लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   30 thousand crore rupees approved for cleaning many rivers including Ganga

Cleaning of Rivers: गंगा समेत कई नदियों की सफाई के लिए 30 हजार करोड़ रुपये मंजूर, जलशक्ति मंत्री ने दी जानकारी

एजेंसी, नई दिल्ली। Published by: देव कश्यप Updated Wed, 17 Aug 2022 01:38 AM IST
सार

सीमित जल संसाधनों के महत्व पर जोर देते हुए जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि आर्थिक विकास की शुरुआत हमारा जल संसाधन और ऊर्जा है। हमारे प्राकृतिक संसाधनों और आर्थिक विकास की आवश्यकता का ग्राफ एक जैसा है।

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत।
केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत। - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने मंगलवार को कहा कि गंगा और उसकी सहायक नदियों की सफाई के उद्देश्य से परियोजनाओं के लिए 30,000 करोड़ रुपये से अधिक मंजूर किए गए हैं।



सीमित जल संसाधनों के महत्व पर जोर देते हुए शेखावत ने कहा कि आर्थिक विकास की शुरुआत हमारा जल संसाधन और ऊर्जा है। हमारे प्राकृतिक संसाधनों और आर्थिक विकास की आवश्यकता का ग्राफ एक जैसा है। भारत की जनसांख्यिकीय, भौगोलिक विशालता, सीमित जल संसाधनों और पर्यावरणीय चुनौतियों का सामना करने की इच्छा को देखते हुए यह आवश्यक है कि हम पानी और अन्य प्राकृतिक संसाधनों का सतत उपयोग सुनिश्चित करें।


मंत्री ने कहा कि गंगा और उसकी सहायक नदियों को साफ करने के लिए बहुत सारे बुनियादी ढांचे का निर्माण किया गया है। उन्होंने कहा कि 30,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है। शेखावत ने विभिन्न संगठनों के सहयोग से नमामि गंगे कार्यक्रम को जन आंदोलन में बदलने पर भी संतोष व्यक्त किया और कहा कि गंगा के साथ 100 से अधिक जिलों में संबंधित मुद्दों पर उचित चर्चा करने के लिए उपचारात्मक कार्रवाई की जाती है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00