लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Hyderabad YS Sharmila says Sole motive of KCR was to thwart my padayatra after her car was towed

Hyderabad: जमानत पर छूटने के बाद शार्मिला रेड्डी ने केसीआर पर साधा निशाना, कहा- पदयात्रा को विफल करना था मकसद

एएनआई, तेलंगाना Published by: वीरेंद्र शर्मा Updated Thu, 01 Dec 2022 02:24 AM IST
सार

केसीआर की पार्टी स्वार्थी, महत्वाकांक्षी लोगों से भरी हुई है, जिनका एकमात्र मकसद पैसा कमाना है। वाईएसआरटीपी प्रमुख ने आरोप लगाया कि कालेश्वरम परियोजना सबसे बड़ा घोटाला है। केवल हम ही इन सभी मुद्दों को उजागर कर रहे हैं।

वाईएसआर तेलंगाना पार्टी की अध्यक्ष वाईएस शर्मिला रेड्डी
वाईएसआर तेलंगाना पार्टी की अध्यक्ष वाईएस शर्मिला रेड्डी - फोटो : ANI

विस्तार

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी की बहन और वाईएसआरटीपी की प्रमुख वाईएस शर्मिला ने बुघवार को तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव(केसीआर) पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार का मकसद मेरी पदयात्रा को विफल करना था। 


शर्मिला ने कहा कि केसीआर की पार्टी स्वार्थी, महत्वाकांक्षी लोगों से भरी हुई है, जिनका एकमात्र मकसद पैसा कमाना है। वाईएसआरटीपी प्रमुख ने आरोप लगाया कि कालेश्वरम परियोजना सबसे बड़ा घोटाला है। केवल हम ही इन सभी मुद्दों को उजागर कर रहे हैं। केसीआर की सरकार सबसे भ्रष्ट है। उन्होंने आगे आरोप लगाया कि केसीआर का एकमात्र मकसद पदयात्रा को किसी भी कीमत पर रोकना था। उन्होंने कहा कि केसीआर भारत के सबसे अमीर राजनेता हैं। 


पुलिस ने कार समेत ली थी हिरासत में
वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) की प्रमुख वाईएस शर्मिला को पंजागुट्टा पुलिस ने एसयूवी सवार शार्मिला को कार समेत हिरासत में ले लिया था। उनकी कार को पुलिस ने क्रेन से उठाकर थाना ले गई। वह कार में बैठी रहीं। बाद में पुलिस ने उनके खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। नामपल्ली में 14 अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने वाईएसआरटीपी प्रमुख शर्मिला को निजी मुचलके पर सशर्त जमानत दी थी। 

वाईएसआरटीपी प्रमुख उस दौरान कार में सवार होकर मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव के आवास का घेराव करने के लिए प्रगति भवन जा रही थीं। उन्हें सोमाजीगुड़ा से हिरासत में लिया गया और हैदराबाद के एसआर नगर पुलिस स्टेशन ले जाया गया। शर्मिला के पति अनिल कुमार ने बताया कि कहा था कि पुलिस ने जबरन कार का दरवाजा तोड़ा और उन्हें बाहर निकाला। वह वारंगल में पदयात्रा के दौरान हुए हमलों के विरोध में मार्च निकालकर मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने जा रही थी। हिरासत में लेने के दौरान पुलिस ने उन्हें कार से निकलने के लिए कहा था, लेकिन वह पुलिस की बात नहीं मानी। 
 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00