लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Rahul Gandhi Congress Bharat Jodo Yatra completes month mired in controversies BJP Kerala Karnataka Tamil Nadu

Bharat Jodo Yatra: टी-शर्ट, हाफ पैंट और सब्जी वाले से जबरन वसूली तक, राहुल की यात्रा से अब तक जुड़े बड़े विवाद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, तिरुवनंतपुरम Published by: कीर्तिवर्धन मिश्र Updated Thu, 06 Oct 2022 09:04 PM IST
सार

भारत जोड़ो यात्रा में अब तक क्या-क्या विवाद उठे हैं? इन मामलों को लेकर विपक्षी दलों ने किस तरह कांग्रेस को घेरा? वहीं, बदले में कांग्रेस और राहुल गांधी ने इन आरोपों पर क्या पलटवार किया है? आइये जानते हैं...

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अब तक उठे विवाद।
राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अब तक उठे विवाद। - फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें

विस्तार

भारत जोड़ो यात्रा को एक महीने पूरे हो चुके हैं। फिलहाल यह यात्रा कर्नाटक के मांड्या में है, जहां कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी इसमें हिस्सा लिया। जैसे-जैसे यह यात्रा आगे बढ़ी है, वैसे ही इसके साथ विवाद भी जुड़े। फिर चाहे वह कर्नाटक के झंडे पर राहुल गांधी की तस्वीर को लेकर विवाद हो या चंदा जुटाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं की ओर से सब्जीवालों को दी गई धमकी का मामला।


भारत जोड़ो यात्रा में अब तक क्या-क्या विवाद उठे हैं? इन मामलों को लेकर विपक्षी दलों ने किस तरह कांग्रेस को घेरा? वहीं, बदले में कांग्रेस और राहुल गांधी ने इन आरोपों पर क्या पलटवार किया है? आइये जानते हैं...

1. आरएसएस की हाफ पैंट की विवादास्पद तस्वीर पर
तमिलनाडु से 7 सितंबर को शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा से सबसे बड़ा विवाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ड्रेस में आग लगी दिखाने के पोस्ट से जुड़ा रहा। दरअसल, 12 सितंबर को ही कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से आरएसएस की खाकी हाफ पैंट में आग लगाने की फोटो पोस्ट की गई। पार्टी ने फोटो के कैप्शन में लिखा- 145 दिन और। इस ट्वीट के सामने आने के बाद भाजपा ने जबरदस्त नाराजगी जाहिर की थी। पार्टी ने कहा था कि यह तस्वीर संघ के खिलाफ हिंसा का प्रचार करने वाली है। भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने भारत जोड़ो यात्रा को भारत तोड़ो यात्रा और आग लगाओ यात्रा तक करार दिया था। 

2. राहुल समेत नेताओं के कंटेनर के इंतजाम पर
भारत जोड़ो यात्रा के आगे बढ़ने के बाद राहुल गांधी और कांग्रेस नेताओं के रुकने के इंतजामों पर भी विवाद हुआ। पहले ऐसी रिपोर्ट्स आई थीं कि कांग्रेस के नेता भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कंटेनर में सोएंगे। वे 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में 150 दिनों तक ऐसा करेंगे। हालांकि, इन कंटेनरों के कैंप के जो वीडियो सामने आए उनमें इनकी सुविधाओं को भी दिखाया गया। कंटेनरों की फोटोज-वीडियो वायरल होने के बाद भाजपा ने कांग्रेस की इस यात्रा को आराम यात्रा करार दिया। 

कंटेनरों से ही जुड़ा एक और विवाद तब सामने आया था, जब 11 सितंबर को इन्हें तिरुवनंतपुरम के कृषि विश्वविद्यालय में कैंप में खड़ा कर दिया गया। यहां सीपीएम की छात्र इकाई ने कांग्रेस के कंटेनरों को लेकर विरोध प्रदर्शन किए। इसके चलते आखिरकार राहुल गांधी और उनके समर्थकों के कंटेनरों को यूनिवर्सिटी से हटाकर स्कूलों में खड़ा कराया गया। 

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में नेताओं के रुकने के लिए किया गया है कंटेनरों का इंतजाम।
राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में नेताओं के रुकने के लिए किया गया है कंटेनरों का इंतजाम। - फोटो : Social Media
3. राहुल के साथ बैठक में कैथोलिक पादरी के विवादित बयान पर
राहुल गांधी के इस भारत जोड़ो यात्रा में एक और विवाद उनकी कैथोलिक पादरी जॉर्ज पोन्नैया के साथ बैठक के दौरान जुड़ा। भाजपा ने इस बैठक से जुड़ा एक वीडियो शेयर किया, जिसमें राहुल गांधी पूछते हैं- ईसा मसीह भगवान का ही रूप हैं? ये सही है न? इस पर जवाब में पोन्नैया कहते हैं- वही असली भगवान हैं। पोन्नैया आगे कहते हैं, "भगवान खुद को इंसान के रूप में सामने लाते हैं, न कि 'शक्ति' की तरह। इसलिए हमें भगवान इंसान के रूप में दिखते हैं।"

गौरतलब है कि पोन्नैया को पिछले साल जुलाई में ही तमिलनाडु के मदुरै से गिरफ्तार किया गया था। उन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और अन्य नेताओं के खिलाफ आपत्तिजनक भाषण देने का आरोपी बताया गया था। भाजपा ने इस घटना का जिक्र करते हुए राहुल गांधी को भी घेरा। भाजपा के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने कहा कि अगर विवादास्पद पादरी, जो कि बहुसंख्यकों के लिए गलत बयानबाजी के लिए जाना जाता है, से मिलना राहुल गांधी का भारत जोड़ो का विचार है, तो यह यात्रा नहीं ढोंग है। हालांकि, कांग्रेस ने भाजपा के इन आरोपों को बकवास करार दिया था। 

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान विवादित पादरी जॉर्ज पोन्नैया से भी मिले थे राहुल गांधी।
भारत जोड़ो यात्रा के दौरान विवादित पादरी जॉर्ज पोन्नैया से भी मिले थे राहुल गांधी। - फोटो : Amar Ujala
4. राहुल की ब्रांडेड टी-शर्ट पर विवाद
तमिलनाडु के कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा शुरू करने के ठीक बाद ही भाजपा ने राहुल गांधी पर हमले शुरू कर दिए थे। इनमें पहला हमला कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष की टी-शर्ट से जुड़ा था। भाजपा ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी पैदल यात्रा के दौरान बरबेरी (Burberry) ब्रांड की टी-शर्ट पहनकर घूम रहे हैं, जिसकी कीमत 41 हजार रुपये है। भाजपा की तरफ से टीशर्ट का मुद्दा उठाने के बाद राहुल की घड़ी और उनके जूतों को लेकर भी विवाद उठा। 

यहां तक कि खुद गृह मंत्री अमित शाह तक ने राजस्थान में एक रैली के दौरान कहा कि राहुल बाबा विदेशी टी-शर्ट पहनकर भारत जोड़ने निकले हैं। हालांकि, कांग्रेस ने इन आरोपों पर पलटवार करते हुए भाजपा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 10 लाख के सूट की याद दिलाई थी। कांग्रेस ने कहा था कि भाजपा को ऐसी बचकानी बातों से बचना चाहिए। 

राहुल गांधी के बरबेरी टीशर्ट पहनने पर उठा विवाद।
राहुल गांधी के बरबेरी टीशर्ट पहनने पर उठा विवाद। - फोटो : Social Media
5. विवेकानंद की मूर्ति के दर्शन पर
राहुल गांधी जब कन्याकुमारी से यात्रा की शुरुआत कर रहे थे, तब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने आरोप लगाया था कि भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत करने से पहले राहुल गांधी ने स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को श्रद्धांजलि नहीं दी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि यह भारत को जोड़ने की यात्रा है। तो कम से कम इतने बेशर्म तो मत बनिए कि स्वामी विवेकानंद को ही भूल जाएं। हालांकि, बाद में कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने एक ट्वीट शेयर कर राहुल के स्वामी विवेकानंद के दर्शन करने और उन्हें श्रद्धांजलि देने के सबूत साझा किए, बल्कि स्मृति की हरकत को बचकाना तक करार दे दिया। 

6. सब्जीवालों से चंदे की वसूली पर
भारत जोड़ो यात्रा के साथ केरल के कोल्लम में विवाद तब जुड़ा, जब पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं पर रास्ते में खड़े सब्जीवालों से जबरन चंदा वसूलने का आरोप लगा। यहां दुकानदारों ने आरोप लगाया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने 2000 रुपये की मांग करते हुए धमकी तक दे डाली। सब्जीवाले का कहना था कि जब उसने 500 रुपये का चंदा दिया, तो कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उसकी दुकान में तोड़फोड़ की। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ। बाद में केरल कांग्रेस के अध्यक्ष के सुधाकरन ने तीन पार्टी कार्यकर्ताओं की सदस्यता को रद्द कर दिया था। इस पूरे मामले को लेकर भी भाजपा और लेफ्ट पार्टी ने कांग्रेस को जबरदस्त तरह से घेरा।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00