लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Rajnath Singh says Shipyard important contribution in strengthening the economic condition of the country

Navy: शिपयार्ड में बीते साल उत्पादन 8925 करोड़ के पार; बंगाल क्षेत्र को मिलेंगे दो नए फास्ट इंटरसेप्टर जहाज

एजेंसी, मुंबई। Published by: Jeet Kumar Updated Fri, 02 Dec 2022 09:34 PM IST
सार

राजनाथ सिंह ने शिपयार्ड उद्योग से स्वदेशी होने का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाले समय में न सिर्फ घरेलू जरूरतें पूरी करनी होंगी बल्कि निर्यात ऑर्डर भी प्रतिस्पर्धी आधार पर हासिल करने होंगे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह - फोटो : Twitter

विस्तार

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश के सागरी सीमा को सुरक्षित करने के लिए स्वदेशी अत्याधुनिक जहाज और शस्त्रों का निर्माण की आवश्यकता पर जोर दिया है। मुंबई में डिफेंस रक्षा शिपयार्ड पर रक्षा मंत्रालय की सलाहकार समिति की बैठक को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि समुद्री सुरक्षा के साथ ही देश की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में भी शिपयार्ड का महत्वपूर्ण योगदान है। शिपयार्ड ने खुद की भी आर्थिक स्थिति मजबूत की है। साल 2021 के दौरान 8925 करोड़ मूल्य के जहाजों का उत्पादन किया और कर अदायगी के बाद 927 करोड़ रूपए का मुनाफा हुआ। 



राजनाथ सिंह ने शिपयार्ड उद्योग से स्वदेशी होने का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाले समय में न सिर्फ घरेलू जरूरतें पूरी करनी होंगी बल्कि निर्यात ऑर्डर भी प्रतिस्पर्धी आधार पर हासिल करने होंगे। रक्षा मंत्री ने कहा कि शिपयार्ड के शीर्ष प्रबंधन ने प्रतिस्पर्धी माहौल को अच्छी तरह समझा है। मुझे उम्मीद है कि अपने आप को बदलते हुए परिवेश में ढालने की कोशिश जारी रख कर सफलता हासिल करेंगे। आगे कहा कि नौसेना और तटरक्षक बल की मजबूती तभी संभव है, जब हम उन्हें अत्याधुनिक जहाज एवं हथियारों दिए जाए। इस दिशा में हमारे शिपयार्ड अहम भूमिका निभा रहे हैं।


केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि मुंबई स्थित डिफेंस शिपयार्ड नौसेना और कोस्ट गार्ड को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शिपयार्ड न केवल समय पर डिलीवरी सुनिश्चित करता है बल्कि सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली सामग्री भी उपलब्ध कराता है। उन्होंने कहा कि रक्षा शिपयार्ड राष्ट्रीय सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए भारतीय नौसेना और तटरक्षक बल को लगातार मजबूत कर रहा है। 14 अगस्त 2020 को स्वदेशीकरण को प्रोत्साहन देने के लिए सृजन पोर्टल शुरू किया गया। 

30 सितंबर 2022 तक इस सृजन पोर्टल में शिपयार्ड के 783 आइटम है जो पहले स्वदेशी डीलर उपलब्ध न होने की वजह से आयात किए गए थे। शिपयार्ड इस सूची की 73 वस्तुओं का स्वदेशीकरण करने में सफल रहा है। शेष वस्तुओं का निजी उद्योगों के सहयोग से स्वदेशी करण करने के प्रयास प्रगति पर है। राजनाथ सिंह ने कहा कि इस तरह डिफेंस शिपयार्ड ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को भी साकार किया है।

नौसेना के बंगाल क्षेत्र में शामिल होंगे दो नए फास्ट इंटरसेप्टर जहाज
नौसेना के बंगाल क्षेत्र में दो नए फास्ट इंटरसेप्टर जहाज (टी-323 और टी-324) शामिल किए जाएंगे। इसके बाद कोलकाता में जहाजी बेड़ों की कुल संख्या आठ हो जाएगी। इन जहाजों को हुगली नदी में तैनात किया जाएगा। यह जानकारी नौसेना अधिकारी (एनओआईसी) कमोडोर ऋतुराज साहू ने नौसेना के बंगाल क्षेत्र आधार मुख्यालय आईएनएस नेताजी सुभाष में एक संवाददाता सम्मेलन में दी। 

उन्होंने कहा कि ये जहाज नौसेना के पूर्वी कमान मुख्यालय, विशाखापत्तनम से लाए जाएंगे। नौसेना के बंगाल क्षेत्र में चार अन्य सक्षम गश्ती विमान मौजूद हैं। भारतीय नौसेना दिवस 4 दिसंबर को 'ऑपरेशन ट्राइडेंट' की सफलता के उपलक्ष्य में 51वां यादगार दिवस मनाएगी। इसके तहत 1971 में भारतीय नौसेना ने नौकाओं से पाकिस्तान के नौसैनिक युद्धपोतों और कराची बंदरगाह पर विनाशकारी हमले किए थे।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00