बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव
Myjyotish

22 जून को शुक्र का कर्क राशि में परिवर्तन, जानें सभी राशियों पर प्रभाव

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हरियाणा: स्कूलों में रोस्टर प्रणाली खत्म, सभी कर्मचारियों को आना होगा, दिव्यांग व गर्भवती महिलाओं को भी मोहलत नहीं

हरियाणा स्कूल शिक्षा विभाग ने स्कूलों में स्टाफ के लिए लागू रोस्टर प्रणाली खत्म कर दी है। अब सभी शैक्षणिक और गैर-शैक्षणिक कर्मचारियों को स्कूल आना होगा। दिव्यांग, गर्भवती महिला व गंभीर बीमारियों से पीड़ित स्टाफ को भी कोई छूट नहीं मिलेगी। उन्हें भी स्कूलों में उपस्थित होने का निर्देश जारी कर दिया गया है। 

निदेशक सेकेंडरी शिक्षा ने सोमवार को इस संबंध में सभी जिला शिक्षा, मौलिक शिक्षा, खंड शिक्षा, खंड मौलिक शिक्षा अधिकारियों, स्कूल मुखिया व प्रभारियों को पत्र जारी कर दिया है। इन्हें सुनिश्चित करना होगा कि पूरा स्टाफ स्कूल आए। शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई के अलावा स्कूलों में बच्चों का दाखिला प्रतिशत भी बढ़ाना होगा।

शिक्षक अपने-अपने क्षेत्र के गण्यमान्य लोगों व बच्चों के अभिभावकों से संपर्क करेंगे। उनसे आग्रह किया जाएगा कि अपने बच्चों को सरकारी स्कूलों में दाखिल करवाएं। इसके साथ ही सरकारी स्कूल छोड़ने वाले बच्चों के अभिभावकों से भी संपर्क कर यह जानेंगे कि उन्होंने दूसरी जगह दाखिला लिया है या पढ़ाई ही छोड़ दी। 

शिक्षक स्कूल छोड़ने वाले बच्चों व उनके अभिभावकों को दोबारा दाखिला लेने के लिए भी प्रेरित करेंगे। इस कार्य की रोजाना रिपोर्ट स्कूल मुखिया को सौंपनी होगी। स्कूल मुखिया इसे जिला शिक्षा व मौलिक शिक्षा अधिकारियों को भेजेंगे। जिसमें पूरी जानकारी रहेगी कि कितने दाखिला करवाए, कितने अभिभावकों से संपर्क किया। बच्चों के स्कूल छोड़ने का कारण क्या रहा। सरकारी स्कूलों में एक साल में चार लाख से अधिक बच्चे कम हुए हैं। जिसका सरकार ने कड़ा संज्ञान लिया है। अब पता लगाया जा रहा है कि ये बच्चे स्कूल छोड़कर कहां गए।
... और पढ़ें
प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

हरियाणा: योग दिवस पर भाजपा-जजपा नेताओं का विरोध और भिवानी में टूटी 300 साल पुरानी परंपरा... पढ़ें प्रदेश की बड़ी खबरें

हरियाणा में किसानों की तरफ से भाजपा-जजपा नेताओं का विरोध जारी है। चरखी दादरी में सोमवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन में हिस्सा लेने पहुंची महिला विकास निगम की चेयरपर्सन एवं भाजपा नेत्री बबीता फौगाट को किसानों ने काले झंडे दिखाए। पढ़ें अन्य बड़ी खबरें 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021: मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किया योग, सीएम आवास से 1100 स्थानों पर लाइव दिखे
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर हरियाणा के मुख्यमंत्री निवास चंडीगढ़ में राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन किया गया। सीएम मनोहर लाल ने योगाभ्यास किया। सुबह 6:30 बजे इसका 1100 स्थानों पर लाइव प्रसारण किया गया।
पढ़ें पूरी खबर...

हरियाणा: चरखी दादरी में किसानों का प्रदर्शन, योग दिवस आयोजन में पहुंचीं बबीता फौगाट को दिखाए काले झंडे
हरियाणा में किसानों की तरफ से भाजपा-जजपा नेताओं का विरोध जारी है। चरखी दादरी में सोमवार को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन में हिस्सा लेने पहुंची महिला विकास निगम की चेयरपर्सन एवं भाजपा नेत्री बबीता फौगाट को किसानों ने काले झंडे दिखाए।
पढ़ें पूरी खबर...
   
नई सुबह: 300 साल में पहली बार घोड़ी चढ़ा अनुसूचित समाज का युवक, इस गांव ने तोड़ी परंपरा की बेड़ियां
हरियाणा में रविवार को सामाजिक सद्भाव की एक नई मिसाल देखने को मिली। भिवानी के दादरी रोड स्थित एक छोटे से गांव गोविंदपुरा में रविवार को 300 साल पुरानी परंपरा की बेड़ियों को तोड़ दिया गया। गांव के अनुसूचित समाज के युवक विजय कुमार ने रविवार को गांव में घुड़चढ़ी निकाली और धूमधाम से बरात लेकर गांव से रवाना हुआ। 
पढ़ें पूरी खबर...
 
बढ़ा इंतजार: मानसून को सक्रिय करने वाले सिस्टम पड़े कमजोर, गर्मी के साथ अब झेलनी होगी उमस
तय समय से पहले बुलेट ट्रेन की रफ्तार से आया मानसून अब कमजोर पड़ चुका है। मानसून को आगे बढ़ाने वाली पूर्वी हवाएं कमजोर पड़ गई हैं। अब अगले पांच से छह दिन फिलहाल पंजाब-हरियाणा और चंडीगढ़ में मानसून के सक्रिय होने की संभावना नहीं है।
पढ़ें पूरी खबर...

चंडीगढ़: 1988 बैच के आईएएस धर्मपाल होंगे चंडीगढ़ प्रशासक के नए सलाहकार, लेंगे मनोज परिदा की जगह  
वर्ष 1988 बैच के आईएएस धर्मपाल चंडीगढ़ प्रशासक के सलाहकार होंगे। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। 
पढ़ें पूरी खबर...
  ... और पढ़ें

जींद में बड़ी घटना: महिला ने ढाई साल के बेटे के साथ लगाई फांसी, यह देख पति ने भी फंदा लगाया, महिला की मौत

जींद के गांगोली गांव में रविवार दोपहर दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। गांव में 25 वर्षीय महिला ने अपने ढाई साल के बेटे समेत फांसी लगा ली। दूसरे कमरे में मौजूद परिजनों को जैसे ही इसका पता चला तो उन्होंने दरवाजा तोड़कर दोनों को फंदे से उतारा। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही महिला के पति ने भी फांसी लगा ली। परिवार वालों ने तीनों को तुरंत नीचे उतार लिया लेकिन महिला की मौत हो गई है और उसके पति व बेटे का इलाज चल रहा है।

घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची एएसपी नितिश अग्रवाल ने बताया कि 28 वर्षीय अजीत की शादी करीब चार साल पहले सोनीपत जिला के कैनाल गांव निवासी संध्या के साथ हुई थी। दोनों के बीच झगड़ा रहता था। रविवार को संध्या के सास-ससुर रिश्तेदारी में मातम पर गए थे। तभी उसने घर का दरवाजा बंद कर खुद व अपने ढाई साल के बेटे को फांसी लगा दी। पास के ही कमरे में परिजनों को जैसे ही घटना का आभास हुआ तो उन्होंने दरवाजा तोड़कर दोनों को फंदे से उतारा। 

इस दौरान संध्या की मौत हो चुकी थी और ढाई साल का बेटा लक्की जिंदा था। इस पर लक्की को इलाज के लिए रोहतक पीजीआई लेकर जाया गया। वहीं घटना की सूचना संध्या के मायका में दी गई। संध्या के मायका पक्ष के लोग सीधे पिल्लूखेड़ा थाना पहुंचे और पुलिस को लेकर गांव आए। इसकी सूचना मिलते ही संध्या के पति अजीत ने भी फांसी लगा ली। उसे हिसार के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पुलिस के अनुसार फिलहाल संध्या के पति अजीत व बेटे की हालत स्थिर है। वहीं संध्या की मौत हो चुकी है। पिल्लूखेड़ा थाना प्रभारी छतरपाल सिंह के अनुसार परिजनों के बयान व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

हरियाणा: टूटे-फूटे घर में रहने को मजबूर देश की ये चैंपियन बेटी, विधायक ने की पांच लाख रुपये की सहायता

सीसर खास गांव की सुनीता कश्यप ने अंतरराष्ट्रीय पावर स्ट्रेंथ वेट लिफ्टर के रूप में अपनी पहचान तो बना ली है लेकिन उनका परिवार आज भी आर्थिक तंगी से जूझ रहा है। वह अत्यंत विषम परिस्थितियों में खुद को साबित करने में लगी हैं। पिता मजदूरी करते हैं तो मां शादियों में रोटियां बनाने जाती हैं और वहीं से घर का खाना लाती हैं। इतनी समस्याओं के बावजूद सुनीता मेडल लाती हैं और देश-दुनिया में गांव का नाम रोशन कर रही हैं।
  
अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पावर स्ट्रेंथ वेट लिफ्टिंग में मेडल जीतने वाली सुनीता बताती हैं कि उन्हें अभी तक कोई सरकारी सहायता नहीं मिली है। जब भी खेल के लिए फीस भरनी होती है या फिर कहीं जाना होता है तो उनके पिता कर्ज लेकर इसकी व्यवस्था करते हैं। उन्होंने कई बार नौकरियों के लिए फार्म भी भरे लेकिन चयन नहीं हुआ। 

वह जिला, राज्य तथा राष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल जीत चुकी हैं। हाल ही में उन्होंने थाईलैंड में हुई विश्व चैंपियनशिप में भी गोल्ड मेडल जीता है। सुनीता के पिता ईश्वर का कहना है कि वह मजदूरी करके बेटी के सपनों को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं। उनके चार बच्चे हैं। बड़ा बेटा शादी के बाद अलग रहता है। उसके बाद सुनीता और उसके दो छोटे भाई हैं। 
... और पढ़ें

मनोहर लाल का एलान: 10वीं तक के पाठ्यक्रम में योग शामिल, 100 योग शिक्षक, 22 योग कोच की नियुक्ति जल्द

सुनीता
हरियाणा सरकार ने पहली से 10वीं कक्षा तक के पाठ्यक्रम में इस वर्ष से योग को शामिल किया है। इसका उद्देश्य योग को प्रत्येक व्यक्ति के जीवन का अभिन्न अंग बनाना है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में ये बातें कहीं।

उन्होंने कहा कि इस साल 1000 योग एवं व्यायामशालाएं स्थापित करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। इनमें से 500 व्यायामशालाएं तैयार की जा चुकी हैं। प्रदेश में 1000 योग शिक्षक और 22 योग कोच शीघ्र ही नियुक्त किए जाएंगे। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर फिट इंडिया संदेश के साथ सोमवार को हरियाणा में 1100 स्थानों पर 55 हजार से अधिक लोगों ने योगासन किए।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान योग कैलेंडर और कोविड के दौरान किए जाने वाले योग की जानकारी देने वाली पुस्तिका का भी विमोचन किया। हरियाणा योग आयोग के अध्यक्ष डॉ. जयदीप आर्य ने मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम में योगाभ्यास करवाया, इसका प्रदेश भर में सीधा प्रसारण हुआ।
... और पढ़ें

योग दिवस पर रिकॉर्ड: हरियाणा में 627136 लोगों को लगा टीका, 162 संक्रमित मिले, 29 की जान गई

योग दिवस पर हरियाणा के 3700 स्थानों पर वैक्सीनेशन मेगा ड्राइव में रिकॉर्ड 627136 लोगों को टीका लगाया गया। इनमें 564273 लोगों ने पहली और 62863 ने वैक्सीन की दूसरी डोज ली। कोविन पोर्टल के अनुसार, हरियाणा में टीकाकरण के मामले में युवा अब बुजुर्गों से आगे निकल गए हैं।

स्वास्थ्य विभाग ने मेगा ड्राइव में ढाई लाख लोगों को टीकाकरण का लक्ष्य रखा था। युवाओं में दिखे जबरदस्त उत्साह के कारण यह आंकड़ा दो गुना से अधिक पहुंच गया। अब तक हरियाणा में कुल 76.59 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। सबसे अधिक गुरुग्राम जिले में एक लाख से अधिक लोगों का टीकाकरण हुआ, जबकि सबसे कम नूंह में 5665 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया। 
... और पढ़ें

'मनोहर और दुष्यंत' पर तंज: 600 दिन राज करने के बाद घर में क्यों बंद हो गई 'सरकार'!

नई सुबह: 300 साल में पहली बार घोड़ी चढ़ा अनुसूचित समाज का युवक, इस गांव ने तोड़ीं परंपरा की बेड़ियां

हरियाणा में रविवार को सामाजिक सद्भाव की एक नई मिसाल देखने को मिली। भिवानी के दादरी रोड स्थित एक छोटे से गांव गोविंदपुरा में रविवार को 300 साल पुरानी परंपरा की बेड़ियों को तोड़ दिया गया। गांव के अनुसूचित समाज के युवक विजय कुमार ने रविवार को गांव में घुड़चढ़ी निकाली और धूमधाम से बरात लेकर गांव से रवाना हुआ। यह सब गांव के सरपंच के सहयोग से संभव हो सका। 300 साल पहले दादरी रोड पर गोविंदपुरा गांव बसाया गया था। गांव में शुरुआत से ही दो जातियां हैं। गांव राजपूत बाहुल्य है और दूसरा अनुसूचित समाज है। गांव के सरपंच बीरसिंह ने बताया कि जब से गांव बसा है, तभी से यह परंपरा चली आ रही थी कि अनुसूचित समाज के लोग गांव में घुड़चढ़ी नहीं निकालेंगे। इस परंपरा को तोड़ते हुए गांव के युवक विजय कुमार की घुड़चढ़ी धूमधाम से निकाली गई। उसकी शादी रोहतक जिले में लाखनमाजरा निवासी पूजा के साथ हुई है। गांव में पूरी तरह शांति है और किसी ने इसका विरोध नहीं किया है।  
 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन