एयर इंडिया: 68 साल बाद टाटा के पास लौटी एयरलाइंस, जानिए नेहरू सरकार और जेआरडी टाटा से इसका कनेक्शन

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: कीर्तिवर्धन मिश्र Updated Fri, 08 Oct 2021 10:42 PM IST

सार

TATA Sons wins bid for Air India: जेआरडी टाटा देश के पहले लाइसेंसी पायलट थे। वे एक बार टाटा एयरलाइंस के विमान को कराची से उड़ाकर बॉम्बे ले आए थे। फिर आखिर किस बात पर वे जवाहरलाल नेहरू से नाराज हो गए थे? पढ़ें, पूरी कहानी...
टाटा एयरलाइंस के सरकार के पास जाने के बावजूद जेआरडी टाटा ने लंबे समय तक बिना तनख्वाह के एयर इंडिया की कमान संभाली।
टाटा एयरलाइंस के सरकार के पास जाने के बावजूद जेआरडी टाटा ने लंबे समय तक बिना तनख्वाह के एयर इंडिया की कमान संभाली। - फोटो : Social Media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को एलान किया कि एयर इंडिया को खरीदने के लिए उसे जो बोलियां मिलीं, उनमें टाटा संस की बोली सबसे ऊंची रही। यानी एयर इंडिया की कमान 68 साल बाद फिर से टाटा के पास आ गई है। दरअसल, आजादी के बाद उड्डयन क्षेत्र के राष्ट्रीयकरण के चलते सरकार ने कंपनी के 49 फीसदी शेयर्स खरीद लिए। इस तरह 15 साल तक सफलतापूर्वक प्राइवेट एयरलाइंस के तौर पर काम कर रही टाटा एयरलाइंस सरकारी कंपनी बन गई थी। हालांकि, पिछले कुछ सालों में लगातार नुकसान उठाने के बाद आखिरकार केंद्र सरकार ने इसके विनिवेश का फैसला किया। टाटा ने भी यह मौका नहीं खोया और 18 हजार करोड़ रुपये की बोली लगाकर एयर इंडिया के संचालन की जिम्मेदारी फिर संभाल ली।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00