लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Maharashtra: Auto driver returns bag with Rs 55,000 cash, felicitated for honesty

ईमानदारी को सलाम: ऑटो चालक ने 55 हजार रुपयों से भरा बैग महिला यात्री को लौटाया, पुलिस ने किया सम्मान

पीटीआई, नागपुर Published by: सुरेंद्र जोशी Updated Thu, 14 Oct 2021 05:45 PM IST
सार

नागपुर में एक ऑटो चालक ने ईमानदारी की मिसाल पेश की है। इसके लिए वह मीडिया में सुर्खियां बटोरने के साथ ही सम्मानित भी हो रहा है।
 

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : Amar ujala

विस्तार

महाराष्ट्र के नागपुर शहर के 44 साल के एक ऑटो रिक्शा चालक ने 55 हजार रुपयों से भरा बैग उस महिला यात्री को लौटा दिया, जो जल्दबाजी में उसे ऑटो में ही भूल गई थी। पुलिस ने इस ईमानदारी के लिए ऑटो चालक का सम्मान किया है।


ऑटो चालक गजानन नामदेव नरनावरे का बुधवार को पुलिस ने उसकी ईमानदारी के लिए तहसील पुलिस ने सम्मान किया। पुलिस के अनुसार अनिता अतुल शेंडे नागपुर के रामनगर की रहने वाली है। अनिता ने मंगलवार को गांधीबाग इतवारी मार्केट जाने के लिए ऑटो रिक्शा बुलाया था। गंतव्य पर पहुंचने के बाद वह जल्दबाजी में अपना बैग ऑटो में ही भूल गईं। उसमें 55 हजार रुपये रखे हुए थे। इसके बाद जब अनिता को ध्यान आया कि वह बैग ऑटो में ही भूल गई है तो तत्काल वह तहसील पुलिस थाने पहुंची और शिकायत दर्ज कराई।

पुलिस ने बताया कि उधर, ऑटो चालक नरनावरे ने जब देखा कि महिला यात्री बैग भूल गई है तो उसने उसे आसपास खोजा, लेकिन वह नहीं मिली। इस पर वह भी बैग लेकर तहसील पुलिस थाने पहुंचा और वह पुलिस को सौंप दिया।
ऑटो चालक नरनावरे की इस ईमानदारी से अभिभूत होकर पुलिस ने उसका सम्मान किया और महिला यात्री अनिता ने उसे अपनी ओर से 5000 रुपये इनाम में दिए।

 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00