Hindi News ›   India News ›   Karnataka Minister Ramesh Jarkiholi accused of demanding sex for job video leaked to media honey trap blackmailing

कर्नाटक सेक्स सीडी कांड के लपेटे में आए मंत्री ने दिया इस्तीफा, कहा- मामले की निष्पक्ष जांच हो

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बेंगलुरु Published by: दीप्ति मिश्रा Updated Wed, 03 Mar 2021 02:14 PM IST
रमेश जारकीहोली
रमेश जारकीहोली - फोटो : Social Media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

कर्नाटक की राजनीति में सेक्स सीडी ने बवाल मचा दिया है। इस सीडी में कथित तौर पर कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली एक महिला के साथ नजर आ रहे हैं। सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने सीडी जारी करते हुए आरोप लगाया कि मंत्री रमेश जारकीहोली ने महिला का नौकरी दिलाने के नाम पर यौन शोषण किया। हंगामा बढ़ते देख रमेश जारकीहोली बुधवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

विज्ञापन


सेक्स सीडी कांड में आरोपी मंत्री रमेश जारकीहोली ने मंत्री पद से इस्तीफा देते हुए मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा। इसमें कहा, ''मुझ पर लगे आरोपों का सच्चाई से कोई वास्ता नहीं है। मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। मैं नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहा हूं।' 'इससे पहले, जारकीहोली ने कहा कि यह मेरे खिलाफ एक राजनीतिक साजिश है। यह सीडी फर्जी है। इसकी पूरी जांच होनी चाहिए। अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए। वे किसी को नहीं जानते।


सीडी के सामने आने के बाद कांग्रेस ने मंत्री रमेश जारकीहोली के इस्तीफे की मांग को लेकर बेंगलुरु में धरना प्रदर्शन किया था। कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा था कि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को तत्काल प्रभाव से रमेश जारकीहोली का इस्तीफा लेना चाहिए और इस मामले में एफआईआर दर्ज करानी चाहिए। कर्नाटक के डिप्टी सीएम सीएन अश्वथ नारायण ने कहा, ''हमने साजिश के तहत ऐसे वीडियो बनाकर हनीट्रैप और ब्लैकमेलिंग के कई मामलों को देखा है। जांच के बाद सच सामने आएगा। उसके बाद कार्रवाई होगी।''
 

केंद्रीय मंत्री ने कहा, शर्मनाक
इस मामले पर केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा, ''हम किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकते, हमें सच्चाई जानने की जरूरत है। अगर यह सच है, तो यह शर्मनाक है। हम नेताओं को नैतिक रूप से सही होने की जरूरत है। यही भाजपा की नीति है।''

क्या है मामला 
सामाजिक कार्यकर्ता और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली ने बताया कि महिला के परिजनों ने न्याय की मांग को लेकर उनसे संपर्क किया। महिला के परिजनों ने आरोप लगाया है कि मंत्री ने कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन लिमिटेड (केपीटीसीएल) में महिला को नौकरी दिलाने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया। मंत्री बाद में अपने वादे से मुकर गए। दिनेश कल्लाहल्ली ने सीडी के मामले में पुलिस कमिश्नर कमल पंत से मंगलवार को मुलाकात की, जहां उन्हें कब्बन पार्क पुलिस के पास शिकायत दर्ज करने के लिए कहा गया है। कल्लाहल्ली ने कहा, ''मैं इस सिलसिले में वकील से मिला। वकील ने पुलिस कमिश्नर से मिलने की सलाह दी और सीडी उन्हें सौंपने को कहा है। हम चाहते हैं कि इस मामले की सच्चाई सामने आए।''
 

जांच के बाद होगी कार्रवाई 

कर्नाटक के गृह मंत्री बी बोम्मई ने कहा कि शिकायत के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। कानून के अनुसार जांच की जा रही है। रमेश जारकीहोली पर हमारी पार्टी फैसला लेगी।
 


 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00