बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
साप्ताहिक राशिफल 16 से 22 मई : धनु राशि समेत इन तीन राशियों के लिए बहुत ख़ास होगा ये सप्ताह, जानें भाग्यफल
Myjyotish

साप्ताहिक राशिफल 16 से 22 मई : धनु राशि समेत इन तीन राशियों के लिए बहुत ख़ास होगा ये सप्ताह, जानें भाग्यफल

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

कांगड़ा में 30 कोरोना मरीजों ने तोड़ा दम, 801 नए मामले

कांगड़ा जिले में कोरोना से 30 मौतें और 801 मामले आए हैं। बिलासपुर में दो महिलाओं की मौत हुई है जबकि 26 बच्चों समेत कोरोना के 113 नए मामले सामने आए हैं। कुल्लू में कोरोना से दो की मौत और 80 नए मामले आए हैं। लाहौल-स्पीति में एक मौत और 23 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। हमीरपुर जिले में रैपिड एंटीजन टेस्ट में 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सिरमौर में 10 मामले आए हैं। चंबा में 1 मौत और 181 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। ऊना में 4 की मौत और 150 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। सोलन में 6 की मौत और 333 नए मामले सामने आए हैं। शिमला में 12 की मौत और 133 नए मामले सामने आए हैं।

अभी 48 अस्पतालों में चल रहा कोविड मरीजों का उपचार 
हिमाचल प्रदेश में अभी 48 सरकारी और निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों का उपचार चल रहा है। राज्य में एक लाख से ज्यादा मरीज स्वास्थ्य लाभ पा चुके हैं। इन अस्पतालों में 5895 डी-टाइप ऑक्सीजन सिलिंडर और 1839 बी-टाइप ऑक्सीजन सिलिंडर उपलब्ध हैं। कोविड बिस्तरों की संख्या लगभग 3291 है, जिनमें 264 आईसीयू बिस्तर, 2324 ऑक्सीजन युक्त बिस्तर और 703 सामान्य बिस्तर हैं।
 
जिला कोरोना पॉजिटिव मामले
कांगड़ा 801
सिरमौर 10
बिलासपुर 113
सोलन 333
हमीरपुर 41
मंडी  
चंबा 181
ऊना 150
शिमला 133
कुल्लू 80
लाहौल-स्पीति 23
कुल मामले  
... और पढ़ें
कुल्लू में कोरोना टेस्ट के लिए क्षेत्रीय अस्पताल में कोविड सैंपल लेती स्वास्थ्य कर्मी। कुल्लू में कोरोना टेस्ट के लिए क्षेत्रीय अस्पताल में कोविड सैंपल लेती स्वास्थ्य कर्मी।

शिमला: धूप में स्ट्रेचर पर पड़ी रही कोरोना पीड़ित बुजुर्ग महिला, तमाशा देखते रहे लोग

राजधानी शिमला में कोरोना पीड़ित मरीजों को घर से लाने और अस्पताल से ले जाने के लिए प्रशासन ने कितने पुख्ता इंतजाम किए हैं, इसकी पोल रविवार को संजौली में खुली। यहां एक व्यक्ति को कोरोना से पीड़ित अपनी बुजुर्ग मां को एंबुलेंस से घर तक ले जाने के लिए काफी भटकना पड़ा। बुजुर्ग महिला कड़ी धूप में स्ट्रेचर पर लेटी थी लेकिन पूरे बाजार में स्ट्रेचर उठाने के लिए कोई आगे नहीं आया। व्यक्ति मदद के लिए चिल्लाता रहा लेकिन कोरोना से डरे लोग खिड़कियों से तमाशा देखते रहे।

आखिरकार यहां से गुजर रहे समाजसेवी रवि कुमार और उनके दो साथियों आशीष और संजीव ठाकुर ने स्ट्रेचर उठाया और बुजुर्ग महिला को को घर तक पहुंचाया। 92 साल की यह बुजुर्ग महिला और उसका बेटा कोरोना पॉजिटिव हैं। दो दिन पहले भी इनकी तबीयत खराब हो गई थी। उस समय पुलिस के दो जवानों ने इन्हें अस्पताल पहुंचाया था। रविवार को आईजीएमसी अस्पताल से इन्हें छुट्टी दी गई थी।

वालंटियर मिले न पुलिस जवान
108 एंबुलेंस में दोनों को रविवार दोपहर करीब डेढ़ बजे संजौली लाया गया। यहां एंबुलेंस कर्मी ने इन्हें उतरने के लिए कहा। लेकिन बुजुर्ग महिला स्ट्रेचर से उठ नहीं पा रही थी। बीमार बेटे में भी इतनी ताकत नहीं थी कि अकेले मां को घर तक ले जाए। इसके लिए मजदूरों से मदद मांगी। मनमाने पैसे देने की बात भी कही। लेकिन मजदूर और दूसरे लोग तैयार नहीं हुए।

काफी देर धूप में भटकने के बाद समाजसेवी रवि कुमार ने इनकी मदद की। शहर में कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए पहले भी ऐसी दिक्कतें आती रही हैं। इसके लिए प्रशासन ने स्थानीय पार्षदों को वालंटियर तैयार करने को कहा है जो ऐसे लोगों की मदद कर सकें। लेकिन कई वार्डों में अभी तक टीमें नहीं बन पाई हैं। इससे बीमार लोगों को एंबुलेंस तक लाने और ले जाने में दिक्कतें आ रही हैं।
... और पढ़ें

सरकार ने वार्ता न की तो बुधवार से चार घंटे सभी दुकानें खोलेंगे व्यापारी

हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष सोमेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोरोना नहीं, व्यापारी कर्फ्यू लगाया गया है। रविवार को ऊना के विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सोमेश शर्मा ने कहा कि व्यापार मंडल के 255 पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की गई है। बैठक में प्रदेश सरकार को दो दिन के भीतर वार्ता करने का अल्टीमेटम दिया गया है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठक में लिया गया फैसला व्यापारियों के लिए संतोषजनक नहीं, सरकार को इस पर फिर से विचार करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि सभी दुकानें एक साथ खोली जाएं। व्यापारी सदमे में आकर आत्महत्या कर रहे हैं। कई दुकानदारों को तो रोजी-रोटी के लाले पड़े हुए हैं। प्रदेश व्यापार प्रदेश मंडल ने सरकार से व्यापारियों के लिए एसओपी तैयार करने की मांग की है। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर प्रदेश सरकार ने व्यापारियों की मांग न मानी तो व्यापार मंडल बुधवार से सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक सभी दुकानें खोलेंगे। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस और प्रशासन की ओर से किसी भी दुकानदार का चालान किया गया तो व्यापारी अपने-अपने परिवारों के साथ सड़कों पर उतरेंगे और धारा 144 का उल्लंघन भी करेंगे।

सोमेश शर्मा ने कहा कि लोग अमृतसर से बिना किसी मतलब से मनाली पहुंच रहे हैं और व्यापारियों के चालान किए जा रहे हैं। सोमेश शर्मा ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि से लेकर प्रधान, नगर परिषद अध्यक्ष से लेकर विधायक और सांसद व्यापारी वर्ग का साथ दें। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर चुने हुए प्रतिनिधि उनका साथ नहीं देते हैं तो आने वाले समय में वे इन सभी का बहिष्कार करेंगे और न ही उन्हें वोट देंगे और वोट मांगने के लिए बाजार में भी नहीं आने देंगे। इस मौके पर उनके साथ प्रदेश व्यापार मंडल के सचिव राकेश कैलाश भी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

#LadengeCoronaSe: बिलासपुर के मयंक ने हांगकांग से भेजे 24 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

हांगकांग में रह रहे बिलासपुर की राजपुरा पंचायत के नोआ गांव निवासी मयंक वैद्य ने 24 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मशीनें जिला बिलासपुर के लिए भेजी हैं। ये मशीनें अगले सप्ताह पहुंच जाएंगी। बिलासपुर पहुंचते ही इन्हें मयंक के भाई लक्ष्य जिला प्रशासन को सौंपेंगे। ऑक्सीजन कंसंट्रेटर ऐसा मेडिकल डिवाइस है, जो आसपास की हवा से ऑक्सीजन को एक साथ इकट्ठा करता है। मयंक हांगकांग में एक मल्टीनेशनल कंपनी के सीनियर अधिवक्ता हैं। 

मयंक का मानना है कि संकट की इस घड़ी में यदि वह लोगों की सेवा कर सके तो उनके लिए यह बड़ी बात होगी। मयंक वैद्य स्वर्गीय अशोक वैद्य सेवानिवृत्त डीआईजी बीएसएफ तथा माता समाजसेवी नीरू वैद्य के छोटे बेटे हैं। इनके बड़े भाई अमेरिका विश्वविद्यालय में प्रोफेसर हैं। इनकी शादी हांगकांग में ही थैरेसा से हुई है। इनके तीन बेटे हैं। मयंक ने 463 किलोमीटर एंडुरोमन रेस जीतकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। ऐसी उपलब्धि हासिल करने वाले मयंक पहले भारतीय बने हैं।
... और पढ़ें

प्रदेश भर में खिली धूप, ऊना में 38.2 डिग्री पहुंचा पारा

मयंक वैद्य
हिमाचल प्रदेश में रविवार को मौसम खुलते ही प्रदेश के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। ऊना में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री रिकॉर्ड किया गया है। मैदानी जिलों में सोमवार को भी मौसम साफ रहने का पूर्वानुमान है। मध्य और उच्च पर्वतीय जिलों में सोमवार को बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। 18 से 22 मई तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहने की संभावना है। 19 और 20 मई को मैदानी और मध्य पर्वतीय जिलों में भारी बारिश, अंधड़ और ओलावृष्टि का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

रविवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। रविवार को बिलासपुर में अधिकतम तापमान 37.8, हमीरपुर में 36.5, कांगड़ा में 34.1, नाहन में 33.0, सुंदरनगर में 32.6, भुंतर-चंबा में 31.8, सोलन में 31.3, धर्मशाला में 25.8, शिमला में 24.0, कल्पा में 20.6, डलहौजी में 19.6 और केलांग में 15.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड हुआ। उधर, शनिवार रात को केलांग में न्यूनतम तापमान 2.4, कल्पा में 4.0, मनाली में 7.6, कुफरी में 10.8, भुंतर में 10.6, शिमला में 14.2, धर्मशाला में 14.4 और नाहन में 19.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। 
... और पढ़ें

मलाणा : हिमाचल के इस गांव को आज तक छू भी नहीं पाया कोरोना, यहां है दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र

आधुनिकता के दौर में दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र वाले मलाणा गांव का आज भी अपना ही कानून है। समूचे हिमाचल प्रदेश समेत देश-विदेश में जहां कोरोना महामारी से हाहाकार मचा हुआ है, वहीं कुल्लू जिले के इस गांव को आज तक कोरोना महामारी छू भी नहीं पाई। कोरोना काल के अब तक के 15 माह में इस गांव में एक भी कोरोना का मामला सामने नहीं आया। यह इसलिए मुमकिन हुआ है, क्योंकि पूरे कोरोना काल में यहां के बाशिंदों ने बाहरी लोगों और पर्यटकों पर इस गांव में आने पर रोक लगा रखी है। 2350 आबादी वाले इस गांव में देवता जमलू (जमदग्नि ऋषि) का कानून चलता है। गूर के माध्यम से जो देवता जमलू आदेश देते हैं, उसी को माना जाता है। यहां के बाशिंदे खुद को सिकंदर का वंशज मानते हैं। मलाणा गांव के लिए एचआरटीसी की एकमात्र बस सेवा है। कोरोना के चलते वह भी एक साल बाद इसी वर्ष अप्रैल में चली थी, लेकिन अब यह बस फिर से बंद है। 
... और पढ़ें

भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने मेडिकल उपकरणों को दी हरी झंडी

25 मई तक यातायात के लिए बहाल होगा ग्रांफू-समदो मार्ग

स्पीति घाटी को कुंजम के रास्ते जोड़ने वाले ग्रांफू-समदो मार्ग को बीआरओ ने 25 मई तक यातायात के लिए बहाल करने का लक्ष्य रखा है। समदो में तैनात बीआरओ की 108 की टीम कुंजम दर्रा लांघकर बातल में चाचा, चाची ढाबे के पास पहुंच गई हैं। लाहौल छोर से बीआरओ 94 आरसीसी की टीम छतड़ू के करीब पहुंची है। 108 की टीम के पास 11 किलोमीटर, जबकि 94 आरसीसी की टीम के पास लगभग 16 किलोमीटर मार्ग में बर्फ हटाने का कार्य शेष है। 

संगठन के अधिकारियों ने दावा किया है कि परिस्थितियां अनुकूल रहने पर 25 मई तक ग्रांफू-समदो मार्ग यातायात के लिए बहाल कर दिया जाएगा। यह मार्ग गत वर्ष नवंबर में यातायात के लिए बंद हो गया था। कुंजम दर्रा बंद रहने से स्पीति घाटी के लोगों को कुल्लू, मनाली आने-जाने के लिए जलोड़ी व करसोग के रास्ते सफर करना पड़ता है। जनजातीय क्षेत्र स्पीति के बाशिंदे मनाली, कुल्लू की ओर आवाजाही करने के लिए ग्रांफू- समदो सड़क के जल्द बहाली के इंतजार में हैं।

इस रूट से स्पीति के लोग महज सात से आठ घंटे में काजा से मनाली पहुंचते हैं। वर्तमान में इन्हें काजा से रामपुर-जलोड़ी होते हुए मनाली तक 16 से 20 घंटे का सफर करना पड़ रहा है। समदो में तैनात 108 के ओसी चंद्रमा प्रसाद ने कहा कि बातल तक मार्ग बहाल कर दिया गया है। परिस्थितियां अनुकूल रहने पर 25 मई तक समदो-ग्रांफू मार्ग को यातायात के लिए बहाल किया जाएगा। बीआरओ की टीमें युद्धस्तर पर मार्ग की बहाली में जुटी हैं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन