लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   20 Bangladeshi nationals Arrested who were running illegal businesses in diff parts of Goa

Goa: गोवा से 20 बांग्लादेशी गिरफ्तार, सभी अवैध कारोबार को दे रहे थे अंजाम, सीएम सावंत ने दी जानकारी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पणजी Published by: संजीव कुमार झा Updated Sun, 25 Sep 2022 02:16 PM IST
सार

गोवा एटीएस के पुलिस अधीक्षक शोभित सक्सेना ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि ये बांग्लादेशी नागरिक फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर अवैध रूप से रह रहे थे। वे पिछले 4 से 5 साल से यहां रह रहे हैं।  

गोवा के सीएम प्रमोद सावंत
गोवा के सीएम प्रमोद सावंत - फोटो : ANI
ख़बर सुनें

विस्तार

पिछले दो महीनों में किरायेदार और विदेशियों के सत्यापन अभियान के दौरान, गोवा पुलिस के आतंकवाद विरोधी दस्ते (एटीएस) ने राज्य में अवैध रूप से रह रहे 20 बांग्लादेशी नागरिकों की पहचान की है। पूछताछ के बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। गोवा के मुख्यमंत्री ने भी इसकी पुष्टि कर दी है।



वहीं एटीएस के पुलिस अधीक्षक शोभित सक्सेना ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि ये बांग्लादेशी नागरिक फर्जी दस्तावेजों का इस्तेमाल कर अवैध रूप से रह रहे थे। वे पिछले 4 से 5 साल से यहां रह रहे हैं।  हमें उनके पास से फर्जी दस्तावेज मिले हैं, जो दूसरे राज्यों में बनाए गए थे और बांग्लादेश के कार्ड भी थे। उन्हें फॉरेनर्स रीजनल रजिस्ट्रेशन ऑफिस (FRRO) के सामने पेश किया गया है और इसने उनके मूवमेंट पर प्रतिबंध का आदेश पारित किया है। हम एक रिपोर्ट बना रहे हैं और इसे गृह मंत्रालय (एमएचए) को भेज रहे हैं ताकि जांच की जा सके कि कहीं कोई संदिग्ध कोण तो नहीं है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00