Hindi News ›   India News ›   India China 14th round Corps Commander level talks likely to be held in second half of December amid tension at LAC Hot Springs friction point news in Hindi

भारत-चीन सीमा विवाद: 15 दिसंबर के बाद हो सकती है कोर कमांडर स्तर की 14वीं वार्ता, हॉट स्प्रिंग्स रहेगा मुद्दा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: गौरव पाण्डेय Updated Thu, 02 Dec 2021 05:03 PM IST

सार

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में लंबे समय से चल रहे सीमा विवाद और सैन्य गतिरोध को लेकर 14वें दौर की कोर कमांडर स्तरीय वार्ता का आयोजन दिसंबर के दूसरे हिस्से में किया जा सकता है।
भारत और चीन की सेना
भारत और चीन की सेना - फोटो : एएनआई (फाइल)
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

चीन के साथ सीमा वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चल रहे गतिरोध को हल करने के लिए भारत और चीन दिसंबर के दूसरे हिस्से में 14वें दौर की कोर कमांडर वार्ता आयोजित कर सकते हैं। बातचीत के लिए आमंत्रण चीनी पक्ष की तरफ से आना है। समाचार एजेंसी की एक रिपोर्ट के अनुसार सरकारी सूत्रों ने बताया कि संभावना है कि वार्ता दिसंबर के दूसरे भाग यानी 15 तारीख के बाद ही होगी। 

विज्ञापन


सूत्रों ने कहा कि यह समय भारत के लिए उपयुक्त होगा क्योंकि क्योंकि सुरक्षा बल 16 दिसंबर तक साल 1971 के युद्ध में पाकिस्तान की करारी हार पर स्वर्ण जयंती समारोह के तहत हो रहे कार्यक्रमों में व्यस्त रहेंगे। विवाद सुलझाने के लिए भारत और चीन के बीच बातचीत चल रही है। गतिरोध हल करने के लिए पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अब तक बातचीत के 13 दौर हो चुके हैं।


हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र में समाधान की तलाश में दोनों देश
दोनों पक्ष इस समय संघर्ष के बिंदु हॉट स्प्रिंग्स में समाधान की तलाश कर रहे हैं जहां पिछले साल चीनी सेना की आक्रामकता की वजह से हालात गंभीर हुए थे। सूत्रों ने बताया कि संघर्ष के बिंदु रहे पैंगोंग त्सो झील का तट पर और गोगरा हाइट्स पर विवाद सुलझा लिया गया है। लेकिन हॉट स्प्रिंग्स का मुद्दा अभी भी बाकी है। भारत सीमावर्ती क्षेत्रों में लगातार शांति स्थापित करने की मांग कर रहा है।

चीनी आक्रामकता का भारत ने दिया करारा जवाब
इसके साथ ही भारत ने डीबीओ इलाके और सीएनएन जंक्शन इलाके में समाधान की मांग भी की है। इन इलाकों को विरासत का मुद्दा माना जाता है। विदेश मंत्रालय के एक बयान के अनुसार चीन की सेना की ओर से शुरुआत में हैरान कर देने के बाद भारत ने सभी इलाकों में चीनी आक्रमकता का मुंहतोड़ जवाब दिया है। दोनों पक्षों के बीच हिंसक झड़पें भी हुई हैं, जिनमें दोनों को ही नुकसान हुआ है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00