लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Bihar: snake, palturam, deceiver to chameleon, know what Nitish and Lalu families have spoken to each other?

Bihar: सांप, पलटूराम, धोखेबाज से लेकर गिरगिट तक, जानें नीतीश और लालू परिवार एक दूसरे को क्या-क्या बोल चुके?

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: हिमांशु मिश्रा Updated Wed, 10 Aug 2022 07:41 PM IST
सार

लालू, तेजस्वी और तेज प्रताप ने विपक्ष में रहते हुए नीतीश कुमार को खूब खरी-खरी सुनाई है। सांप, पलटू चाचा, धोखेबाज, लालची, अहंकारी से लेकर गिरगिट तक कह चुके हैं। आइए जाते हैं कि नीतीश कुमार के खिलाफ अब तक लालू प्रसाद यादव, तेजस्वी और तेज प्रताप यादव ने क्या-क्या कहा है? नीतीश ने कब-कब लालू और उनके परिवार पर टिप्पणी की है? 

लालू प्रसाद यादव
लालू प्रसाद यादव - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

विस्तार

बिहार में सरकार बदल गई है। नीतीश कुमार ने बुधवार को महागठबंधन के साथ मिलकर सरकार बना ली। नीतीश के साथ राजद नेता तेजस्वी यादव ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। पांच साल बाद दोनों नेता फिर साथ काम करेंगे। पांच साल पहले नीतीश कुमार ने राजद का साथ छोड़कर एनडीए के साथ सरकार बनाई थी। नीतीश की वापसी के बाद नीतीश, तेजस्वी और लालू यादव के कई पुराने बयान वायरल हो रहे हैं। 

 
लालू, तेजस्वी और तेज प्रताप ने विपक्ष में रहते हुए नीतीश कुमार को खूब खरी-खरी सुनाई है। सांप, पलटू चाचा, धोखेबाज, लालची, अहंकारी से लेकर गिरगिट तक कह चुके हैं। आइए जाते हैं कि नीतीश कुमार के खिलाफ अब तक लालू प्रसाद यादव, तेजस्वी और तेज प्रताप यादव ने क्या-क्या कहा है? नीतीश ने कब-कब लालू और उनके परिवार पर टिप्पणी की है? 

 

लालू प्रसाद यादव
लालू प्रसाद यादव - फोटो : अमर उजाला
नीतीश के लिए लालू परिवार ने क्या-क्या कहा? 

नीतीश सांप है जैसे सांप केंचुल छोड़ता है वैसे ही नीतीश भी केंचुल छोड़ता है और हर 2 साल में साँप की तरह नया चमड़ा धारण कर लेता है। किसी को शक?
- लालू प्रसाद यादव, तीन अगस्त 2017

पलटू चाचा कभी भी पलट जाते हैं। वो गिरगिट से भी तेज रंग बदलते हैं। अब उनके साथ भविष्य में कभी किसी तरह का गठबंधन नहीं करेंगे। 
- तेजस्वी यादव, पांच अगस्त 2017

नीतीश कुमार को देश और दुनिया नहीं पहचानती है। सिर्फ मैं ही नीतीश को पहचानता हूं। जिस तरह से गिरगिट रंग बदलता रहता है, वैसे ही नीतीश कुमार समय-समय पर सुविधा के ख्याल से रंग बदलते रहते हैं। 
- लालू प्रसाद यादव 16 अगस्त 2017

 

तेजस्वी यादव
तेजस्वी यादव - फोटो : अमर उजाला
नीतीश कुमार अहंकारी व्यक्ति हैं। वह खुद को प्रधानमंत्री के तौर पर देख रहे थे। तब उन्हें सब प्रधानमंत्री मटेरियल बता भी रहे थे। लेकिन जब वो प्रधानमंत्री नहीं बन पाए तो बीजेपी के साथ चले गए और उनकी गोद में बैठ गए। भाजपा और नरेंद्र मोदी दोनों जानते हैं कि नीतीश कुमार कैसे व्यक्ति हैं। नीतीश कुमार जुगाड़ की सहायता से बिहार की सत्ता में बने हुए हैं।  
लालू प्रसाद यादव, 26 अक्टूबर 2021

एक अनुभवी मुख्यमंत्री के तौर पर ये नीतीश कुमार से अपेक्षित नहीं है। कहने को तो ये भी कहा जा सकता है कि आपने बेटी होने के डर से एक संतान के बाद बच्चा ही पैदा नहीं किया।
- तेजस्वी यादव, नवंबर 2020

नीतीश को काफी अच्छे से और शुरुआत से जानते हैं। नीतीश को मैंने आगे बढ़ाया था। जयप्रकाश के समय में नीतीश को छात्र जीवन से ही राजनीति में आगे बढ़ाया। यूनिवर्सिटी में हमने जेपी आंदोलन के वक्त डायरेक्ट चुनाव के लिए लड़ा और चुनाव में नीतीश ने हमें वोट दिलवाया। छात्र जीवन में नीतीश को कमेटी में नॉमिनी बनाया था। जेपी आंदोलन के वक्त नीतीश को कोई नहीं जानता था, तब मैंने ही उनको आगे बढ़ाया। सुशील मोदी भी हाफ पैंट पहनकर के मेरे सामने घूमता था। 
लालू प्रसाद यादव, एक अगस्त 2017
 

लालू प्रसाद यादव
लालू प्रसाद यादव - फोटो : अमर उजाला
नीतीश कुमार सत्ता के लालची है। वो एनडीए के साथ मिलकर के जय श्री राम करते रहे। मुझे नीतीश पर कभी भरोसा नहीं रहा। वो तेजस्वी की लोकप्रियता से काफी डर गए थे।
लालू प्रसाद यादव, छह अगस्त 2017

एक बोर्ड में 'नीतीश चाचा नो एंट्री' लिखेंगे और अपने घर के बाहर लगाएंगे।
- तेज प्रताप यादव, 17 अगस्त 2017
 

नीतीश कुमार
नीतीश कुमार - फोटो : अमर उजाला
 नीतीश ने लालू परिवार पर क्या-क्या कहा?
2020 के विधानसभा चुनान के दौरान एक रैली में नीतीश ने कहा, ‘किसी को चिंता है आठ-आठ, नौ-नौ बच्चा-बच्ची पैदा करता रहा है। क्या मालूम है किसी को। बेटी पर भरोसा ही नहीं, कई बेटियां हो गईं तब बेटा हुआ। आप सोच लीजिए कैसा बिहार बनाना चाहते हैं।’
 

नीतीश कुमार
नीतीश कुमार - फोटो : अमर उजाला
27  नवंबर 2020 को नीतीश कुमार ने विधानसभा में तेजस्वी पर हमला बोला। तेजस्वी के आरोपों से बिफरे नीतीश ने कहा, ‘तुम चार्ज शीटेड हो और मेरे मित्र के पुत्र हो। जिनको मैंने नेता बनाया था। तब वो जाकर मुख्यमंत्री बने थे। इसकी जांच करवाइए और इसके खिलाफ कार्रवाई होगी। ये झूठ बोल रहा है। मेरे भाई समान दोस्त का बेटा है, इसलिए सुनते रहते हैं।’
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00