लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   BSF tried increase amount surveillance western eastern front by deployment all kinds cameras

BSF के DG बोले: पूर्वी और पश्चिमी मोर्चे पर सभी प्रकार के कैमरों की तैनाती की गई, बढ़ाया गया निगरानी का दायरा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: निर्मल कांत Updated Wed, 30 Nov 2022 03:41 PM IST
सार

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह ने बुधवार को कहा कि पूर्वी और पश्चिमी मोर्चे पर सभी प्रकार के कैमरों की तैनाती करके निगरानी को बढ़ाया गया है।

बीएसएफ के डीजी पंकज कुमार सिंह
बीएसएफ के डीजी पंकज कुमार सिंह - फोटो : एएनआई

विस्तार

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक पंकज कुमार सिंह ने बुधवार को कहा कि पूर्वी और पश्चिमी मोर्चे पर सभी प्रकार के कैमरों की तैनाती करके निगरानी को बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि कम लागत वाले तकनीकी समाधार तैयार करने के भी प्रयास किए गए हैं। 



बीएसएफ के डीजी ने कहा, हमें इसके लिए हमें करीब तीस करोड़ रुपये मिले हैं। इस साल करीब 5,500 कैमरे अतिरिक्त लगाएंगे। उन्होंने आगे कहा, हम किसी भी तरह की घुसपैठ या किसी भी तरह के अन्य नापाक मंसूबों की दिन और रात निगरानी करने के लिए बड़े पैमाने पर ड्रोन का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। 


उन्होंने बताया कि चार एक-47 राइफल, गोला-बारूद और पचास किलोग्राम हेराइन बरामद की गई है। 

उन्होंने यह भी बताया कि सीमा पर रहने वाले लोगों के साथ अच्छे संबंध हैं। हम उन किसानों को सुरक्षा प्रदान कर रहे हैं जो तार वाली बाड़ से आगे अपनी जमीन पर खेती कर रहे हैं। डीजी बूरा ने ताया कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हमेशा घुसपैठ का दबाव रहता है। हमारी घुसपैठ की कोई नीति नहीं है और हम किसी को भी घुसपैठ नहीं करने देंगे। 

बीएसएफ के आईजी बूरा ने भी बढ़ते ड्रोन खतरों को माना और कहा कि ड्रोन एक समस्या है। लेकिन हमारे पास पर्याप्त उपकरण हैं। ड्रोन के खतरों को ध्यान में रखा गया है। उन्होंने दावा किया कि जम्मू में ड्रोन गतिविधियों में कमी आई है और पंजाब में भी ड्रोन गतिविधियों में कमी आई है।

उन्होंने आगे कहा, पाकिस्तान उन सभी को यह जानने में मदद कर रहा है कि ड्रोन गिराने की किसी भी घटना के होने पर हम पाक सेना के साथ विरोध दर्ज कराते रहते हैं, वे हमेशा किसी भी बात से इनकार करते हैं। 

आईजी बूरा ने यह भी दावा किया कि 2022 में कोई भी घुसपैठ सफल नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा, वे कभी-कभी सुरंगों के जरिए घुसपैठ करने की कोशिश करते हैं, लेकिन बीएसएफ हमेशा तत्पर रहती है और उन्हें बेअसर कर देती है। घुसपैठियों ने आईईडी का इस्तेमाल करने की कोशिश की लेकिन वे हमेशा विफल की गई हैं।
विज्ञापन

उन्होंने यह भी कहा कि नार्को आतंकवाद एक खतरा है। आतंकवादी अपनी गतिविधियों की फंडिंग करने के लिए नार्को आतंकवाद का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन बीएसएफ सीमा पर सक्रिय है और उसने आतंकवादियों के सभी प्रयासों को विफल किया है। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00