Hindi News ›   India News ›   Childrens Vaccine: Covovax of Serum will go by March next year, Adar Poonawalla met Health Minister Mandaviya

बच्चों की वैक्सीन: अगले साल मार्च तक आ जाएगी सीरम की 'कोवोवैक्स', मंडाविया से मिले अदार पूनावाला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Fri, 06 Aug 2021 07:18 PM IST

सार

सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने कहा है कि उम्मीद है कि बड़ों के लिए हमारी 'कोवोवैक्स' अक्तूबर तक भारत में आ जाएगी। अदार ने शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मुलाकात की। 
 
वैक्सीन आपूर्ति को लेकर चर्चा करते केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया व सीरम के प्रमुख अदार पूनावाला
वैक्सीन आपूर्ति को लेकर चर्चा करते केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया व सीरम के प्रमुख अदार पूनावाला - फोटो : ani
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने शुक्रवार को कहा कि बच्चों के लिए उनकी वैक्सीन 'कोवोवैक्स' अगले साल की पहली तिमाही तक आ जाएगी। वहीं बड़ों के लिए यह वैक्सीन अक्तूबर तक भारत में लांच हो जाएगी। पूनावाला ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मुलाकात की। उन्होंने कहा कि पैसों की कोई कमी नहीं है। हमें मिल रही मदद के लिए हम पीएम मोदी के बहुत आभारी हैं। 

विज्ञापन


अदार पूनावाला ने मंत्री मंडाविया से मुलाकात के बाद पत्रकारों से चर्चा में कहा कि सरकार हमारी मदद कर रही है। कोई वित्तीय संकट नहीं है। उम्मीद है कि बड़ों के लिए हमारा कोवोवैक्स इसी साल अक्तूबर तक जा आएगा। कीमत को लेकर उन्होंने कहा कि कोवोक्स की लांचिंग के समय इसकी लागत सबको पता चल जाएगी। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए वैक्सीन वर्ष 2022 के पहले तीन माहों में आ जाएगी। 

 

अदार पूनावाला ने मंडाविया के साथ मुलाकात में कोविशील्ड की आपूर्ति को लेकर चर्चा  की। उन्होंने बताया कि हमने वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने पर चर्चा की। यूरोप के 17 देश कोविशील्ड को मंजूरी दे चुके हैं और स्वीकृति देने की कई तैयारी में हैं। 
 

चल रहा दूसरे चरण का ट्रायल
बता दें, 28 जुलाई को केंद्रीय औषधि प्राधिकरण के विशेषज्ञों ने सीरम इंस्टीट्यूट में बने 'कोवोवैक्स' टीके के दो से 17 साल तक की उम्र के बच्चों पर दूसरे चरण के ट्रायल को सशर्त मंजूरी देने की सिफारिश की है। दूसरे चरण के ट्रायल के सीरम ने संशोधित प्रोटोकाल पेश किए थे जिनमें बच्चाें को शामिल करने की पेशकश की थी। विशेषज्ञों की समिति ने इसे तरजीह देते हुए अब बच्चों पर ट्रायल की सिफारिश की है। यह ट्रायल सफल हुआ तो बच्चों के टीकाकरण की राह खुलेगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00