Hindi News ›   Rajasthan ›   Jaipur ›   Child labours freed from bangles factory in jaipur

चूड़ी बनाने के कारखाने से बाल मजदूरों को मुक्त करवाया 

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर  Updated Wed, 17 May 2017 05:08 PM IST
ह्यूमन ट्रैफिकिंग
ह्यूमन ट्रैफिकिंग - फोटो : File photo
विज्ञापन
ख़बर सुनें
जयपुर पुलिस कमिश्नरेट के नार्थ जिले की मानव तस्करी रोधी सेल ने बुधवार को कार्रवाई कर चूड़ी बनाने के कारखाने से तीन बाल मजदूरों को मुक्त करवाया।
विज्ञापन


एडिशनल एसपी राजेश मील ने बताया कि यह कार्रवाई यूनिट के प्रभारी पुलिस निरीक्षक सुरेशचन्द के नेतृत्व में कांस्टेबल अरविन्द कुमार की सूचना पर मानव रोधी तस्करी टीम व बचपन बचाओ आन्दोलन के देशराज सिंह की संयुक्त टीम ने की। 

जानकारी के अनुसार कांस्टेबल अरविंद कुमावत को सूचना मिली थी कि विद्याधर नगर इलाके की जेपी कॉलोनी सेक्टर 32 स्थित एक मकान में चूड़ी बनाने का कारखाना चल रहा है। जिसमें बिहार व यूपी से लाए गए मासूम बच्चों से जबरन काम करवाया जाता है। इस पर टीम ने मकान पर छापा मारा। वहां तीन नाबालिग बाल श्रमिक मिले। जिन्हें मुक्त करवाकर चाइल्ड हैल्प लाइन को सौंपा गया। 


मामले में पुलिस ने कारखाना संचालक राजेश चौधरी को मौके से ही गिरफ्त में ले लिया। जबकि दूसरे आरोपी संचालक विनोद चौधरी मौके पर नहीं मिला। उसकी तलाश की जा रही है। ये दोनों मासूम बच्चों से कारखाने में चूड़ियों में नग लगवाने का काम करवाते है। पुलिस केस दर्ज कर पड़ताल कर रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00