी का पुल पार कर गई थी। सूचना मिलते ही इसे वहीं रोक दिया गया। काफी देर तक बनमखी एक्सप्रेस वहीं रुकी रही। जिसके बाद अधिकारियों ने ट्रेन पीछे करवाई और कलानौर स्टेशन पर खड़ी करवा दी। करीब आठ घंटे यात्री कलानौर स्टेशन पर भटकते रहे। देर शाम करीब आठ बजे ट्रैक दुरुस्त हुआ जिसके बाद गाड़ियों का संचालन बहाल हुआ। फिलहाल रेलवे ने यहां पर काउशन लगा दिया है। अधिकारियों के आगामी आदेशों तक इस क्षेत्र में ट्रेनों की गति कम रहेगी। ट्रैक ठीक होने पर सबसे पहले मालगाड़ी को वहां से गुजारा गया।

बच्चे भूख से बिलखते रहे, नहीं मिला दूध
कलानौर बहुत छोटा स्टेशन और यहां पर सिर्फ सवारी गाड़ियों का ही ठहराव है। इस स्टेशन पर न तो कोई चाय दुकान और न ही कोई खानपान का स्टाल है। दोपहर से यात्री स्टेशन पर भूखे मारे फिरते रहे। लुधियाना से सिवान जा रहे रवि प्रकाश ने बताया कि वह त्योहार के चलते घर जा रहा है। उसके साथ पत्नी और चार साल का बेटा और एक साल की बेटी है। बच्चों के लिए दूध लेकर चले थे, लेकिन रास्ते में खत्म हो गया। घंटों से वीरान स्टेशन पर खड़े हैं और बच्चों को दूध तक नहीं मिल पा रहा है। बच्चे भूख से बिलख रहे हैं। स्टेशन के बाहर भी खानपान की कोई दुकान नहीं है। इसी तरह मोहित, उत्तम, दीपक, रितिक, नितिन, राहुल, बब्लू व अन्य यात्रियों ने बताया कि साथ लेकर चले खानपान की चीजें समाप्त हो गई और स्टेशन पर कुछ नहीं मिला।
पानी के कारण ट्रैक खिसकने से दिक्कत आई थी। इस दौरान किसी प्रकार का कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। ट्रैक दुरुस्त करके यातायात बहाल कर दिया गया है। यात्रियों की परेशानी का उन्हें खेद हैं। इस दौरान कई गाड़ियां आंशिक व पूर्ण रूप से रद्द की गई हैं। जबकि कई के रूट बदलने पड़े।
-जीएम सिंह, मंडल रेल प्रबंधक, अंबाला।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00