लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   maharashtra governor bhagat singh koshyari paid tribute to mumbai 26 11 attack martyrs by wearing shoes

Maharashtra: अब चप्पल पहनकर शहीदों को श्रद्धांजलि देने पर घिरे राज्यपाल कोश्यारी, राजभवन ने दिया यह जवाब

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई Published by: शिव शरण शुक्ला Updated Sat, 26 Nov 2022 09:05 PM IST
सार

दक्षिण मुंबई के पुलिस आयुक्त कार्यालय के परिसर में सीएम एकनाथ शिंदे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी, लेकिन इस दौरान राज्यपाल चप्पलें पहने हुए थे। राज्यपाल द्वारा चप्पल पहनकर शहीदों को श्रद्धांजलि देने को कांग्रेस ने शहीदों का अपमान बताया है।

राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने चप्पल पहनकर दी श्रद्धांजलि।
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने चप्पल पहनकर दी श्रद्धांजलि। - फोटो : ANI

विस्तार

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी एक बार फिर चर्चाओं में हैं। शिवाजी महाराज को लेकर दिए गए उनके बयान से शुरू हुआ विवाद अभी खत्म भी नहीं हुआ था कि वे एक बार फिर विवादों में आ गए हैं। कथित तौर पर वे आज 26/11 के मुंबई हमले की बरसी पर चप्पल पहनकर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने पहुंच गए। इस मुद्दे पर कांग्रेस ने उन्हें घेरा है। राज्यपाल द्वारा चप्पल पहनकर शहीदों को श्रद्धांजलि देने को कांग्रेस ने शहीदों का अपमान बताया है। कांग्रेस ने उनका एक वीडियो भी ट्वीट किया है। 



चप्पल पहनकर राज्यपाल कोश्यारी ने दी श्रद्धांजलि
गौरतलब है कि 26 नंवबर 2008 को मुंबई में ताज होटल समेत कुछ अन्य जगहों पर आतंकियों ने हमला किया था। आज इस हमले की 14वीं बरसी मनाई गई। इस मौके पर देशभर में हमले में शहीद हुए पुलिस अधिकारियों और जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर दक्षिण मुंबई के पुलिस आयुक्त कार्यालय के परिसर में सीएम एकनाथ शिंदे और राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी, लेकिन इस दौरान राज्यपाल चप्पलें पहने हुए थे। 




कांग्रेस ने बोला हमला
कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने इसे लेकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी पर हमला बोला है। उन्होंने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘श्रद्धांजलि देते वक्त चप्पल-जूते उतारना भारत की संस्कृति है, महाराष्ट्र की तो है ही। बार-बार महाराष्ट्र की संस्कृति और महापुरुषों का अपमान करने वाले राज्यपाल जब शहीदों का अनादर कर रहे थे तब मुख्यमंत्री उन्हें महाराष्ट्र की संस्कृति याद दिला देते तो अच्छा होता।'



राजभवन ने दिया जवाब
जब ये मुद्दा गरमाया तो राजभवन ने इस पर जवाब भी दिया। राजभवन ने बयान जारी करते हुए कहा कि आज जब राज्यपाल पुलिस आयुक्त कार्यालय में शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए निकले थे तब एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने उनसे कहा था कि ऐसी जगहों पर चप्पल उतारना जरूरी नहीं है। 
विज्ञापन

शिवाजी पर दिए गए बयान का विवाद अभी थमा भी नहीं...
शिवाजी महाराज पर दिया गया उनका बयान अभी थमा भी नहीं था कि उन्होंने विरोधियों को नया मुद्दा दे दिया है। दरअसल, राज्यपाल कोश्यारी ने शनिवार को औरंगाबाद में एक कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और राकांपा प्रमुख शरद पवार को डी. लिट की उपाधि से नवाजा। इस दौरान उन्होंने महाराष्ट्र के आदर्श लोगों का जिक्र करते हुए कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज पुराने जमाने के आदर्श थे। अब आप बी.आर. अंबेडकर से लेकर नितिन गडकरी तक नए जमाने के आदर्श बना सकते हैं। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00