Kerala Flood Live Updates: केरल में भारी बारिश से तबाही, अब तक 21 की मौत, पीएम मोदी ने विजयन को दिया मदद का भरोसा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, तिरुवनंतपुरम Published by: संजीव कुमार झा Updated Sun, 17 Oct 2021 05:14 PM IST

सार

केरल में बारिश का कहर लगातार जारी है। यहां दक्षिण और मध्य केरल में लगातार हो रही बारिश से कई हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन की घटनाएं सामने आई हैं। इन घटनाओं में अब तक 21 लोगों की मौत हो गई है और 20 से अधिक लोग लापता बताए जा रहे हैं। 
केरल में बाढ़
केरल में बाढ़ - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

केरल में हो रही भारी बारिश लोगों के लिए जानलेवा साबित हो गई है। कई शहरों में बाढ़ जैसी स्थिति हो गई है। जानकारी के अनुसार, कोक्कायार में बीते दिन हुए भूस्खलन के बाद आज तीन शव बरामद हुए हैं।  इसी के साथ राज्य में  अब तक 21 लोगों की मौत हो गई है और 20 से अधिक लोग लापता हैं। मरने वालों में 13 लोग कोट्टायम और आठ लोग इडुक्की के बताए जा रहे हैं। 
विज्ञापन


इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने केरल के सीएम पिनाराई विजयन से बात की। दोनों के बीच भारी बारिश और भूस्खलन के मद्देनजर स्थिति पर चर्चा की। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि घायलों और प्रभावितों की सहायता के लिए जमीन पर काम किया जा रहा है। मैं सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं। उन्होंने लिखा, ''यह दुखद है कि केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण कुछ लोगों की जान चली गई है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना।"


रेस्क्यू के लिए सेना को तैनात किया गया है। भारी बारिश को देखते हुए पातनमथिट्टा, कोट्टायम, एनार्कुलम, इडुक्की, त्रिशूर जिले में रेड अलर्ट जारी किया गया है। जबकि तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, अलापुझा, पलक्कड़, मलप्पुरम, कोझिकोड और वायनाड जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।
 


केरल के बाढ़ में अब तक 21 लोगोंं की मौत और 20 घायल
केरल में भारी बारिश के कारण मरने वालों की संख्या 21 हो गई है। कोट्टायम में जहां 13 लोगों की मौत हुई है वहीं इडुक्की में आठ लोगों ने जान गंवाई है। राज्य सूचना एवं जनसंपर्क विभाग ने इसकी जानकारी दी है। वहीं, 20 लोगों के लापता होने की भी खबर है।

105 राहत शिविर स्थापित किए गए: सीएम विजयन
राज्य में हो रही भारी बारिश पर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि लोगों को बारिश से बचने के लिए सभी सावधानियां बरतने का अनुरोध किया गया है। पूरे राज्य में 105 राहत शिविर स्थापित किए गए हैं और अधिक शिविर शुरू करने की व्यवस्था की गई है।

एनडीआरएफ की 11 टीमें तैनात 
सीएमओ ने कहा कि पातनमिथिट्टा, कोट्टायम, एनार्कुलम, इडुक्की, त्रिशूर औल अलापुझा जिले में एनडीआरफ की 11 टीमें तैनात कर दी गई हैं। तिरुवनंतपुरम और कोट्टायम में सेना की दो टीमें तैनात करने को कहा गया है। आपातकालीन की स्थिति में एयरफोर्स को स्टैंडबाय मोड में रहने को कहा गया है। वहीं NDRF की एक टीम भारी बारिश से प्रभावित एर्नाकुलम के मुवात्तुपुझ्हा पहुंची और बचाव अभियान शुरू किया।

केंद्र सरकार हरसंभव मदद करेगी: अमित शाह
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भारी बारिश और बाढ़ के मद्देनजर केरल के कुछ हिस्सों में स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है। केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए हर संभव मदद करेगी।

एर्नाकुलम जिले के मुवत्तुपुझा नदी में बढ़ा जलस्तर
केरल के एर्नाकुलम जिले के मुवत्तुपुझा नदी में भारी बारिश के बाद जलस्तर बढ़ गया। आज भारतीय मौसम विभाग ने एर्नाकुलम जिले में येलो अलर्ट जारी किया है।

कोट्टायम में लापता लोगों की तलाश में जुटी सेना
केरल के कोट्टायम में लापता लोगों की तलाश के लिए सेना ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

राहत बचाव के लिए वायु सेना और भारतीय सेना तैनात
केरल में बाढ़ के मद्देनजर भारतीय वायु सेना और भारतीय सेना ने अपने जवानों को तैनात कर दिया है। वायुसेना के अनुसार एमआई-17 और सारंग हेलीकॉप्टर पहले से ही स्टैंडबाय मोड में हैं। केरल में मौजूदा मौसम की स्थिति को देखते हुए दक्षिणी वायु कमान के तहत सभी ठिकानों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

भूस्खलन में अब तक 20 से अधिक लोग लापता 
कोट्टायम में भूस्खलन के कारण 20 से अधिक लोग लापता हो गए। इस जगह पर पुलिस और अग्निशमन विभाग के कर्मी भी पहुंचने में नाकाम रहे। मौसम विभाग ने राज्य के कई और हिस्सों में भी बारिश का अनुमान जताया है।

सबरीमाला मंदिर जाने से बचने की अपील 
भारी बारिश को देखते हुए केरल में त्रावणकोर देवस्वोम बोर्ड ने भगवान अयप्पा के भक्तों से रविवार और सोमवार को पठानमथिट्टा जिले के सबरीमाला मंदिर में जाने से परहेज करने का आग्रह किया।

बंगाल: अगले दो दिन में भारी बारिश के आसार

पश्चिम बंगाल में 20 अक्तूबर तक जबर्दस्त बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा है कि उत्तरी तेलंगाना में कम दबाव का क्षेत्र बनने और बंगाल की खाड़ी में दक्षिणी तेज हवाओं के कारण भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने मछुआरों को मंगलवार तक समुद्र में न जाने की सलाह दी है। साथ ही नदियों में जलस्तर बढ़ने और दार्जिलिंग व कलिंपोंग में भूस्खलन की चेतावनी दी है। हाल ही में बंगाल के दक्षिणी जिलों हावड़ा, हुगली और पूर्वी मेदिनीपुर में जबर्दस्त बारिश से बाढ़ आई थी। क्षेत्रीय मौसम कार्यालय के उपनिदेशक संजीब बंदोपाध्याय ने कहा कि कोलकाता सहित राज्य के दक्षिणी जिलों में दो दिनों में भारी से बेहद भारी बारिश हो सकती है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00